ENGLISH HINDI Saturday, October 31, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
उच्च गुणवत्ता वाला मलमल का मास्क लांचफसलों के अवशेष किसानों के लिए एक प्रकार से सोना, जलाने की बजाय उचित प्रबंधन चाहिएनिजी सुरक्षा एजेंसी लाइसेंसिंग प्रक्रिया 1 नवंबर से होगी ऑनलाइनबिजनेस रिफॉर्म एक्शन प्लान 31 दिसंबर तक शत-प्रतिशत कार्यान्वयन के निर्देश1 नवंबर को हरियाणा दिवस के अवसर पर करनाल में होगा राज्य स्तरीय समारोहशराब तस्करी पर शिकंजा, 1080 अंग्रेजी शराब की बोतलें से लदे ट्रक सहित एक गिरफ्तारहवाई अड्डों के विस्तार से हिमाचल में पर्यटन क्षेत्र को मिलेगा नया आयामः मुख्यमंत्री जेईई मेन्स पेपर में फर्जीवाड़े का पर्दाफाश: टॉपर, उसके पिता और तीन अन्य आरोपियों को गिरफ्तार किया
हरियाणा

अवैध रूप से यमुना से रेत ले जाते चार डम्परों को पकड़ा

September 01, 2020 07:36 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
हरियाणा के खान एवं भूविज्ञान मंत्री द्वारा प्रदेश में अवैध माइनिंग को लेकर सख्त रुख अपनाने के बाद विभाग का अमला पूरी तरह से हरकत में आ गया है। मंत्री के निर्देशों पर माइनिंग की स्पेशल टीम ने जिला गुरुग्राम के सोहना शहरी क्षेत्र से चार डम्परों को अवैध रूप से लाए गए यमुना के रेत के साथ पकड़ा है।
आज जारी एक बयान में श्री शर्मा ने बताया कि इन चारों डम्परों को गुप्त सूचना के आधार पर विभाग की स्पेशल इंफोर्समेंट टीम द्वारा चलाए गए एक अभियान के तहत पकड़ा गया है। टीम ने पाया कि सभी डम्परों में यमुना का रेत भरा हुआ था। डम्परों को रुकवाकर जब कागजात मांगे गए तो चालक जरूरी कागजात दिखाने में नाकाम रहे। शुरुआती जांच में पता चला है कि इन डम्परों में जिला पलवल के सुल्तापुर गांव के पास से यमुना का रेत चोरी करके लाया गया है। एसईटी ने इन चारों डम्परों को सोहना थाना शहर पुलिस के हवाले कर दिया है और एनजीटी एक्ट के तहत इनका चालान किया गया है।
मूलचंद शर्मा ने कहा कि टीम अपना कार्य कर रही है और ऐसे अभियान हर रोज पूरे प्रदेश में चलाए जाएंगे ताकि प्रकृति के साथ इस तरीके की छेडख़ानी करने वालों पर शिकंजा कसा जा सके और अवैध खनन को रोका जा सके। उन्होंने कहा कि प्रदेश में किसी भी हालत में माइनिंग माफिया को पनपने नहीं दिया जाएगा। साथ ही, राजस्थान जैसे राज्यों के साथ लगते अवैध रास्तों की निगरानी भी बढ़ाई जाएगी ताकि इन रास्तों से अवैध सामग्री प्रदेश में न आने पाए।
खान एवं भूविज्ञान मंत्री ने कहा कि पूरे विभाग को चुस्त-दुरूस्त बनाने का काम किया जा रहा है। प्रौद्योगिकी के लिहाज से भी विभाग में कई पहल की गई हैं जिनमें ई-रवाना मुख्य रूप से शामिल है।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हरियाणा ख़बरें
फसलों के अवशेष किसानों के लिए एक प्रकार से सोना, जलाने की बजाय उचित प्रबंधन चाहिए निजी सुरक्षा एजेंसी लाइसेंसिंग प्रक्रिया 1 नवंबर से होगी ऑनलाइन बिजनेस रिफॉर्म एक्शन प्लान 31 दिसंबर तक शत-प्रतिशत कार्यान्वयन के निर्देश 1 नवंबर को हरियाणा दिवस के अवसर पर करनाल में होगा राज्य स्तरीय समारोह शराब तस्करी पर शिकंजा, 1080 अंग्रेजी शराब की बोतलें से लदे ट्रक सहित एक गिरफ्तार दो आईएएस अधिकारियों के स्थानांतरण हरियाणा में 19 और आईएएस अधिकारियों का तबादला कर्मचारियों को ‘फैस्टीवल एडवांस’ देने का निर्णय 20 नई एंबुलेंस को झंडी दिखाकर किया रवाना ‘वॉलमार्ट वृद्धि डिजिटल लर्निंग प्लेटफॉर्म’ नामक पहले ‘ई-इंस्टीट्यूट’ का उदघाटन