ENGLISH HINDI Saturday, August 08, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
कमलम् में हुए कार्यक्रम में नियमों की धज्जियां उड़ाने पर राज नागपाल ने की कड़ी निंदाचंडीगढ़ नगर निगम के कर्मचारी काम छोड़ कलाई की घड़ियों का करेंगे विरोध भारतीय क्रिएटिव यूनिटी ने उठाया वायरल डर को लेकर जागरूकता का बीड़ारेहड़ी—फड़ी वालों ने कब्जा कर लोगों के लिए की परेशानी खड़ी, ना मास्क— ना ही सोशल डिस्टेंसिंगभाजपाइयों द्वारा कोविड नियमों की अवेहलना करने पर ग्रह मंत्रायल से की शिकायतस्वतंत्रता दिवस पर देखो अपना देश वेबिनार श्रृंखला के अंतर्गत पांच वेबिनारों का आयोजनजिन विक्रेताओं के पास पहचान पत्र और विक्रय प्रमाणपत्र नहीं, उन्हें पीएम स्वनिधि योजना में शामिल करने हेतु अनुशंसा पत्र मॉड्यूल लॉन्चजो पढ़ेगा वो लिखेगा, जो लिखेगा वो बचेगा
पंजाब

स्कूली सिलेबस में साजिश के अंतर्गत खत्म किए अहम पाठों के विरुद्ध संसद तक विरोध करेंगे -‘आप’

July 12, 2020 11:37 AM

चण्डीगढ़, फेस2न्यूज:
आम आदमी पार्टी पंजाब के अध्यक्ष व सांसद भगवंत मान ने केंद्रीय मानवीय स्रोत मंत्रालय की तरफ से सीबीएसई के द्वारा 9वीं से 12वीं कक्षाओं के पाठ्यक्रम (सिलेबस) से कई अहम पाठ हटाए जाने का विरोध करते हुए इस को भाजपा के भगवेकरण एजंडे का हिस्सा करार दिया है। उन्होंने कहा कि भाजपा सभी हदें पार कर आरएसएस के भगवें सोच को बाल मनों पर थोपने तक आ गई है।
पार्टी द्वारा जारी बयान में भगवंत मान ने आरोप लगाया कि भाजपा अपने भगवा एजंडे को प्रत्यक्ष तौर पर लागू करने के लिए तत्पर हो चुकी है, जो भारतीय संविधान के लिए बेहद खतरनाक है।
मान ने बताया कि कोरोना महामारी की आड़ में स्कूली सिलेबस में जो विषय हटाए गए हैं यह शुरू से ही नागपुर हैडक्वाटर की आंखों में चुभते रहे हैं। मान ने बताया कि कोरोना की आड़ में 9वीं से 12वीं तक के पाठ्यक्रम में लगभग 30 प्रतिशत कटौती उन महत्वपूर्ण पाठों की, की गई है जो विविधता के साथ भरपूर भारत जैसे बहु-भाषी और बहु-सांस्कृतिक मुल्क में विद्यार्थियों को आपसी सद्भावना और प्रेम-प्यार के साथ मिलजुल कर रहना सिखाते हैं और एक जिम्मेदार नागरिक बनाते हैं।
मान ने कहा कि लोकतंत्र अधिकार का ढिंढोरा, विविधता, लोकतंत्र को चुनौतियां, धर्म निष्पक्षता और ज्ञान विज्ञान आदि जैसे महत्वपूर्ण मुद्दे कभी भी भाजपा के गले नहीं उतरते थे, क्योंकि भाजपा हमेशा एक और अंध-विश्वास की पुजारी रही है। मान ने कहा कि भाजपा ने सांप्रदायक सोच के आधार पर भारत को एक राष्ट्र-एक रंग (भगवा) के अंतर्गत नए सिरे से तैयार करने का जो घातक रास्ता अपनाया हुआ है, यह देश को आर्थिक, सामाजिक, धार्मिक और संवैधानिक तौर पर तोड़ रहा है, बांट रहा है और कमजोर कर रहा है।
मान ने कहा कि संघ के मार्ग दर्शन पर चलती हुई मोदी सरकार ‘हिटलर’ का रूप लेती जा रही है। जिस में न संघीय ढांचे और न ही धर्म निष्पक्षता के लिए कोई स्थान है। इस लिए स्कूली पाठ्यक्रम में से संघीय ढांचे के साथ सम्बन्धित स्थानीय सरकारों की जरूरत, सरकारों के विकास, नागरिकता, राष्ट्र संघ और धर्मनिरपेक्षता के पाठ हटा दिए गए। इसी तरह प्रजातांत्रिक अधिकार, लोकतंत्र और विभिन्नता, धर्म और जाति, संघर्ष और आंदोलन, जंगल और जंगली जानवर, किसान, जिमींदार और राज, बटवारे और देश में किसानों के विद्रोहों, लेख, दा बंबे डेकन और दा डेकन राइट्स कमिशन समेत पड़ोसी देशों के साथ हमारे संबंधों और आजादी की लड़ाई के दौरान हुए अलग-अलग आंदोलनों के साथ सम्बन्धित पाठों को भी खत्म कर दिया गया है।
मान ने कहा कि बाबा साहिब डा. भीम राव अम्बेडकर की तरफ से सच्ची-सुच्ची नीयत से रचित भारतीय संविधान की मूल भावना को खत्म करने पर तुली भाजपा को एकजुट हो कर रोकना बेहद जरूरी है। इस लिए आम आदमी पार्टी मोदी सरकार के ऐसे घातक कदमों के विरुद्ध जहां बुद्धिजीवी वर्ग समेत सभी वर्गों को जागरूक करेगी और वहीं सडक़ से लेकर संसद तक आवाज बुलंद करेगी।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
रेहड़ी—फड़ी वालों ने कब्जा कर लोगों के लिए की परेशानी खड़ी, ना मास्क— ना ही सोशल डिस्टेंसिंग सीचेवाल मॉडल की तर्ज पर 15 गांवों की नुहार बदलने का लक्ष्य मेडीकल अधिकारियों के 323 पदों के लिए इंटरव्यू द्वारा की जायेगी भर्ती पुलिस द्वारा कार्यवाही, 400 किलो लाहन, पाँच किश्तियां बरामद 197 मामलों में 135 दोषियों की अवैध शराब और मॉड्यूलों में गिरफ्तारी, मौतों की संख्या हुई 113 बाजवा और दूलो को कांग्रेस से तुरंत बाहर निकालने की मांग 5,000 रुपए की रिश्वत लेते ए.एस.आई रंगे हाथों दबोचा नक्शे अब किये जाएंगे सिर्फ ऑनलाईन पोर्टल द्वारा मंज़ूर नौकरी की खोज कर रहे नौजवानों के लिए खोले नये रास्ते नकली शराब: शामिल व्यक्तियों के विरुद्ध धारा 302 के अंतर्गत कत्ल केस दर्ज के आदेश