ENGLISH HINDI Thursday, May 28, 2020
Follow us on
 
हिमाचल प्रदेश

गूगल मैप से कंटेनमैंट जोन की जानकारी आमजन तक पहुॅंचाने में कांगड़ा ने मारी बाजी

May 14, 2020 08:07 AM

धर्मशाला, (विजयेन्दर शर्मा) प्रदेशभर में कांगड़ा जिला में सर्वप्रथम ई-पास सर्विस मुहैया करवाने के बाद जिला प्रशासन ने एक बार पुनः कोविड-19 से सम्बन्धित जानकारी को तकनीकी उपकरणों के उपयोग के माध्यम से आम जन तक आसानी से पहुॅंचाने में बाजी मारी है। कांगड़ा प्रशासन ने कोविड-19 से सम्बन्धित सभी कंटेनमैंट जोन की मैपिंग के बाद उसे गूगल मैप पर उपलब्ध करवाने के बाद उसे जिला वेबसाईट से लिंक कर दिया है।
कांगड़ा जिला प्रशासन द्वारा लोगों को त्वरित अधिकतम राहत पहुॅंचाने हेतु उठाए जा रहे विभिन्न कदमों के बारे में जानकारी देते हुए जिलाधीश राकेश प्रजापति बताते हैं कि कोविड-19 के संक्रमण को सीमित करने के उद्देश्य से कंटेनमैंट जोन की रणनीति बेहद अहम और कारगर है और फिलहाल यह काफी समय तक बनी रहेगी। प्रशासन द्वारा कोविड-19 के नियंत्रण के लिए कंटेनमैंट जोन सेसम्बन्धित हर समय परिवर्तित होने वाले प्रशासनिक उपायों और प्रतिबन्धों की जानकारी में पारदर्शिता बनी रहती है।
भारत सरकार के स्वास्थ्य एवं परिवार मंत्रालय द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के तहत किसी भी क्षेत्र में जहॉं कोविड-19 के पॉजिटिव् मामले सामने आते हैं, को कंटेनमैंट जोन के नाम से परिभाषित किया जाता है। कंटेनमैंट जोन इलाके को पूरी तरह सील कर दिया जाता है और आवश्यक सेवाओं और आपातकालीन मैडिकल परिस्थितियों के अलावा किसी भी प्रकार की आवाजाही पूर्णतया प्रतिबंधित होती है। इस क्षेत्र में तमाम निर्माण गतिविधियों पर पूर्ण विराम लगा दिया जाता है। स्वास्थ्य विभाग कंटेनमैंट जोन में कोविड-19 की रोकथाम के लिए सक्रिय मामलों की पहचान, एसीएफ प्रक्रियाद्ध और स्क्रीनिंग करता है। प्रायः कंटेनमैंट जोन को दो सप्ताह के लिए या स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी एसीएफ प्रक्रिया पूरी होने तक अधिसूचित किया जाता है।
कांगड़ा जिला में कोविड-19 की रोकथाम के लिए वर्तमान में छः सक्रिय कंटेनमैंट जोन अधिसूचित हैं और पूर्व अधिसूचित तीन कंटेनमैंट की अधिसूचना वापिस ले ली गई है। कांगड़ा जिला राज्य में कंटेनमैंट से सम्बन्धित क्षेत्र तथा अधिसूचना की अवधि को आम लोगों तक पहुॅंचाने वाला प्रथम जिला बन गया है। विभिन्न आदेशों की टोकरी से कंटेनमैंट जोन से सम्बन्धित जानकारी को छांटना आम लोगों के लिए कष्टकारक और समय बरबाद करने वाला होता है। पब्लिक डोमेन में आसानी से उपलब्ध होने वाले ऑनलाईन टूल के माध्यम से आम लोगों में आसानी से पहुॅंचाए जा सकते हैं।
जिला प्रशासन की वेबसाईट पर उपलब्ध मैप से सक्रिय जोन को लाल रंग के आइकन जबकि पूर्व कंटेनमैंट जोन, जहॉं संक्रमण पर काबू पा लिया गया है और कोई नया मामला सामने नहीं आया है, को हरे रंग से दर्शाया जाता है। लाल रंग के आइकन को क्लिक करते ही कंटेनमैंट की तमाम जानकारी, जिसमें इलाका और अधिसूचित अवधि शामिल हैं, सामने आ जाते हैं। कांगड़ा जिला प्रशासन इस जानकारी को और अर्थपूर्ण बनाने के लिए कंटेनमैंट जोन और बफर जोन की प्रशासनिक सीमाओं का प्रभावी ढंग से दर्शाने पर कार्य कर रहा है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें