ENGLISH HINDI Tuesday, December 01, 2020
Follow us on
 
पंजाब

दूध परखने हेतु जि़ला स्तर पर लैबोरेट्रिज स्थापित: बाजवा

May 23, 2020 05:45 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
पंजाब सरकार द्वारा जि़ला स्तर पर दूध की गुणवत्ता और मिलावट को परखने के लिए विशेष लैबोरेट्रिज स्थापित की गई हैं।
जानकारी देते हुए राज्य के पशु पालन, मछली पालन और डेयरी विकास विभाग के मंत्री तृप्त बाजवा ने बताया कि लोगों की सेहत के साथ खिलवाड़ करने वाले असामाजिक तत्वों पर नकेल कसने के लिए और राज्य के लोगों को मिलावट से मुक्त दूध उपलब्ध करवाने के लिए विभाग के सभी जि़ला स्तरीय दफ्तरों और प्रशिक्षण केन्द्रों में दूध की गुणवत्ता और मिलावट को परखने के लिए विशेष लैबोरेट्रियां स्थापित की गई हैं।
उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि विभागीय कर्मचारियों को दूध परखने सम्बन्धी प्रशिक्षण देकर तैनात किया गया है। कोई भी उपभोक्ता अपने जि़ले के दफ़्तर या नज़दीकी प्रशिक्षण केंद्र में प्रात:काल 9.00 बजे से 11.00 बजे तक 50 ग्राम बगैर उबाले दूध का नमूना लेकर उसकी परख करवा सकता है। उन्होंने बताया कि दूध की जांच मुफ़्त की जाएगी और जिसका नतीजा मौके पर ही दिया जाएगा।
बाजवा ने इस संबंधी और जानकारी साझा करते हुए बताया कि इस तरह दूध की परख करवा कर हम यकीनी बना सकते हैं कि हम जिस भाव दूध खरीदते हैं, क्या उन पैसों में यह दूध उपयुक्त है यं नहीं। इसके साथ ही यह भी पता लगाया जा सकता है, क्या दूध के द्वारा हम अपने बच्चों को कोई हानिकारक तत्व तो नहीं पिला रहे।
उपभोक्ताओं को दूध की परख करवाने की अपील करते हुए विभाग के डायरैक्टर इन्दरजीत सिंह ने बताया कि यह मुहिम न सिफऱ् उपभोक्ताओं में दूध के प्रयोग को बढ़ाकर तंदुरुस्त पंजाब मिशन में योगदान डालेगी, बल्कि दूध की माँग के बढऩे के साथ-साथ दूध उत्पादकों को भी उचित मंडीकरण और बढिय़ा कीमतें उपलब्ध करवाएगी।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
मास्क व लड्डू वितरित कर बरनाला पुलिस ने मनाया श्री गुरु नानक देव जी का गुरूपर्व नई खोज: न्यूरल एम्पलीफायर सिलिकॉन चिप को किया डिजाइन और लांच खट्टर के साथ तब तक बात नहीं करूँगा, जब तक किसानों पर ज़ुल्म ढाने के लिए माफी नहीं माँगते: कैप्टन किसानों के आंदोलन में आतंकियों व खालिस्तान समर्थकों की हो सकती है घुसपैठ, खुफिया एजेंसियां सतर्क पंजाब गऊ सेवा आयोग द्वारा राज्य के सभी उपायुक्तों को दिशा-निर्देश जारी प्रशासन की लापरवाही से डेरा बस्सी शहर बना नरक: रंधावा दिल्ली कूच कर रहे किसानों को रोकने के लिए हरियाणा सरकार की जबरन कोशिशों की कड़ी आलोचना पंजाबी यूनिवर्सिटी के उप कुलपति डॉ. बी.एस. घूम्मन का इस्तीफ़ा मंजूर शिकवे सार्वजनिक तौर पर ज़ाहिर करने है तो कह सकते हो कांग्रेस को अलविदा, लीडरशिप बदलाव की ज़रूरत नहीं: कैप्टन पंजाब राज्य के पर्यावरण को हरा-भरा और शुद्ध बनाने के लिए यत्नशील