ENGLISH HINDI Saturday, May 30, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
पंजाब विजीलैंस ब्यूरो द्वारा 8 अधिकारियों और कर्मचारियों को दी गई सामान्य विदाईपरिवहन साधनों द्वारा पंजाब में आने वालों के लिए दिशा-निर्देश जारीपंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड ने घोषित किया पाँचवी, आठवीं और दसवीं कक्षा का परिणामपंजाब के ब्राह्मणों ने की अल्पसंख्यक में शामिल करने की मांगकोरोना से युद्ध में रणनीति और वैज्ञानिक दृष्टिकोण का अभावलाॅकडाउन में विभिन्न हेल्पलाइन नम्बरों से लोगों को मिली राहतशिक्षा विभाग में ठेके पर काम करते 496 कर्मियों के कार्यकाल में साल की वृद्धि को मंज़ूरीअध्यापक के 12 वर्षीय गुमशुदा लड़के की वापसी के लिए उपायुक्त ने लखनऊ भेजी कार, दो महीने बाद परिवार से मिला बच्चा
पंजाब

मगनरेगा कामगारों को 92 करोड़ रुपए की बकाया राशि की अदायगी

April 10, 2020 05:58 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
पंजाब के ग्रामीण विकास एवं पंचायत विभाग द्वारा मगनरेगा स्कीम के अंतर्गत काम करने वाले राज्य के एक लाख छत्तीस हज़ार कामगारों को सात अप्रैल तक का बनता सारा मेहनताना की 92 करोड़ रुपए की राशि कल उनके बैंक खातों में डाल दी गई है जिससे इस संकट के दौर में उनको अपना घर चलाने में मदद मिल सके।
ग्रामीण विकास एवं पंचायत विभाग के मंत्री तृप्त राजिन्दर बाजवा ने यह जानकारी देते हुए बताया कि विभाग द्वारा पिछले दिनों किए गए यत्नों के स्वरूप केंद्र सरकार से इस स्कीम के अंतर्गत 226 करोड़ रुपए हासिल किए गए थे। उन्होंने बताया कि इस रकम को हासिल करने से विभाग पिछली अदायगियाँ करने के साथ-साथ आने वाले चार महीनों में मगनरेगा स्कीम के अंतर्गत काम करने वाले कामगारों को उनके मेहनताने समय पर देने में समर्थ हो गया है।
श्री बाजवा ने कहा कि उन्होंने विभाग के अधिकारियों को स्पष्ट हिदायतें दीं हैं कि मगनरेगा स्कीम, इस संकट के समय में गरीब वर्ग को बहुत बड़ी राहत दे सकती है, इसलिए इस स्कीम के अंतर्गत अधिक से अधिक कामगारों को अधिक से अधिक काम दिया जाये। उन्होंने बताया कि विभाग को यह भी यकीनी बनाने के लिए कहा गया है कि मगनरेगा कामगारों को हर 15 दिनों के बाद बिना देरी के मेहनताना मिलता रहे।
यहाँ यह वर्णनयोग्य है कि मगनरेगा स्कीम के अंतर्गत राज्य में कुल 28.23 लाख कामगार रजिस्टर्ड हैं जिनको साल में एक सौ दिन का रोज़गार मुहैया करवाया जा सकता है। इनमें से 28.23 लाख कामगार इस स्कीम में सक्रिय हैं। पंजाब में मगनरेगा कामगारों को मेहनताना इस अप्रैल महीने से बढ़ाकर 263 रुपए हो गया है।
पंचायत मंत्री ने यह भी बताया कि विभाग ने कल ज़िला परिषदों और पंचायत कमेटियों के मुलाज़िमों को पिछले साल अक्तूबर से लेकर इस साल के मार्च महीने तक के वेतनों की अदायगी कर दी गई है। उन्होंने कहा कि ज़िला परिषदों और पंचायत कमेटियों के सेवामुक्त मुलाज़िमों की फरवरी और मार्च महीने की बकाया पैंशनें भी अदा कर दीं गईं हैं। श्री बाजवा ने भरोसा दिया कि अब से मुलाज़िमों को वेतनों और पैंशनों की अदायगी समय पर होती रहेगी।
पंचायत मंत्री ने विभाग के अधिकारियों और मुलाज़िमों द्वारा पंजाब सरकार की तरफ से कोरोना वायरस के विरुद्ध लड़ी जा रही जंग में अगली कतार में रह कर दिए जा रहे योगदान की सराहना की। उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा ग्रामीण इलाकों में चलाईं जा रही स्वास्थ्य संस्थाओं के डाॅक्टर और पैरा-मैडीकल स्टाफ, स्वास्थ्य विभाग के साथ कंधेे से कंधा मिलाकर काम कर रहा है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
पंजाब विजीलैंस ब्यूरो द्वारा 8 अधिकारियों और कर्मचारियों को दी गई सामान्य विदाई परिवहन साधनों द्वारा पंजाब में आने वालों के लिए दिशा-निर्देश जारी पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड ने घोषित किया पाँचवी, आठवीं और दसवीं कक्षा का परिणाम पंजाब के ब्राह्मणों ने की अल्पसंख्यक में शामिल करने की मांग शिक्षा विभाग में ठेके पर काम करते 496 कर्मियों के कार्यकाल में साल की वृद्धि को मंज़ूरी अध्यापक के 12 वर्षीय गुमशुदा लड़के की वापसी के लिए उपायुक्त ने लखनऊ भेजी कार, दो महीने बाद परिवार से मिला बच्चा जुर्माने में भारी वृद्धि: अब सार्वजनिक स्थानों पर मास्क न पहनने पर होगा 500 रुपए का जुर्माना बीज घोटाला: सीबीआई से जांच के डर से राज्यभर के सीइएओ ने बीज की दुकानों पर दौड़ाई टीमें रेलगाडिय़ों से यात्रा करने वालों के लिए दिशा-निर्देश जारी सामाजिक सुरक्षा विभाग में 94 सुपरवाइजऱ पदों के नतीजों का एलान