ENGLISH HINDI Thursday, August 06, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
नकली शराब: शामिल व्यक्तियों के विरुद्ध धारा 302 के अंतर्गत कत्ल केस दर्ज के आदेशवृद्ध महिला को घर से निकालने का मामला: महिला आयोग ने सीनियर पुलिस कप्तान खन्ना से माँगी रिपोर्ट5 सदियों बाद 5 अगस्त को अभिजित मुहूर्त में राम जन्म भूमि पूजन, राम राज्य की ओर अग्रसर भारतकोविड-19 के कारण गिरावट दर 9.26 प्रतिशत रहीपंजाब: मुख्य चुनाव अधिकारी द्वारा डिजिटल माध्यम से स्वीप गतिविधियों की शुरूआतश्री राम जन्मभूमि निर्माण की ख़ुशी में सैंकड़ों दिए जलाकर मनाई दीपावलीपेट्रोल— डीजल के थोक और खुदरा विपणन का अधिकार नियमों को बनाया सरलजनशिकायतों निपटारे के लिए आईआईटी कानपुर तथा प्रशासनिक सुधार और लोकशिकायत विभाग के साथ त्रिपक्षीय करार
राष्ट्रीय

कोविड 19 में नौकरी चली गई? तो ईएसआई की इस योजना से मिलेगी आपको सैलरी

June 18, 2020 06:34 PM

चंडीगढ, संजय मिश्रा:
कोविड—19 में यदि प्राइवेट नौकरी करने वालों की नौकरी छूट (Job loss) जाती है तो सरकार आपको 24 महीने यानी 2 साल तक सैलरी देगी। कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ESIC) 'अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना' (Atal Bimit Vyakti Kalyan Yojana) के तहत नौकरी जाने पर आर्थिक मदद देती है। ESIC ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी और बताया कि रोजगार छूटने का मतलब आय की हानि नहीं है। ईएसआईसी रोजगार की अनैच्छिक हानि या गैर-रोजगार चोट के कारण स्थायी अशक्तता के मामले में 24 माह की अवधि के लिए मासिक नकद राशि का भुगतान करता है।
अगर आपकी कंपनी आपका PF/ESI हर महीने आपके वेतन से काटती है तो आपको इस योजना के तहत नौकरी जाने पर भी 24 महीने तक सरकार की ओर से पैसे मिलेंगे। कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ESIC) की अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के तहत यह लाभ मिलता है। लेकिन इसके लिए योजना में आपका रजिस्ट्रेशन जरूरी है।
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी को आर्थिक मदद राशि सीधे बैंक खाते में मिल जाती है। इस योजना की शुरुआत ईएसआई कॉरपोरेशन की मीटिंग में, जो 18 सितंबर 2018 को हुई थी उसमें घोषणा की गई थी।
क्या है अटल बीमित व्यक्ति योजना:
ESIC के ट्वीट के अनुसार रोजगार छूटने का मतलब आय की हानि नहीं है, ईएसआईसी रोजगार की अनैच्छिक हानि या गैर–रोजगार चोट के कारण स्थायी अशक्तता के मामले में 24 माह की अवधि के लिए मासिक नकद राशि का भुगतान करता है। अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना’ के तहत आपकी नौकरी जाने पर सरकार आपको आर्थिक मदद देती है। हालांकि इसके लिए बेरोजगारी के पहले अंशदान की अवधि में कम से कम 78 दिनों का अंशदान किया गया होना जरूरी है।
कैसे कराएं इस योजना में रजिस्ट्रेशन:
अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो इसमें रजिस्ट्रेशन जरूरी है। आप ESIC की बेवसाइट पर जाकर अटल बीमित व्‍यक्ति कल्‍याण योजना का फॉर्म डाउनलोड कर सकते हैं। फॉर्म डाउनलोड करने के लिए इस लिंक का इस्तेमाल करें—
https://www.esic.nic.in/attachments/circularfile/93e904d2e3084d65fdf7793e9098d125.pdf
इस आवेदन फॉर्म में दो प्रारूप AB-1 और AB-2 होंगे, दोनों को सही से भरिए। फिर आपको क्लेम फॉर्म पर साइन करना होगा और AB-2 फॉर्म पर पुराने “Employer” के किसी आधिकारिक अधिकारी के साइन लेने होंगे, फिर आवेदन फॉर्म के साथ एक कैंसल्ड चेक और खुद से अटेस्ट की गई पासबुक की फोटो कॉपी संलग्न करके इसे कर्मचारी राज्य बीमा निगम की किसी नजदीकी ब्रांच में जमा करा दीजिये। इस फॉर्म के साथ 20 रुपए का नॉन-ज्‍यूडिशियल स्टांप पेपर पर नोटरी से सत्यापित एक एफिडेविड भी देना होता है। ज्ञात हो कि इस योजना का फायदा आप अपने पूरे सेवाकाल में सिर्फ एक बार ही उठा सकते हैं।  

 
कौन उठा सकता है इस योजना का फायदा:
आवेदक राहत का दावा करने की अवधि के दौरान बेरोजगार होना चाहिए।
आवेदक को उसकी बेरोजगारी से ठीक पहले छः महीने की अवधि के लिए योग्य रोजगार में होना चाहिए।
आवेदक ने कम से कम 78 दिन प्रत्येक पूर्ववर्ती चार योगदान अवधि के दौरान योगदान दिया हो।
बीमित व्यक्ति के आधार और बैंक खाते को बीमित व्यक्ति डेटा आधार के साथ जुड़ा हुआ हो।
कौन नहीं उठा सकता फायदा:
भले ही कोई व्यक्ति ईएसआईसी से बीमित हो, लेकिन-
१. किसी गलत व्यवहार की वजह से अगर उसे कंपनी से निकाला गया है
२. अगर किसी व्यक्ति पर आपराधिक मुकदमा दर्ज है या
३. अगर आप स्वेच्छा से रिटायरमेंट (VRS) लेते हैं
तो आपको इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा।
आपको बता दे कि इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया अभी तक प्रारंभ नहीं हुई है और आवेदन ऑफलाइन माध्यम से ही स्वीकार है जा रहे हैं।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
पेट्रोल— डीजल के थोक और खुदरा विपणन का अधिकार नियमों को बनाया सरल जनशिकायतों निपटारे के लिए आईआईटी कानपुर तथा प्रशासनिक सुधार और लोकशिकायत विभाग के साथ त्रिपक्षीय करार रूड़की में वेस्ट टू एनर्जी प्लांट लगाए जाने के संबंध में बैठक, 05 सितम्बर तक बिड प्रक्रिया पूर्ण करने के निर्देश एम्स ऋषिकेश में 5 लोगों की रिपोर्ट कोविड पाॅजिटिव इलेक्ट्रॉनिक वैक्सीन इंटेलिजेंस नेटवर्क ने कोविड दौरान आवश्यक प्रतिरक्षण सेवाएं सुनिश्चित की प्रधानमंत्री श्री मोदी और अफगानिस्तान के राष्ट्रपति में टेलीफोन पर हुई बातचीत खेल फिजियोथेरेपी और खेल न्यूट्रीशन में पाठ्यक्रम शुरू कश्मीर घाटी में प्रतिबंध लागू, बाजार बंद राम रहीम के लिए जेल में आईं 650 राखी आदिवासी दिवस के बहाने अलगाववाद की राजनीति