ENGLISH HINDI Thursday, August 06, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
नकली शराब: शामिल व्यक्तियों के विरुद्ध धारा 302 के अंतर्गत कत्ल केस दर्ज के आदेशवृद्ध महिला को घर से निकालने का मामला: महिला आयोग ने सीनियर पुलिस कप्तान खन्ना से माँगी रिपोर्ट5 सदियों बाद 5 अगस्त को अभिजित मुहूर्त में राम जन्म भूमि पूजन, राम राज्य की ओर अग्रसर भारतकोविड-19 के कारण गिरावट दर 9.26 प्रतिशत रहीपंजाब: मुख्य चुनाव अधिकारी द्वारा डिजिटल माध्यम से स्वीप गतिविधियों की शुरूआतश्री राम जन्मभूमि निर्माण की ख़ुशी में सैंकड़ों दिए जलाकर मनाई दीपावलीपेट्रोल— डीजल के थोक और खुदरा विपणन का अधिकार नियमों को बनाया सरलजनशिकायतों निपटारे के लिए आईआईटी कानपुर तथा प्रशासनिक सुधार और लोकशिकायत विभाग के साथ त्रिपक्षीय करार
पंजाब

अंतर्राज्यीय नशा तस्करी गिरोह का मुख्य सप्लायर साथी सहित काबू

July 03, 2020 08:26 PM

अखिलेश बंसल/करन अवतार, बरनाला:
बरनाला पुलिस ने अंतर्राज्यीय नशा तस्कर गिरोह के मुख्य चेन सप्लायर व उसके साथी को हिरासत में लिया है। दोनों के खिलाफ राज्य के अलग अलग थानों में मामले दर्ज हैं। जिनमें एक तस्कर तो सजा याफता भी है। इनसे पौने दो लाख नशीली गोलियों सहित ड्रगमनी की दो लाख रुपए की राशि भी बरामद की है। पता लगाया गया है कि काबू किए गए नशा तस्करों ने संगरूर, पटियाला, मानसा और बरनाला जिलों में नशे की सप्लाई करने का जाल बिछा रखा है, जो बाहरी प्रांतों से तस्करी करके इन जिलों में नशे की सप्लाई करते आ रहे थे।  

पौने दो लाख नशीली गोलियों सहित ड्रग मनी की दो लाख रुपए की राशि भी बरामद।


जिला पुलिस प्रमुख ने किया खुल्लासा:
एसएसपी बरनाला संदीप गोयल ने प्रेसवार्ता में खुल्लासा करते बताया कि बरनाला पुलिस को सूचना मिली थी कि जिला संगरूर के गांव कड़ैल का निवासी हुमेश कुमार मिंटू उर्फ बाबा और जिला मानसा के भीखी कस्बा निवासी बलजीत सिंह नशीले गोलियों का जखीरा लेकर सविफ्ट कार नंबर डीएल-5सीजे/8850 में सवार हो बरनाला जिला के अंदर दाखिल हो रहे हैं। सूचना के तुरंत बाद पुलिस टीम द्वारा बरनाला-मानसा रोड पर घेराबंदी की गई। जैसे ही मानसा साईड से कार पुलिस नाका के पास पहुंची और उन्हें रोक कर तलाशी की गई तो कार में नशीली गोलियों की बड़ी खेप मिली। उन्होंने कहा है कि हुमेश कुमार नशा स्मगलिंग की चेन का सप्लायर है, लंबे समय से पुलिस की नजरों से बचता आ रहा था। बेखौफ तस्करी के धंधे को आगे लेजा रहा था।    

जिला पुलिस प्रमुख ने बताया कि तलाशी के दौरान कार में से 1,80,000 गोलियां बरामद की गई। जिनकी कोई बिलिंग भी नहीं थी। उसके साथ ही दो लाख रुपए जो कि ड्रग मनी के तौर पर रखे हुए थे वह भी जिला पुलिस ने अपने कब्जे में ले कर थाना रूड़ेके कलां में एनडी/पीएस एक्ट के अंतर्गत मामला दर्ज कर लिया।
आरोपितों की खंगाली हिस्ट्री:
एसएसपी गोयल ने यह भी बताया कि काबू किये गए दोनों तस्कर लंबे समय से तस्करी करने के आदी हैं, जिसको लेकर हुमेश कुमार बाबा के खिलाफ हरियाणा प्रदेश के भिवानी थाना में पहला मुकद्दमा 25/5/2014 को दर्ज हुआ था। उसके बाद उसके खिलाफ जिला पटियाला के सन्नौर थाना की पुलिस द्वारा साल 2015 दौरान, बरनाला और संगरूर की पातड़ां पुलिस थानों की तरफ से इसी साल मामले दर्ज किये जा चुके हैं। जबकि दूसरे आरोपित बलजीत सिंह के खिलाफ सबसे पहला मुकद्दमा 15 साल पहले थाना सुनाम की पुलिस द्वारा 18/4/2005 को दर्ज किया था, उसके बाद उसके खिलाफ वर्ष 2007, 2015, 2019 और पिछले महीने जिला बरनाला की पुलिस की ओर से दर्ज किया गया था। उन्होंने कहा कि तफतीष अभी जारी है, जिससे इनके साथ जुड़े नशे के बड़े सौदागरों के काबू होने और सनसनीखेज खुल्लासे होने की उम्मीद है।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
नकली शराब: शामिल व्यक्तियों के विरुद्ध धारा 302 के अंतर्गत कत्ल केस दर्ज के आदेश वृद्ध महिला को घर से निकालने का मामला: महिला आयोग ने सीनियर पुलिस कप्तान खन्ना से माँगी रिपोर्ट कोविड-19 के कारण गिरावट दर 9.26 प्रतिशत रही पंजाब: मुख्य चुनाव अधिकारी द्वारा डिजिटल माध्यम से स्वीप गतिविधियों की शुरूआत श्री राम जन्मभूमि निर्माण की ख़ुशी में सैंकड़ों दिए जलाकर मनाई दीपावली ‘आप’ नेताओं संग फार्म हाऊस में कैप्टन को ढूंढने गए मान को किया गिरफ्तार स्वतंत्रता दिवस को पड़ी कोरोना की मार मिड—डे मील के मेहनताने हेतु 2.5 करोड़ रुपए जारी रेल गाड़ी के नीचे कर नौजवान ने की ख़ुदकुशी हर मामले पर एसआईटी, नतीजा जीरो का जीरो