ENGLISH HINDI Saturday, August 15, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
22 अगस्त ,शनिवार को मनाएं श्री गणेश जन्मोत्सव, रखें सिद्धि विनायक व्रत, न करें चंद्र दर्शनस्वतंत्रता दिवस पर ऑनलाइन प्रतियोगिताओं का आयोजन पंजाब: 9 कृषि-रसायनों की बिक्री पर पाबन्दीए.डी.जी.पी. वरिन्दर कुमार और अनीता पुंज को विलक्षण सेवाओं के लिए राष्ट्रपति पुलिस मैडलवाराणसी में वर्चुअल माध्यम से धनवंतरी चलंत अस्पताल का शुभारंभपूंजीगत खर्च पर सीपीएसई की तीसरी समीक्षा बैठकविशिष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति का पुलिस पदक और सराहनीय सेवाओं के लिए आरपीएफ/आरपीएसएफ कर्मियों को पुलिस पदक से सम्मानितराष्ट्रपति ने सशस्त्र और अर्धसैनिक बलों के कार्मिकों के लिए 84 वीरता पुरस्कारों और अन्य सम्मानों की मंजूरी दी
पंजाब

अंतर्राज्यीय नशा तस्करी गिरोह का मुख्य सप्लायर साथी सहित काबू

July 03, 2020 08:26 PM

अखिलेश बंसल/करन अवतार, बरनाला:
बरनाला पुलिस ने अंतर्राज्यीय नशा तस्कर गिरोह के मुख्य चेन सप्लायर व उसके साथी को हिरासत में लिया है। दोनों के खिलाफ राज्य के अलग अलग थानों में मामले दर्ज हैं। जिनमें एक तस्कर तो सजा याफता भी है। इनसे पौने दो लाख नशीली गोलियों सहित ड्रगमनी की दो लाख रुपए की राशि भी बरामद की है। पता लगाया गया है कि काबू किए गए नशा तस्करों ने संगरूर, पटियाला, मानसा और बरनाला जिलों में नशे की सप्लाई करने का जाल बिछा रखा है, जो बाहरी प्रांतों से तस्करी करके इन जिलों में नशे की सप्लाई करते आ रहे थे।  

पौने दो लाख नशीली गोलियों सहित ड्रग मनी की दो लाख रुपए की राशि भी बरामद।


जिला पुलिस प्रमुख ने किया खुल्लासा:
एसएसपी बरनाला संदीप गोयल ने प्रेसवार्ता में खुल्लासा करते बताया कि बरनाला पुलिस को सूचना मिली थी कि जिला संगरूर के गांव कड़ैल का निवासी हुमेश कुमार मिंटू उर्फ बाबा और जिला मानसा के भीखी कस्बा निवासी बलजीत सिंह नशीले गोलियों का जखीरा लेकर सविफ्ट कार नंबर डीएल-5सीजे/8850 में सवार हो बरनाला जिला के अंदर दाखिल हो रहे हैं। सूचना के तुरंत बाद पुलिस टीम द्वारा बरनाला-मानसा रोड पर घेराबंदी की गई। जैसे ही मानसा साईड से कार पुलिस नाका के पास पहुंची और उन्हें रोक कर तलाशी की गई तो कार में नशीली गोलियों की बड़ी खेप मिली। उन्होंने कहा है कि हुमेश कुमार नशा स्मगलिंग की चेन का सप्लायर है, लंबे समय से पुलिस की नजरों से बचता आ रहा था। बेखौफ तस्करी के धंधे को आगे लेजा रहा था।    

जिला पुलिस प्रमुख ने बताया कि तलाशी के दौरान कार में से 1,80,000 गोलियां बरामद की गई। जिनकी कोई बिलिंग भी नहीं थी। उसके साथ ही दो लाख रुपए जो कि ड्रग मनी के तौर पर रखे हुए थे वह भी जिला पुलिस ने अपने कब्जे में ले कर थाना रूड़ेके कलां में एनडी/पीएस एक्ट के अंतर्गत मामला दर्ज कर लिया।
आरोपितों की खंगाली हिस्ट्री:
एसएसपी गोयल ने यह भी बताया कि काबू किये गए दोनों तस्कर लंबे समय से तस्करी करने के आदी हैं, जिसको लेकर हुमेश कुमार बाबा के खिलाफ हरियाणा प्रदेश के भिवानी थाना में पहला मुकद्दमा 25/5/2014 को दर्ज हुआ था। उसके बाद उसके खिलाफ जिला पटियाला के सन्नौर थाना की पुलिस द्वारा साल 2015 दौरान, बरनाला और संगरूर की पातड़ां पुलिस थानों की तरफ से इसी साल मामले दर्ज किये जा चुके हैं। जबकि दूसरे आरोपित बलजीत सिंह के खिलाफ सबसे पहला मुकद्दमा 15 साल पहले थाना सुनाम की पुलिस द्वारा 18/4/2005 को दर्ज किया था, उसके बाद उसके खिलाफ वर्ष 2007, 2015, 2019 और पिछले महीने जिला बरनाला की पुलिस की ओर से दर्ज किया गया था। उन्होंने कहा कि तफतीष अभी जारी है, जिससे इनके साथ जुड़े नशे के बड़े सौदागरों के काबू होने और सनसनीखेज खुल्लासे होने की उम्मीद है।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
पंजाब: 9 कृषि-रसायनों की बिक्री पर पाबन्दी ए.डी.जी.पी. वरिन्दर कुमार और अनीता पुंज को विलक्षण सेवाओं के लिए राष्ट्रपति पुलिस मैडल मंत्रियों को छूट, आम लोगों को बताया जा रहा कोरोना है महामारी मुख्यमंत्री द्वारा नकली शराब मामले में डी.जी.पी. को भद्दे ढंग से निशाना बनाने के लिए मजीठिया की कड़ी आलोचना माईक्रो और सीमित ज़ोनों में 100 प्रतिशत टेस्टिंग के निर्देश पटियाला में लगने वाले धरने लोगों की जान के लिए बने खतरा: सिंगला स्कूल के ऑनलाइन पेंटिंग और निबंध प्रतियोगिता 13 अगस्त को जन्माष्टमी की रात कफ्र्यू में ढील सरकारी स्कूलों में दाखि़ले के लिए ट्रांसफर सर्टिफिकेट की बन्दिश ख़त्म करने की हिदायत कोविड के मद्देनजऱ 4000 तक और कैदी रिहा किये जाएंगे: रंधावा