ENGLISH HINDI Saturday, September 26, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
अबोहर तस्वीर के सम्पादक राजेश सचदेवा को भार्याशोककिसानों के गुस्से के आगे सिवल-पुलिस प्रशासन की हुई बस, व्यापारी डराकिसान आक्रोष: डेराबस्सी में जाम किया गया चंडीगढ़ दिल्ली हाईवेभारत में हर वर्ष मुंह के कैंसर के सवा लाख नए केस, मुंह के कैंसर के 80 प्रतिशत केसों का कारण तंबाकू: डा. राजन साहूडेराबस्सी में निर्माणाधीन दो मंजिला बिल्डिंग धराशाही, चार की मौत मुख्यमंत्री का निजी सहायक बनकर अधिकारियों और अन्यों को धोखा देने वाला सिपाही गिरफ्तारहरियाणा: पुलिस ने 3 बच्चों सहित चार लापता को परिवार से मिलवायाछात्रवृति योजनाओं की ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 30 नवम्बर
राष्ट्रीय

नशा छुड़ाओ और मनोरोग चिकित्सा विंग कैंटोनमेंट बोर्ड के अस्पताल में शिफ्ट, वहीं मिलेगा इलाज

May 10, 2020 07:05 PM

फिरोजपुर, मनीष: सिविल अस्पताल के नशा छुड़ाओ और मनोरोग चिकित्सा के विंग को कैंटोनमेंट बोर्ड के अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया है। 11 मई 2020 को सुबह 8 बजे से सिविल अस्पताल के नशा छुड़ाओ केंद्र, ओट्स क्लीनिक, ओएसटी विंग और मनोरोग चिकित्सा विंग से संबंधित सारी सेवाएं अब कैंटोनमेंट बोर्ड के अस्पताल पर ही उपलब्ध होंगी। 

विस्तृत जानकारी देते हुए सिविल सर्जन डॉ. नवदीप सिंह ने बताया कि डिप्टी कमिश्नर फिरोजपुर श्री कुलवंत सिंह के निर्देश पर यह बदलाव किया गया है। कोरोना वायरस के मद्देनजर सिविल अस्पताल में क्राउड मैनेजमेंट को लेकर यह कदम उठाया गया है ताकि अस्पताल में आने वाले दूसरे लोगों का एक अलग जगह पर इलाज किया जा सके।   

कोरोना वायरस के मद्देनजर सिविल अस्पताल में क्राउड मैनेजमेंट को लेकर लिया फैसला

 


सिविल सर्जन ने बताया कि यह सभी विंग सिविल अस्पताल के स्टाफ समेत कैंटोनमेंड बोर्ड के अस्पताल में शिफ्ट किए जा चुके हैं और इन विंग्स से संबंधित इलाज करवाने वाले मरीजों को सोमवार सुबह 8 बजे से इलाज के कैंटोनमैंट बोर्ड के अस्पताल में जाना होगा। इन सभी विंग्स से संबंधित किसी भी मरीज को अब सिविल अस्पताल में नहीं देखा जाएगा। अगले आदेशों तक कैंटोनमेंट बोर्ड के अस्पताल में ही ये सभी सेवाएं मिलती रहेंगी।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
‘आनन्द वन’ का लोकापर्ण, हल्द्वानी और ऋषिकेश में बनाये जा रहे हैं थीम बेस्ड सिटी पार्क कोरोना पॉजिटिव आने से विधानसभा अध्यक्ष नहीं हो पाएंगे सदन में उपस्थित भारतीय रेलवे मना रही है 'स्वच्छता पखवाड़ा' 5 राज्यों का कुल सक्रिय मामले 60 फीसदी, नए मामले 52 फीसदी और रिकवरी दर 60 फीसदी जम्मू कश्मीर को फिर से धरती का स्वर्ग और भारत माता के मुकुट की मणि बनाएँ: राष्ट्रपति कोविन्द कृषि विधेयक परित होने पर प्रधानमंत्री ने कहा, 'बधाई हो' सुशासन और जीरो टाॅलरेंस आन करप्शन सरकार की प्राथमिकता मुख्यमंत्री रावत वो यात्रा जो सफलता से अधिक संघर्ष बयाँ करती है एम्स हैलीपैड परकिसी भी हिस्से से आने वाली हैलीसेवा की लैंडिंग संभव कोविड 19 से औद्योगिक गतिविधियां प्रभावित, नई संभावनाएं भी विकसित हुईः मुख्यमंत्री