ENGLISH HINDI Saturday, May 15, 2021
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
अघोषित बिजली कट्स से परेशान जीरकपुर के लोग पेंपा सेरिंग बने तिब्बत की निर्वासित सरकार के नये प्रधानमंत्रीगुरुद्वारा पातशाही दसवीं सेक्टर 8 में रोछे डायग्नोस्टिक (एनालाइजर) मशीन की शुरुआत:कोविड 19 की आपदा को अवसर में बदला पंजाब यूनिवर्सिटी ने, दाखला टेस्टों के नाम पर आवेदकों से लूटे करोड़ों रुपएजरूरतमंदों को प्लाज्मा दिलवा मदद कर रही चंडीगढ़ की "ब्लड सेवक" संस्थामहिला से शारीरिक संबंध बनाता बठिंडा का एएसआई रंगेहाथ काबू, बरखास्त कोटक महिन्द्रा बैंक के मुलाजिमों की आंखों में मिर्चे डालकर 45 लाख रूपए की लूटदो महीने से नहीं आ रहा बिजली बिल, भरा जा रहा औसत बिल, परेशान और खफा लोग
चंडीगढ़

पौधारोपण....ताकि धरती हरी भरी रहे

July 13, 2020 08:18 AM

चंडीगढ़, अनुराधा कपूर                                                                                                             

  पेड़-पौधों के चाहने वाले लोगों की कोई कमी नहीं है। मानसून आते ही प्रकृति प्रेमी जागृत हो उठते हैं तथा हरसंभव प्रयास करते हैं कि ज्यादा से ज्यादा पौधे रोपित किए जाएं ताकि अधिकतम पौधे पनप सकें और धरती पर हरियाली अपने पूरे शबाब से अपना रंग बिखेर सके। प्रकृति के इसी रंग ओर हरियाली के मुरीदों मे एक हैं, पूर्व उप आयकर उपायुक्त आर्दश कुमार। पिछले लंबे समय से देश के विभिन्न हिस्सों मे पौधारोपण कर रहे हैं। इसी कड़ी में इस बार भी मानसून के सक्रिय होते ही उन्होंने अपना पुराना पौधरोपण का कार्य शुरू करने का विचार किया तो एक्सल फार्मा के अनुकांत गोयल से प्रेरित होकर इस बार सबसे पहले तो इंडस्ट्रियल एरिया फेस वन, रेलवे स्टेशन रोड, चंडीगढ़, स्थित शमशान घाट मे कुछ छायादार पौधे रोपित किए।                                                                                                                                मौके पर मौजूद शमशान घाट के प्रबन्धक में से एक विमल झा ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए बताया कि कुछ दिन पहले किसी ने फलों के पौधे लगाए थे। आज कोई छायादार पेड़ लगा रहा है।  पूर्व उप उपायुक्त आयकर ने कहा कि वो कई हजार पौधे अब तक लगवा चुके हैं और ताउम्र इसी जज्बे के साथ पेड़ लगाते रहेंगें। इस छोटे से पौधारोपण के पश्चात वो अर्जुन, महुआ, बेलपत्र, नीम व अन्य औषधीयुक्त पेड़ लगाएंगे। साथ ही उन्होंने बताया कि उपरोक्त पेड़ ही नहीं बल्कि चंदन के कुछ पेड़ों की पौध भी उनके पास पनप रही है जिनके ठीक से चलते ही उन पौधों को मंदिरों के प्रागंण मे रोपित कर दिया जाएगा।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और चंडीगढ़ ख़बरें
गुरुद्वारा पातशाही दसवीं सेक्टर 8 में रोछे डायग्नोस्टिक (एनालाइजर) मशीन की शुरुआत: कोविड 19 की आपदा को अवसर में बदला पंजाब यूनिवर्सिटी ने, दाखला टेस्टों के नाम पर आवेदकों से लूटे करोड़ों रुपए जरूरतमंदों को प्लाज्मा दिलवा मदद कर रही चंडीगढ़ की "ब्लड सेवक" संस्था कोरोना काल मे समाजसेवी संस्था ने कोविड पॉजिटिव की मदद की इंस्टीट्यूट ऑफ लीगल स्टडीज ने मातृ दिवस पर प्रथम इंट्रा विभाग कविता प्रतियोगिता का किया आयोजन टीकाकरण अवश्य करवाएं ताकि वैश्विक महामारी का खात्मा हो सके : देवेन्द्र सिंह सेवा भारती ने कोरोना महामारी में आमजन की सहायतार्थ हेल्पलाइन जारी की आयुर्वेदिक डिस्पेंसरी, सेक्टर 28 में भी शुरू हुआ टीकाकरण विश्व विख्यात यज्ञ मूर्ति दादा श्री 10 मई को चंडीगढ़ में करेंगे महत्वपूर्ण घोषणा रख रखाव के अभाव में मवेशियों की चरगाह बनी इंडस्ट्री एरिया फेज 2 की ग्रीन बेल्ट