ENGLISH HINDI Wednesday, August 12, 2020
Follow us on
 
राष्ट्रीय

पंजाब: 72 घंटों से कम समय के लिए आ रहे हो तो नहीं जाना पड़ेगा एकांतवास

July 15, 2020 02:12 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
पंजाब में 72 घंटे से कम समय के लिए आने वालों को घरेलू एकांतवास से छूट दे दी गई है, परन्तु उनको राज्य की सीमा पर चैक पोस्ट में सिर्फ औपचारिक स्वै-घोषणा पत्र सौंपने की ज़रूरत होगी।
राज्य में आने वाले घरेलू मुसाफिऱों के लिए इस राहत का ऐलान करते हुए मुख्यमंत्री कैप्टन ने कहा कि यह रियायत परीक्षाएं देने वाले विद्यार्थियों और अन्य कारोबारी मुसाफिऱों आदि को देने का फ़ैसला लिया है, जो यहाँ पहुँचने पर 72 घंटों से कम समय के लिए ठहरते हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे यात्रियों को 14 दिन के लाजि़मी एकांतवास की ज़रूरत से भी छूट देने का फ़ैसला लिया गया, जबकि पंजाब आने वाले बाकी घरेलू मुसाफिऱों के लिए घरेलू एकांतवास की व्यवस्था पहले की तरह ही बरकरार रहेगी।
जिन यात्रियों को यह छूट हासिल है, उनको कोवा ऐप पर मुहैया करवाई गई तय प्रक्रिया में चैक पोस्ट के ऑफिसर इंचार्ज को औपचारिक स्वै-घोषणा पत्र सौंपने की ज़रूरत होगी। उनको अपने मोबाईलों पर कोवा ऐप डाउनलोड करनी होगी। इस ऐप पर मुसाफिऱों संबंधी सूचना देने वाले हिस्से में अपनी जानकारी देने के अलावा इन व्यक्तियों को यह घोषणा-पत्र देना होगा कि पंजाब में ठहरने के दौरान कोवा ऐप सक्रिय रखनी पड़ेगी।
ऐसे यात्रियों के लिए अन्य निर्धारित संचालन विधि (एस.पी.ओज़) के मुताबिक इनको स्वैच्छा से बताना होगा कि वह किसी सीमित ज़ोन (कंटेनमैंट ज़ोन) से नहीं आ रहे और राज्य में पहुँचने के समय से लेकर वह पंजाब में 72 घंटों से अधिक समय के लिए नहीं ठहरेंगे। इस समय के दौरान वह अपने स्वास्थ्य की निगरानी करने और अपने आस-पास के लोगों से दूरी बनाकर रखने के लिए पाबंद रहेंगे। यदि कोविड-19 से सम्बन्धित किसी भी लक्षण का पता लगता है, तो वह नियुक्त की गई निगरानी टीम के साथ बातचीत करेंगे और तुरंत 104 नंबर पर कॉल करेंगे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी ज़रूरी सावधानियों की सख़्ती से पालना करनी होगी और मास्क पहनने/ सामाजिक दूरी आदि का पालन न करने पर ‘द ऐपीडैमिक डिज़ीज़ एक्ट-1897’ की व्यवस्था के अनुसार आई.पी.सी. की धारा 188 के अंतर्गत कार्यवाही की जा सकती है।
इसी तरह यदि वापसी करन के एक हफ़्ते के अंदर किसी भी व्यक्ति का टैस्ट पॉजि़टिव पाया जाता है तो उसे तुरंत पंजाब सरकार के हेल्पलाइन नंबर 104 पर कॉल करनी होगी और संपर्क करके लोगों को ढूँढने में मदद भी करनी होगी।
जि़क्रयोग्य है कि चाहे भारत सरकार ने हाल ही में घरेलू यात्रियों के लिए घरेलू एकांतवास की ज़रूरत को ख़त्म कर दिया है और उसकी जगह पर स्वै-निगरानी करने के लिए कहा गया है, परन्तु कैप्टन अमरिन्दर सिंह स्पष्ट कर चुके हैं कि कोविड मामलों की बढ़ रही संख्या के मद्देनजऱ पंजाब में एकांतवास की बन्दिशें जारी रहेंगी।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
जाने माने शायर और गीतकार राहत इंदौरी का आज निधन, कोरोना संक्रमण उपरांत थे भर्ती एम्स ऋषिकेश में दो कोविड पॉजिटिव रोगियों की मौत, 34 की रिपोर्ट पॉजिटिव प्रधानमंत्री ने मुख्‍यमंत्रियों के साथ कोविड-19 से निपटने के लिए भविष्‍य की योजना के बारे में की चर्चा हिमालय क्षेत्र में गर्म पानी के स्रोत करते हैं वायुमंडल में कार्बन डाइऑक्‍साइड का उत्‍सर्जन अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के लिए पनडुब्‍बी के‍बल कनेक्टिविटी की शुरुआत वायरोलॉजी इंस्टीट्यूट की स्थापना के लिए केंद्र द्वारा प्रस्ताव मंज़ूर स्वतंत्रता दिवस पर देखो अपना देश वेबिनार श्रृंखला के अंतर्गत पांच वेबिनारों का आयोजन जिन विक्रेताओं के पास पहचान पत्र और विक्रय प्रमाणपत्र नहीं, उन्हें पीएम स्वनिधि योजना में शामिल करने हेतु अनुशंसा पत्र मॉड्यूल लॉन्च कोरोना योद्धाओं के लिए ईएनसी बैंड ने किया लाइव प्रदर्शन आईएमडी द्वारा मौसम पूर्वानुमान पर लघु वीडियो हिंदी और अंग्रेजी दोनों में