ENGLISH HINDI Sunday, September 20, 2020
Follow us on
 
धर्म

चंडीगढ़ के मंदिर दिखे सुनसान .....

June 10, 2020 11:28 AM

Pt. Ishawar Chand Shastri
 चंडीगढ़, अनुराधा कपुर
सिटी ब्यूटिफुल के मंदिर तो खुल चुके हैं, परंतु दर्शन करने वाले श्रद्धालुओं की संख्या बहुत कम है। इसके मुख्य कारणों में से कोरोना एक है; इसके अलावा एक कारण यह भी है कि शिवलिंग पर दूध, जल इत्यादि से अभिषेक करना वर्जित था। जब श्रद्धालुओं को जल न चढ़ाने की जानकारी मिली तो बहुत मायूस हुए। दो श्रद्धालु तो मंदिर में बैठ कर रोने लगे कि हम घर से जल, दूध, फूल इत्यादि लेकर आए हैं, वह भी हमें नहीं चढ़ाने दिया जा रहा है।

हालांकि सेक्टर 30 के महाकाली व शिव शक्ति मंदिर एवं सेक्टर 8 के शिव मंदिर में जल चढ़ाने व शिव पूजन की सभी को अनुमति थी। मंदिर में आने वाले कुल श्रद्धालुओं में 50% लोग तो 65 साल के ही होते हैं व बच्चे भी होते हैं,उन्हीं को आने के लिए मना किया गया है।

हमने कई सेक्टरों के मंदिरों के पुजारियों से संपर्क किया तो सबने एक ही बात कही कि जब तक मंदिर मे सनातन धर्म की परंपरा के अनुसार पूजा की अनुमति नहीं दी जाएगी तब तक मंदिर में आने वालों की संख्या कम रहेगी। शाम को आरती के समय कोई नहीं आ रहा । हम यह पूछना चाहते हैं कि यह कोरोना केवल मंदिरों से ही फैलता है क्या, जबकि सारे बाजार, दुकानें, मॉल, शराब के ठेके खुले हैं और इन सब में नियमों की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं।

देवालय पूजक परिषद्" के अध्यक्ष पंडित ईशवर चन्द्र शास्त्री ने गुरूद्वारा साहिब का उदाहरण देते हुए कहा कि वे लंगर चला सकते हैैं व प्रसाद बांट सकते हैं किंतु मंदिर नहीं। भला ये दोहरा मापदंड क्यों? मंदिर सेनीटाइजिंग और सोशल डिसटेंस के नियम मान रहे हैं तो प्रशासन को भी मंदिर की गरिमा को बनाए रखना चाहिये। इस पर अवश्य विचार करें।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और धर्म ख़बरें
देवस्थानम बोर्ड द्वारा 15 सितंबर तक 426 ई -पास जारी, दो माह बाद कुल 45686 ई-पास जारी हुए गणेश चतुर्थि पर गणपति जी का किया स्वागत स्वतंत्रता दिवस के साथ—साथ मुक्तिपर्व-आत्मिक स्वतंत्रता का पर्व बंदिशों के बीच मनेगी जन्माष्टी नागपंचमी पर श्री शिव खेड़ा मंदिर में कोरोना महामारी के प्रकोप से मुक्ति के लिए विशेष पूजन स्वयं को सशक्त कर बाह्य परिस्थितयों पर कर सकते है विजय प्राप्त कोरोना से बचाव का फार्मूला: जलाभिषेक करना है तो लोटा घर से लाना होगा संत निरंकारी मिशन ने संभाली जरूरतमंदों को घर बैठे राशन सामग्री पहुंचाने की कमान विशाल साईं भजन संध्या का आयोजन कैंम्बवाला गौशाला में गौभक्तों ने महाशिवरात्रि पर किया शिवपूजन