ENGLISH HINDI Monday, August 10, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
कमलम् में हुए कार्यक्रम में नियमों की धज्जियां उड़ाने पर राज नागपाल ने की कड़ी निंदाचंडीगढ़ नगर निगम के कर्मचारी काम छोड़ कलाई की घड़ियों का करेंगे विरोध भारतीय क्रिएटिव यूनिटी ने उठाया वायरल डर को लेकर जागरूकता का बीड़ारेहड़ी—फड़ी वालों ने कब्जा कर लोगों के लिए की परेशानी खड़ी, ना मास्क— ना ही सोशल डिस्टेंसिंगभाजपाइयों द्वारा कोविड नियमों की अवेहलना करने पर ग्रह मंत्रायल से की शिकायतस्वतंत्रता दिवस पर देखो अपना देश वेबिनार श्रृंखला के अंतर्गत पांच वेबिनारों का आयोजनजिन विक्रेताओं के पास पहचान पत्र और विक्रय प्रमाणपत्र नहीं, उन्हें पीएम स्वनिधि योजना में शामिल करने हेतु अनुशंसा पत्र मॉड्यूल लॉन्चजो पढ़ेगा वो लिखेगा, जो लिखेगा वो बचेगा
चंडीगढ़

पौधारोपण....ताकि धरती हरी भरी रहे

July 13, 2020 08:18 AM

चंडीगढ़, अनुराधा कपूर                                                                                                             

  पेड़-पौधों के चाहने वाले लोगों की कोई कमी नहीं है। मानसून आते ही प्रकृति प्रेमी जागृत हो उठते हैं तथा हरसंभव प्रयास करते हैं कि ज्यादा से ज्यादा पौधे रोपित किए जाएं ताकि अधिकतम पौधे पनप सकें और धरती पर हरियाली अपने पूरे शबाब से अपना रंग बिखेर सके। प्रकृति के इसी रंग ओर हरियाली के मुरीदों मे एक हैं, पूर्व उप आयकर उपायुक्त आर्दश कुमार। पिछले लंबे समय से देश के विभिन्न हिस्सों मे पौधारोपण कर रहे हैं। इसी कड़ी में इस बार भी मानसून के सक्रिय होते ही उन्होंने अपना पुराना पौधरोपण का कार्य शुरू करने का विचार किया तो एक्सल फार्मा के अनुकांत गोयल से प्रेरित होकर इस बार सबसे पहले तो इंडस्ट्रियल एरिया फेस वन, रेलवे स्टेशन रोड, चंडीगढ़, स्थित शमशान घाट मे कुछ छायादार पौधे रोपित किए।                                                                                                                                मौके पर मौजूद शमशान घाट के प्रबन्धक में से एक विमल झा ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए बताया कि कुछ दिन पहले किसी ने फलों के पौधे लगाए थे। आज कोई छायादार पेड़ लगा रहा है।  पूर्व उप उपायुक्त आयकर ने कहा कि वो कई हजार पौधे अब तक लगवा चुके हैं और ताउम्र इसी जज्बे के साथ पेड़ लगाते रहेंगें। इस छोटे से पौधारोपण के पश्चात वो अर्जुन, महुआ, बेलपत्र, नीम व अन्य औषधीयुक्त पेड़ लगाएंगे। साथ ही उन्होंने बताया कि उपरोक्त पेड़ ही नहीं बल्कि चंदन के कुछ पेड़ों की पौध भी उनके पास पनप रही है जिनके ठीक से चलते ही उन पौधों को मंदिरों के प्रागंण मे रोपित कर दिया जाएगा।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और चंडीगढ़ ख़बरें
कमलम् में हुए कार्यक्रम में नियमों की धज्जियां उड़ाने पर राज नागपाल ने की कड़ी निंदा चंडीगढ़ नगर निगम के कर्मचारी काम छोड़ कलाई की घड़ियों का करेंगे विरोध भारतीय क्रिएटिव यूनिटी ने उठाया वायरल डर को लेकर जागरूकता का बीड़ा भाजपाइयों द्वारा कोविड नियमों की अवेहलना करने पर ग्रह मंत्रायल से की शिकायत जो पढ़ेगा वो लिखेगा, जो लिखेगा वो बचेगा श्रीराम मंदिर के भूमि पूजन की खुशी दुकानदारों ने बांटे लडडू सब्ज़ी मंडी फड़ी विक्रेताओं ने समस्याओं को लेकर और मांगों के समर्थन में एस डी एम को सौंपा ज्ञापन पत्र भारत में 30-40 प्रतिशत लोग फैटी लिवर की समस्या से पीडि़त: डा. राजन मित्तल भव्य राम जन्म भूमि पूजन पर बांटे गए लड्डू आनलाइन तीज सेलीब्रेशन मेें काम्या शर्मा ने जीता खिताब