ENGLISH HINDI Friday, August 07, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
रेहड़ी—फड़ी वालों ने कब्जा कर लोगों के लिए की परेशानी खड़ी, ना मास्क— ना ही सोशल डिस्टेंसिंगभाजपाइयों द्वारा कोविड नियमों की अवेहलना करने पर ग्रह मंत्रायल से की शिकायतस्वतंत्रता दिवस पर देखो अपना देश वेबिनार श्रृंखला के अंतर्गत पांच वेबिनारों का आयोजनजिन विक्रेताओं के पास पहचान पत्र और विक्रय प्रमाणपत्र नहीं, उन्हें पीएम स्वनिधि योजना में शामिल करने हेतु अनुशंसा पत्र मॉड्यूल लॉन्चजो पढ़ेगा वो लिखेगा, जो लिखेगा वो बचेगागर्भवती महिला कर्मचारियों को कार्यालय में उपस्थिती से छूट, घर से कार्य करने की अनुमति सीचेवाल मॉडल की तर्ज पर 15 गांवों की नुहार बदलने का लक्ष्यमेडीकल अधिकारियों के 323 पदों के लिए इंटरव्यू द्वारा की जायेगी भर्ती
धर्म

संत निरंकारी मिशन ने संभाली जरूरतमंदों को घर बैठे राशन सामग्री पहुंचाने की कमान

April 15, 2020 04:55 PM

बरनाला, अखिलेश बंसल:
वैश्विक महामारी कारोना वाइरस (कविड-19) में संत निरंकारी मिश्न ने जरूरतमंदों को घर बैठे राशन सामग्री पहुंचाने की कमान संभाल ली है। भारतवर्ष में स्थापित मिश्न के 95 जोन एवं 3000 से अधिक शाखाओं को खाद्य सामग्री एवं भोजन वितरण का सेवा कार्यभार सौंपा गया है। जिसके लिए निरंकारी मिश्न से जुड़े लाखों श्रद्धालू व सेवादल के स्वयंसेवकों ने सूखा राशन व लंगर प्रबंध करना शुरु कर दिया है। गौरतलब हो कि संत निरंकारी मिश्न द्वारा महामारी से निपटने के लिए इससे पहले प्रधानमंत्री राहत कोष में 5 करोड़ रुपए की राषि एवं हरियाणा, पंजाब, उत्तराखंड और महाराष्ट्र प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों के राहत कोष में 50-50 लाख की आर्थिक मदद जमा करवाई जा चुकी है।
जानकारी देते संत निरंकारी मिश्न के बरनाला शाखा संजोयक जीवन गोयल ने बताया कि माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने और सभी संबंधित मुख्यमंत्रियों ने ट्वीट के माध्यम से मिश्न के योगदान की प्रशंसा की है। उन्होंने बताया कि 24 मार्च 2020 को जैसे ही भारत के प्रधानमंत्री ने देशभर में तालाबंदी की घोषणा की, संत निरंकारी मिश्न ने उसी वक्त जरूरतमन्द परिवारों के लिए जीवनावश्यक खाद्य पदार्थ उपलब्ध करवाने का निर्णय ले लिया था।
उन्होंने बताया कि संत निरंकारी मिशन आध्यात्मिक जागरुकता के अपने मूल विचारधारा के साथ पिछले 90 वर्षों से समाज के सामाजिक उत्थान, राहत और पुनर्वास में योगदान दे रहा है। संत निरंकारी चेरीटेबल फाउंडेशन द्वारा कोरोना वायरस संदिग्धों व संक्रमितों को बचाने में लगे हुए डॉक्टरों व मेडीकल संबंधित स्टाफ के लिए दिल्ली सरकार को 10 हजार पीपीई किटें भी दी गई हैं।
संत मिश्न ने बताया मानवता को ईश्वर की पूजा:
मानवता एवं बेसहारा पशुओं की सेवा ही परमपिता प्रमात्मा की पूजा है, इस लक्ष्य को लेकर चले संत निरंकारी मिश्न के सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज ने कहा है कि कारोना वाइरस (कविड-19) के संकट को मानवता की सेवा करने से टाला जा सकता है। विश्व में रहने वाला हर प्राणी अपना है और उनकी सेवा कर हम किसी पर अहसान नही कर रहें हैं। निरंकारी मिश्न देश के हर दुख-सुख के साथ खड़े होने पर वचनबद्ध है। वैश्विक महामारी के वक्त स्वास्थ्य एजेंसियों एवं सरकारी निर्देशों (सोशल डिस्टेंस, मुंह पर मास्क, हाथों में ग्लॉव्ज, सेनिटाइजर) का पालन करना हर एक का फर्ज है।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और धर्म ख़बरें
नागपंचमी पर श्री शिव खेड़ा मंदिर में कोरोना महामारी के प्रकोप से मुक्ति के लिए विशेष पूजन स्वयं को सशक्त कर बाह्य परिस्थितयों पर कर सकते है विजय प्राप्त कोरोना से बचाव का फार्मूला: जलाभिषेक करना है तो लोटा घर से लाना होगा चंडीगढ़ के मंदिर दिखे सुनसान ..... विशाल साईं भजन संध्या का आयोजन कैंम्बवाला गौशाला में गौभक्तों ने महाशिवरात्रि पर किया शिवपूजन महाशिवरात्रि पर्व: शिव खेड़ा मंदिर में लगा शिव भक्तों का तांता सेक्टर 24 मार्किट वेलफेयर एसोसिएशन ने लगाया लंगर प्रसाद: चना-पूरी और खीर का भोले भक्तों में बांटा प्रसाद महाशिवरात्रि पर्व: लक्ष्य ज्योतिष संस्थान ने लगाया लंगर: 24 प्रकार के व्यंजन शिव भक्तों में प्रसाद स्वरूप किये वितरित श्रीसालासर बालाजी परिवार की मूर्तियो का विधिवत रूप से श्री सनातन धर्म मंदिर सेक्टर-32 में प्राण प्रतिष्ठा कर स्थापित की गई