ENGLISH HINDI Thursday, June 04, 2020
Follow us on
 
पंजाब

ऑनलाईन तबादलों संबंधी दिया जा सकेगा 20 से 27 मई तक आवेदन

May 21, 2020 11:15 AM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
पंजाब सरकार द्वारा अध्यापकों और कंप्यूटर फैकल्टी के ऑनलाईन तबादलों सम्बन्धी आवेदन प्राप्त करने की तारीखों का एलान कर दिया गया है।
जानकारी देते हुए शिक्षा विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि तबादले करवाने के इच्छुक अध्यापक और कंप्यूटर फैकल्टी 20 से 27 मई तक अपना डाटा ऑनलाईन अपलोड कर सकते हैं और स्टेशन की चयन के बाद सार्वजनिक सूचना के द्वारा जारी की जाएगी।
प्रवक्ता ने आगे बताया कि अध्यापकों और कंप्यूटर फैकल्टी द्वारा एक बार भरे गए डाटा को 27 मई तक एडिट किया जा सकता है, परन्तु उसके बाद डाटा में कोई भी तबदीली नहीं होगी। अधूरे और गलत विवरण पाए जाने पर तबादले की विनती पर विचार नहीं किया जाएगा।
प्रवक्ता अनुसार विशेष श्रेणी अधीन आवेदन करने वाले अध्यापकों और कंप्यूटर फैकल्टी द्वारा अपनी श्रेणी सम्बन्धी दस्तावेज़ आवेदन पत्र के साथ नत्थी किए जाने ज़रूरी हैं। यह दस्तावेज़ नत्थी न होने की सूरत में तबादले की विनती को विशेष श्रेणी अधीन नहीं माना जाएगा। जिन अध्यापकों और कंप्यूटर फैकल्टी के दस्तावेज़ सही पाए जाएंगे उनके पसंदीदा स्टेशन की माँग की जाएगी। विभिन्न चरणों के तबादलों के लिए अध्यापकों और कंप्यूटर फैकल्टी को बार-बार डाटा नहीं भरना पड़ेगा। यह डाटा केवल 20 से 27 मई के बीच ही भरा जाएगा। पसंदीदा स्टेशन प्राप्त करने के लिए अलग से सूचना जारी की जाएगी।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
कैमिकल फैक्ट्री में बिना मंजूरी खड़ी कर दी तीन मंजिला बिल्डिंग लापरवाही: अस्पताल से रैफर हुई नवजन्मी बच्ची को लिटाया कोरोना सैंपल ले जा रही वैन में कांग्रेसी नेता के पुत्र की मौत पर शोक की लहर, अंतिम संस्कार अधिकारियों/कर्मचारियों की तरक्की जल्द करने के आदेश कोविड संकट दौरान सिविल डिफेंस द्वारा जरूरतमन्दों को दवाएं पहुंचाने का सिलसिला जारी हाईकोर्ट की निगरानी में न्यायिक आयोग करे पिछले 13 वर्षों के कृषि घोटाले की जांच: चीमा फर्जीवाड़ा: विश्व तंबाकू विरोधी दिवस मनाने का लैक्चर दिया और फुर्रर हो गए सेहत अधिकारी सोना लूटने वाला सरगना पंजाब पुलिस की वर्दी, नकली आईडी, चीनी पिस्तौल सहित काबू 10 जून से पहले मुकम्मल हो जायेगी रजबाहों/माईनरों की सफ़ाई शराब पर कोविड सैस लगाकर लेंगे 145 करोड़ रुपए का अतिरिक्त राजस्व