ENGLISH HINDI Wednesday, September 23, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
श्री आनंदपुर साहिब की पावन धरती पर रिलीज हुई सामाजिक बुराईयों को नग्न करती पंजाबी फिल्म‘आनन्द वन’ का लोकापर्ण, हल्द्वानी और ऋषिकेश में बनाये जा रहे हैं थीम बेस्ड सिटी पार्ककोविड प्रोटोकॉल की सख़्ती से पालना और सार्वजनिक जागरूकता व मज़बूत करने के आदेश10 हज़ार रुपए की रिश्वत लेने वाला राजस्व पटवारी रंगे हाथों काबूबासमती के लिए मंडी और ग्रामीण विकास फीस घटाने का ऐलानशिक्षा विभाग द्वारा पारदर्शिता और काम में तेज़ी के लिए फंड्स की ऑनलाईन निगरानी का फ़ैसलाआपदा स्थिति में त्वरित राहत एवं बचाव कार्यों से किया जा सकता है जानमाल की क्षति को कमग्रामीण विकास कार्यों की रफतार बढ़ाने पर दें जोर: एडीसी
पंजाब

पटियाला में लगने वाले धरने लोगों की जान के लिए बने खतरा: सिंगला

August 12, 2020 07:37 PM

पटियाला, फेस2न्यूज:
शिव सेना बाल ठाकरे के पांजब कार्यकारी प्रधान हरीश सिंगला ने आज पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री के शहर पटियाला में जिस रफ्तार से धरनों की तादात बढ़ रही है। उसी रफ्तार से कोरोना मरीजों के केसों में भी बढ़ोतरी हो रही है। अकाली— भाजपा और आम आदमी पार्टी को लोगों की जान की कोई परवाह नही है। वह रोजाना कोविड-19 की गाइडलाइन्स का उलंघन करते हुए धरने प्रदर्शन करके कोरोना महामारी फैलाने में अहम भूमिका अदा कर रहे है। उन्हें यह सोचना चाहिए कि यह सेवा ओछी राजनीति करने का नही बल्कि लोगों की जान बचाने का है। लेकिन यह राजनीतिक पार्टियां अपने नीति स्वार्थ और सियासी फायदे के लिए लोगों की जान के साथ खिलवाड़ कर रहे है। जबकि इनमें से अधिकतर लोग संविधान की सौगन्ध खाने वाले मतलब एमएलए और एमपी भी मौजूद होते है। जिन्हें कानून का पूरा ज्ञान होने के बावजूद अपनी सियासी ड्रामेबाजी के कारण कानून की धज्जियां उड़ा रहे है। इनकी इस धरना ड्रामेबाजी से पटियाला के तमाम पुलिस स्टेशनों के काम बंद पड़ा है और सारी जनता परेशान हो रही है। पुलिस डिपार्टमेंट एक तरफ तो कोरोना महामारी के कारण बोर्डरज पर ड्यूटी दे रहा है और दूसरी तरह कोरोना के कन्टेनमेंट जोन में पुलिस को पहरा देना पड़ रहा है। इसके बाद बची खुची पुलिस धरनों में व्यस्त हो जाती है।
सिंगला ने कहा कि अगर किसी अहम मुद्दे को लेकर आज के समय में धरना प्रदर्शन करने की जरूरत पडती है तो ओर तरीके से भी रोष जाहिर किया जा सकता है। जैसे कि डिप्टी कमिश्नर या एसएसपी को मांग पत्र देकर, मुख्यमंत्री को मांग पत्र भेजकर 5 या 10 लोगों के साथ प्रदर्शन की रूप रेखा बनाकर अपने घरों से ही सोशल मीडिया पर लाइव होकर ऐसे बहुत सारे तरीकों से अपना विरोध दर्ज करवा सकते है। लेकिन ये लोग अपनी सियासी ताकत दिखाने के लिए सोशल दूरी का बिल्कुल ख्याल नही रख रहे। जिससे शहर में रोजाना सेंकडो कोरोना महामारी के केस सामने आ रहे है।
इसलिए हम पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन और पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता से मांग करते है कि इन सियासी आकाओं के खिलाफ सख्ती की जाए। इनके शक्ति प्रदर्शन से शहर में कोरोना का प्रकोप बहुत बढ़ गया है। इन बढे हुए केसों का जिमेवार हम सीधे सीधे अकाली —भाजपा और आम आदमी पार्टी के नेताओं को मानते है। अगर आम इंसान बिना मास्क पहने सड़क पर निकले तो उससे तुरन्त जुर्माना वसूला कर लिया जाता है लेकिन ये लोग हजारों को गिनती में बिना फेस मास्क पहने बिना सामाजिक दूरी का पालन किए तादात में इकट्ठे होते है। सरकार व प्रसाशन द्वारा इन्हें रोका क्यों नही जा रहा। सिंगला ने कहा कि यदि पंजाब में धरना प्रदर्शन बंद हो जाते है तो पंजाब पुलिस लोगों की जनताक समस्याओं का हल जल्द से जल्द कर पायेगी। कोरोना फैलाने वाले अकाली, भाजपा और आम आदमी पार्टी के नेताओं पर तुरन्त मुकद्दमे दर्ज करके इन्हें जेल भेज जाए।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
श्री आनंदपुर साहिब की पावन धरती पर रिलीज हुई सामाजिक बुराईयों को नग्न करती पंजाबी फिल्म कोविड प्रोटोकॉल की सख़्ती से पालना और सार्वजनिक जागरूकता व मज़बूत करने के आदेश 10 हज़ार रुपए की रिश्वत लेने वाला राजस्व पटवारी रंगे हाथों काबू बासमती के लिए मंडी और ग्रामीण विकास फीस घटाने का ऐलान शिक्षा विभाग द्वारा पारदर्शिता और काम में तेज़ी के लिए फंड्स की ऑनलाईन निगरानी का फ़ैसला विद्यार्थियों को अपने माता-पिता की लिखित सहमति के बाद ही कंटेनमैंट जोन से बाहर स्कूल जाने की आज्ञा बैंक ग्राहकों को ठगने वाले साईबर घोटालेबाजों के दो गिरोहों का पर्दाफाश, 6 गिरफ्तार लुधियाना जिला क्रिकेट एसो. चुनाव 17 वर्ष बाद 11 अक्तूबर को कांग्रेस ने जीरकपुर में ट्रेक्टर रैली आयोजित कर कृषि विधेयकों पर विरोध जताया बठिंडा फार्मा पार्क मेडिसन सैक्टर में चीन का एकाधिकार तोड़ेगा: मनप्रीत बादल