ENGLISH HINDI Wednesday, June 03, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
कांग्रेसी नेता के पुत्र की मौत पर शोक की लहर, अंतिम संस्कार हिमाचल: पश्मीना उत्पाद को बढ़ावाअधिकारियों/कर्मचारियों की तरक्की जल्द करने के आदेशकोविड संकट दौरान सिविल डिफेंस द्वारा जरूरतमन्दों को दवाएं पहुंचाने का सिलसिला जारीहाईकोर्ट की निगरानी में न्यायिक आयोग करे पिछले 13 वर्षों के कृषि घोटाले की जांच: चीमाफर्जीवाड़ा: विश्व तंबाकू विरोधी दिवस मनाने का लैक्चर दिया और फुर्रर हो गए सेहत अधिकारीसोना लूटने वाला सरगना पंजाब पुलिस की वर्दी, नकली आईडी, चीनी पिस्तौल सहित काबूलॉकडाउन खुलते ही फर्नीचर मार्केट मार्ग पर बेतरतीब खड़ी गाड़ियों से जाम में फंसते लोग
राष्ट्रीय

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन का जन्म रिकार्ड ठीक करने सम्बन्धी संशोधित निर्देश जारी

April 07, 2020 07:06 PM

चंडीगढ, संजय मिश्रा:
COVID-19 लॉक डाउन में पी एफ के मेम्बर्स को आर्थिक तंगी से बचाने के लिए कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने पीएफ सदस्यों को अपने जन्म रिकार्ड ठीक करने की सुविधा सम्बन्धी संशोधित निर्देश जारी किए हैं। इस महामारी के समय अपने ऑनलाइन सेवाओं की उपलब्धता और पहुंच को विस्तार देने के उद्देश्य से ईपीएफओ ने रविवार को पीएफ सदस्यों को उनके ईपीएफओ रिकॉर्ड में दर्ज जन्म तिथि को सही कराने के लिए मेम्बर्स के आधार में वर्णित जन्मतिथि को स्वीकार करने की बात कही है बशर्ते कि यह भिन्नता तीन साल से कम की हो, ये बदलाव ऑनलाइन सदस्यों की जन्म तिथि को सत्यापित करने में सक्षम बनाएगा और बदलाव आग्रहों के अधिप्रमाणन और प्रोसेसिंग समय में कमी लाएगा।
ज्ञात हो कि इसके पहले मेम्बर्स के जन्म तिथि में शुद्धिकरण के आवेदन में आधार तभी स्वीकार की जाती थी अगर भिन्नता एक साल या उससे कम हो।
ईपीएफओ ने कोविड-19 महामारी पर काबू पाने में अपने पीएफ संचयों से गैर वापसी योग्य अग्रिम का लाभ उठाने के लिए ऑनलाइन आग्रह करने में वित्तीय संकटग्रस्त पीएफ सदस्यों को सक्षम बनाते हुए अपने फील्ड अधिकारियों को ऑनलाइन आग्रहों के निपटान में तेजी लाने को कहा है। जन्म तिथि के रिकार्ड को ठीक करने की सुविधा प्रदान करने के लिए अपने फील्ड अधिकारियों को संशोधित निर्देश जारी किए हैं ताकि उनका यूएएन केवाईसी मुकम्मल हो सके और पीएफ अभिदाता शुद्धिकरण के आग्रहों को ऑनलाइन जमा कर सके।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
जेसिका लाल हत्याकांड: जेल में अच्छे व्यवहार के चलते सिद्धार्थ शर्मा उर्फ मनु रिहा मॉनसून ऋतु (जून–सितम्बर) की वर्षा दीर्घावधि औसत के 96 से 104 प्रतिशत होने की संभावना अनलॉक-1 के नाम से देश में 30 जून तक लॉकडाउन 5 लागू, क्या-क्या खुलेगा, किस पर रहेगी पाबंदी आखिर क्यों नहीं पीएमओ पीएम केयर फंड आरटीआई के दायरे में ? कितनी गहरी हैं सनातन संस्कृति की जड़ें कोरोना से युद्ध में रणनीति और वैज्ञानिक दृष्टिकोण का अभाव सीआईपीईटी केंद्रों ने कोरोना से निपटने के लिए सुरक्षात्मक उपकरण के रूप में फेस शील्ड विकसित किया एन.एस.यू.आई. ने छात्रों को एक-बार छूट देकर उत्तीर्ण करने का किया आग्रह एम्स ऋषिकेश में कोविड पॉजिटिव चार अन्य मामले सामने आए एम्स ऋषिकेश में कोविड पॉजिटिव के पांच नए मामले सामने आए