ENGLISH HINDI Thursday, October 01, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
हलवाई अब मिठाई के डिब्बों पर लिखना होगा बेस्ट बिफोर यूज हरियाणा मेें व्यापक प्रशासनिक फेरबदल, विजय वर्धन नए मुख्य सचिव, पाँच आईएएस , 9 एचसीएस अधिकारियों के स्थानांतरण एवं नियुक्ति आदेशश्री गुरू तेग़ बहादुर के 400वें प्रकाश पर्व के मौके पर हर गांव में 400 पौधे लगाने की मुहिम की शुरूहरियाणा की मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा सेवानिवृतमैरिज पैलेस, होटल और रैस्टोरैंट्स की सालाना लाइसेंस फीस व तिमाही अनुमानित फीस माफ को मंज़ूरीट्यूबवेल लगवाने की मांग को लेकर ई.ओ से मिले, आश्वासन मिलने से जगी उम्मीदघरेलू एकांतवास में तकरीबन 47,502 मरीज़ स्वस्थ हुएमोगा में हथियारबंद लुटेरों के ख़तरनाक गिरोह का पर्दाफाश
हिमाचल प्रदेश

कोरोना संक्रमण के खिलाफ डटे स्वच्छता योद्धा

May 22, 2020 06:27 PM

धर्मशाला, (विजयेन्दर शर्मा) कोरोना के खिलाफ जंग में चिकित्सा विभाग, पुलिस विभाग तथा अन्य सभी विभागों के अधिकारी व कर्मचारी योद्धा की तरह अपनी-अपनी अहम भूमिका निभा रहे हैं। इनमें से कुछ ऐसे योद्धा भी हैं जो प्रतिदिन हमारी नजरों के सामने से गुजरते हैं। वे परिश्रम तो कठोर करते है, लेकिन सुर्खियों में कम ही रहते है। इन्हें न खाने की चिंता होती है और न ही घर जाने का कोई समय है। परन्तु यह सब अपनी परेशानी भूलाकर शहर को स्वच्छ व सुन्दर रखते हैं।
जी हां, हम बात कर रहे हैं सफाई कर्मचारियों की। आपदा की इस घड़ी में शहर की हर गली व मोहल्ले को सैनिटाईज व साफ रखना इनकी जिम्मेदारी है, जिसका ये बखूबी निर्वहन भी कर रहे हैं। यही कारण है कि लोगों के बीच इन दिनों अभिनेता की तरह प्रसंशा बटोर रहे हैं, जो सही मायने में बेहतर कार्य कर रहे हैं। इन्हीं में से सुमित देवी, प्रेम चन्द, विनय, संजय कुमार, रजनी व सोनिका देवी, सुदेश, साधना देवी से बात की गई, तो इनका कहना है कि संकट की इस घड़ी में वे देश व समाज को अपनी ओर से सर्वोत्तम सेवा दे रहे हैं। ऐसे वक्त में उनकी जिम्मेदारी और अधिक बढ़ गई है। अगर, सफाई से कोरोना का संकट टलेगा तो हमें बहुत खुशी होगी।
‘सलाम है इन योद्धाओं के जज्बे को’ शहर को स्वच्छ रखने में सफाई कर्मचारियों अहम के योगदान को कम नहीं आंका जा सकता है। विपरित परिस्थितियों में भी ये योद्धा कर्तव्य का निर्वहन में पीछे नहीं हैं। समाज के प्रति इनकी सेवाएं सराहनीय हैं।
लॉकडाउन में जहां लोग अपने घरों में हैं, वहीं धर्मशाला नगर निगम के सफाई कर्मचारी शहर को साफ-सुथरा करके कोरोना वायरस के खतरे को कम करने में जी जान से जुटे हैं। ये सफाई कर्मचारी जनता के लिए खुद की परवाह किए बिना मुस्तैद होकर अपनी डियूटी का निर्वाह कर रहे हैं। कोरोना वायरस को मात देने के लिए ये ‘सफाई के सिपाही’ सच्ची सेवा कर रहे हैं। एक तरह से सीधी जंग लड़ रहे हैं। सुबह-शाम सड़कों, नालियों और कूड़ेदानों को साफ करने वाले इन सफाई कर्मियों के जज्बे को शहरवासी सलाम कर रहे हैं।
कोरोना वायरस के बीच जोखिम लेते हुए नगर निगम के सफाई कर्मचारी अपने काम को अंजाम दे रहे हैं। नगर निगम धर्मशाला के 17 वार्डों में इस समय करीब 61 स्थाई और अस्थाई कर्मचारी शहर में सफाई अभियान और सेनेटाईजर के छिड़काव में लगे हैं। सड़कों के अलावा अस्पताल, सार्वजनिक स्थलों व सरकारी कार्यालयों को भी सेनेटाईज किया जा रहा है। इसके अलावा ठेकेदार के माध्यम से भी ये कर्मी काम कर रहे हैं। घर-घर से कूड़ा उठाने के लिए श्री गरूना एमजीटी के 117, विशाल प्रोटेक्शन फोर्स के 36 तथा एक्सप्रैसो मुम्बई के 70 कर्मचारी भी लगे हैं। यह भी शहर को साफ सुथरा रखने में अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं। सड़कों पर फैले कचरे ही नहीं बल्कि हर घर से लाउड स्पीकर के माध्यम से पुकार कर कूड़ा उठाने में भी ये पीछे नहीं हैं।
नगर निगम के आयुक्त प्रदीप ठाकुर कहते हैं कि कोरोना के खतरे को कम करने के लिए युद्धस्तर पर सफाई अभियान चल रहा है। सफाई कर्मचारी सुबह से शाम तक सफाई अभियान को सफल बनाने में अपनी अहम भूमिका अदा कर रहे हैं। सफाई कर्मचारियों को पर्याप्त मास्क, दस्ताने, जूते जैसी सुरक्षा सामग्री उपलब्ध करवाई गई है। उन्होंने लोगों से भी अपने स्तर पर साफ-सफाई रखने का आग्रह किया है।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
नगर परिषद पालमपुर में सम्मिलित होने वाले क्षेत्रों से आक्षेप और सुझाव आमंत्रित छात्रवृति योजनाओं की ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 30 नवम्बर साईकलिंग को बनायें स्वस्थ जीवन का हिस्सा आपदा स्थिति में त्वरित राहत एवं बचाव कार्यों से किया जा सकता है जानमाल की क्षति को कम ग्रामीण विकास कार्यों की रफतार बढ़ाने पर दें जोर: एडीसी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना आई, हो रही है अब फसली नुकसान की भरपाई खांसी, बुखार, जुकाम जैसे लक्षण वाले व्यक्ति हेल्पलाईन नम्बर 104 या 1077 पर करें सम्पर्क 12 रूटों पर रात्रि बस सेवा आरम्भ की जाएंगी ट्रूनाट और रैपिड एंटीजेन टेस्ट तकनीक कोविड-19 की लड़ाई में बनी गेम चेंजर: सीएमओ कोविड-19 मरीजों का ईलाज कर रहे चिकित्सकों व पैरा-मेडिकल स्टाफ की सुरक्षा भी सुनिश्चित होः मुख्यमंत्री