ENGLISH HINDI Saturday, September 19, 2020
Follow us on
 
राष्ट्रीय

जनशिकायतों निपटारे के लिए आईआईटी कानपुर तथा प्रशासनिक सुधार और लोकशिकायत विभाग के साथ त्रिपक्षीय करार

August 04, 2020 07:04 PM

नई दिल्ली, फेस2न्यूज:
रक्षा मंत्रालय, प्रशासनिक सुधार और लोक शिकायत विभाग तथा भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, कानपुर ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मंत्रालय, प्रशासनिक सुधार और लोक शिकायत विभाग प्रधानमंत्री कार्यालय, कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन, परमाणु ऊर्जा विभाग और अंतरिक्ष विभाग के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. जितेंद्र सिंह की उपस्थिति में एक त्रिपक्षीय समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।
समझौता ज्ञापन के तहत आईआईटी कानपुर की ओर से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) और मशीन लर्निंग (एमएल) तकनीकों का इस्तेमाल करते हुए एक ऐसी प्रणाली विकसित किए जाने की परिकल्पना की गई है जो वेब आधारित केंद्रीकृत लोक शिकायत निवारण और निगरानी प्रणाली (सीपीजीआरएएमएस) पर रक्षा मंत्रालय ये जुड़ी जन शिकायतों का पूर्व विश्लेषण कर उनका प्रभावी तरीके से निपटारा कर सके।प्रशासनिक सुधार और लोकशिकायत विभाग-डीएआरपीजी जन शिकायतों को निपटाने की भारत सरकार की नोडल एजेंसी है। समझौता ज्ञापन के प्रावधानों के तहत यह तय किया गया है कि डीएआरपीजी शिकायत निपटान के लिए रक्षा मंत्रालय से संबधित डेटा आईआईटी कानपुर को उपलब्ध कराएगा ताकि वह उनका व्यापक विश्लेषण कर सके।
अपेक्षा की जाती है कि यह नई पहल शिकायतों के कारण और उनकी प्रकृति की पहचान करते हुए जहाँ भी आवश्यकता हो, प्रणालीगत बदलाव और नीतिगत हस्तक्षेपों के जरिए इन्हें निपटाने में मदद करेगी।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
सुशासन और जीरो टाॅलरेंस आन करप्शन सरकार की प्राथमिकता मुख्यमंत्री रावत वो यात्रा जो सफलता से अधिक संघर्ष बयाँ करती है एम्स हैलीपैड परकिसी भी हिस्से से आने वाली हैलीसेवा की लैंडिंग संभव कोविड 19 से औद्योगिक गतिविधियां प्रभावित, नई संभावनाएं भी विकसित हुईः मुख्यमंत्री अनचाहे गर्भ का खतरा कम करता है आपातकालीन गर्भनिरोधक राष्ट्र की नियति युवाओं के हाथ में: उपराष्ट्रपति जी-20 देशों के मंत्रियों की बैठक में कोविड-19 से उत्पन्न समस्याओं का हल मिलकर ढूंढने की जरूरत राज्‍य/केन्‍द्र शासित प्रदेश अस्‍पताल में भर्ती प्रत्‍येक कोविड रोगी की ऑक्‍सीजन की उपलब्‍धता के लिए जिम्‍मेदार पुरानी शिक्षा व्यवस्था बदलना उतना ही आवश्यक, जितना खराब हुआ ब्लैकबोर्ड: प्रधानमंत्री केंद्र से जम्मू-कश्मीर में पंजाबी का सरकारी भाषा का रुतबा तुरंत बहाल करने की माँग