ENGLISH HINDI Thursday, January 28, 2021
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
एसबीपी हाउसिंग प्रोजेक्ट के आनंद टावर की नौवीं मंजिल में लगी आग मां भारती के पाठ के पश्चात कांग्रेस पूर्वांचल सेल ने लहराया तिरंगागणतन्त्र दिवस पर केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो के 30 अधिकारियों व कार्मिकों को विशिष्ट सेवा तथा सराहनीय सेवा पदक30,000 रु. की कथित धूसखोरी मामले में क्षेत्रीय श्रम आयुक्त तथा एक व्यक्ति गिरफ्तारध्वजारोहण करने बरनाला पहुंचे स्वास्थय मंत्री सिद्धू को दिखाये काले झंडेदिल्ली में कुछ अराजक तत्वों द्वारा हिंसा असहनीय, किसानों को दिल्ली की सरहदों पर लौटने की अपीलसीटीयू वार्षिक चुनाव : रेल इंजन पैनल ने शेर पार्टी को करारी शिकस्त दी धरमिंदर सिंह राही बने प्रधानचंडीगढ़ ट्रैफिक पुलिस और ओंकार चैरिटेबल ट्रस्ट ने चलाया ट्रैफिक रूल्स एंड रेगुलेशन अवेयरनेस ड्राइव
पंजाब

गड़बड़झाला: दवा के नाम पर प्रशासन की आंखों में धूल झौंक रहे नगर परिषद अधिकारी व ठेकेदार

March 31, 2020 08:58 PM

बरनाला, अखिलेश बंसल /करन अवतार:
विश्व में कोरोना वायरस (कोविड-19) की महामारी का प्रोकोप है। हजारों की संख्या में लोग मर चुके हैं, लाखों की संख्या में संक्रमित हैं, करोड़ों केस विचाराधीन हैं। यह जानते हुए भी पंजाब के जिला बरनाला के नगर काउंसिल अधिकारी व ठेकेदार अपनी मनमर्जी करते आ रहे हैं। कागजी कार्यवाही पूरी करने के लिए दवा छिडक़ाव करने के समय समाचार पत्रों की मुख्य सुर्खियां बनने के लिए फोटो में प्रशासनिक अधिकारियों को साथ शामिल कर रहे हैं। गौरतलब है कि गत करीब दो महीने पहले डेंगू की बीमारी फैलने के वक्त पीडित रहे जिला बरनाला के तकरीबन 90 फीसदी लोगों को देखने के बावजूद नगर काउंसिल की ओर से फॉगिंग करने का नाटक किया जा चुका है। जिससे प्रशासनिक अधिकारी बेखबर हैं।
शहर को भेंट हो रही मिलावटी फॉगिंग:
कोरोना वायरस से अपने-अपने क्षेत्र को दूर रखने के लिए नगर काउंसिलों को सोडियम हाइपो-कलोराईट दवा छिडक़ाव करने के आदेश हैं। बरनाला शहर के अंदर गत कुछ दिनों से नगर काउंसिल की ओर से किये जा रहे दवा के छिडक़ाव में गड़बड़ी होने का खुल्लासा मंगलवार को उस समय हुआ जब जिला प्रशासनिक परिसर में किए गए छिडक़ाव की दवा शाम होने तक नाक को महसूस होती रही, जबकि शहर के अंदर जहां भी कहीं फॉगिंग की गई वहां एक मिनट भी छिडक़ाव की महक या बदबू महसूस नहीं हुई।
फोटो में शामिल कर रहे प्रशासनिक अधिकारियों को:
नगर काउंसिल बरनाला की ओर से अपनी दफ्तरी कागजी कार्यवाही पूरी करने के लिए और मीडिया की सुर्खियां बनने के लिए दवा छिडक़ाव करते समय प्रशासनिक अधिकारियों के साथ फोटो खिंचवा रहे हैं। मंगलवार की दोपहर नगर काउंसिल के ईओ. और ठेकेदार ने टीम को साथ लेकर शहर की गोबिंद कोलोनी के शुरुआती भाग में छिडक़ाव किया। वहां शहर की बढिय़ा लोकेशन देखकर उपमंडलाधिकारी को भी बुलाया गया। उनके साथ फोटो खींचवा कर पूरे मीडिया के पास कवरेज के लिए भेज दी गईं।
पहले हो चुकी फर्जी फॉगिग...?
पिछले करीब दो महीने पहले ही प्रदेश के मालवा में डेंगू का प्रकोप हुआ। उस वक्त डेंगू बीमारी फैलने के मौके बरनाला जिला तकरीबन 90 फीसद पीडि़त रहा। पीडि़त लोगों के कहने के बाद नगर काउंसिल की तरफ से फॉगिंग तो कर दी गई परन्तु केवल नाटकीय साबित हुई। जिसको लेकर बरनाला के एक आरटीआई कार्यकर्ता ने प्रांत के सेहत विभाग को पत्र लिखा था। जिसमें डेंगू बीमारी के लिए नगर काउंसिल दफ्तर बरनाला की तरफ से मई-2017 से नवंबर-2017 तक का, मार्च-2018 से दिसंबर-2018 तक और अप्रैल-2018 से अक्तूबर-2019 तक की मांगी गई जानकारी के आंकड़े शामिल किए थे। बताया गया है कि बीमारी तो खत्म होनी दूर की बात शहर के अंदर की गई फॉगिंग से एक भी मच्छर नहीं मर सका। परन्तु नगर काउंसिल की ओर से दिखाई गई कागजी कार्यवाही में इस समय के दौरान 10 हजार लीटर डीजल, करीब पौने सात सो लीटर पेट्रोल और फॉगिंग मशीन की रिपेयर पर हजारों का खर्चा दिखाया दिया। आरटीआई कार्यकर्ता की तरफ से लॉग-बुक्क में शामिल किए विवरण को फर्जी भी करार दिया है।
डेंगू की जांच रिपोर्ट उधेड़ेगी पेच:
विश्वसनीय सूत्रों से पता लगा है कि प्रदेश के सेहत विभाग की ओर से डेंगू के फैलने के कारणों और प्रभावित रहे जिलों में रही कमियां और नगर कौंसिल व सेहत विभाग के अधिकारियों की ओर से तत्कालीन किये गए प्रबंधों के दावों की जांच अभी विचाराधीन है।
यह कहते हैं अधिकारी-
एसडीएम बरनाला अनमोल सिंह का कहना है कि वह इस बारे में जांच करेंगे। फॉगिंग में दवा व पानी के मापदंड अगर पूरे साबित नहीं हुए तो किसी को भी बक्शा नहीं जाएगा।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
एसबीपी हाउसिंग प्रोजेक्ट के आनंद टावर की नौवीं मंजिल में लगी आग ध्वजारोहण करने बरनाला पहुंचे स्वास्थय मंत्री सिद्धू को दिखाये काले झंडे जीरकपुर नगर परिषद चुनाव: बलटाना के वार्ड नंबर 31 से नीतू चौधरी ने गाड़े झंडे नैशनल शेड्यूल्ड कास्टस एलायंस और दलित संघर्ष मोर्चा ने कैप्टन सरकार के अड़ियल व्यवहार के खिलाफ दलित महापंचायत बुलाने का निर्णय प्रतिबंधित चायना डोर बेचने जा रहा व्यक्ति काबू, डोर के 110 गट्टू बरामद सवाल: ‘केंद्र सरकार खेती कानून रद्द क्यों नहीं करती?’ केंद्र की जि़द्द अमानवीय: कैप्टन डेराबस्सी में वर्ल्ड फ्लू ने दी दस्तक गणतंत्रता दिवस पर सुरक्षा को लेकर महिला पुलिस फ्रंटलाईन पर ‘आप’ ने 26 जनवरी के ‘किसान ट्रैक्टर परेड’ के समर्थन का किया ऐलान आप प्रतिनिधिमंडल निकाय चुनाव को लेकर राज्य चुनाव आयुक्त से मिला