ENGLISH HINDI Sunday, October 25, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
बरौदा उपचुनाव के दौरान हरियाणा में प्रशासनिक फेरबदल दस साल तीन खरीदारों को प्लाट नहीं देने पर प्रीत लैंड डेवलपर एंड प्रोमोटर मोहाली को भुगतना होगा खामियाजाइलेक्ट्रॉनिक्स गोदाम में चोरी की नाकाम कोशिश दुकानदारों में दहशत का माहौल लीलाधर शर्मा ने किया भारत पाक सीमा पर सर्वधर्म स्थल निर्माण का भूमि पूजनबस क्यू शेल्टर बनाना भूला प्रशासन व नगर निगम: कांग्रेसभाजपा: झूठ, फरेब और खोखले दावों का लॉलीपॉप, कांग्रेसी नेता परमजीत सिंह ने जनता को चेताया, जाग जाओ कृषि कानूनों के मुद्दे पर बार-बार यू-टर्न लेने से सुखबीर का नैतिकता रहित चेहरा बेनकाबकाव्य संग्रह "खुशबू रिश्तों की का हुआ विमोचन"
पंजाब

पुलिस द्वारा बाल अधिकार और सुरक्षा ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित

September 16, 2020 07:45 PM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
बाल मज़दूरी, बच्चों की तस्करी, घरेलू हिंसा और यौन शोषण को रोकने के मद्देनजऱ, पंजाब पुलिस की कम्युनिटी अफेयर्ज डिविजऩ की तरफ से समाज सेवी संस्था ‘बचपन बचाओ आंदोलन’ के सहयोग से बुधवार को पोक्सो एक्ट के अधीन मामलों की जांच कर रहे और जुवेनाईल जस्टिस एक्ट 2015 की धाराओं को लागू करने वाले पंजाब पुलिस के अधिकारियों के लिए बाल अधिकार और सुरक्षा पर एक ऑनलाइन प्रशिक्षण प्रोग्राम आयोजित किया गया।
इस सम्बन्धी जानकारी देते हुये पंजाब पुलिस के प्रवक्ता ने बताया कि पहले पड़ाव में 16 सितंबर से 30 सितंबर तक पाँच जिलों के 200 के करीब पुलिस अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया जायेगा। अगले 2 सप्ताहों के दौरान कुल चार वर्कशापें आयोजित करवाई जाएंगी जिसमें विभिन्न बाल /नाबालिग कानूनों जैसे जुवेनाईल जस्टिस (बच्चों की देखभाल और सुरक्षा) एक्ट, 2015, बाल योन शोषण, पोक्सो एक्ट, 2012, बाल विवाह एक्ट, 2006, मानवीय तस्करी और गुमशुदा बच्चों और बाल मज़दूरी की एस.ओ.पी. के माहिरों द्वारा प्रशिक्षण दिया जायेगा।
उन्होंने आगे बताया कि इस तरह की पहली वर्कशॉप का उद्घाटन अतिरिक्त डायरैक्टर जनरल ऑफ पुलिस, कम्युनिटी अफेयर डिविजऩ (सी.ए.डी.), श्री गुरप्रीत दियो ने सी.ए.डी कार्यालय, एस.ए.एस.नगर से किया गया। इस ऑनलाइन प्रोग्राम में लुधियाना कमिशनरेट के 57 पुलिस अधिकारी इस 3 दिन वर्कशाप में हिस्सा ले रहे हैं।
उन्होंने आगे बताया कि उद्घाटन सैशन के दौरान यू.पी. काडर के सेवामुक्त आई.पी.एस. अधिकारी श्री सुतापा सन्याल और पंजाब राज्य कानूनी सेवाएं अथॉरिटी के सैशन जज-कम -मैंबर सचिव श्री अरुण गुप्ता ने संबोधन किया। इस प्रशिक्षण प्रोग्राम में 200 के करीब पुलिस अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया जायेगा जिनमें चाइल्ड वैलफेयर पुलिस अफ़सर, स्पैशल जुवेनाईल पुलिस यूनिट के नोडल अफ़सर और लुधियाना, जालंधर, अमृतसर, फतेहगढ़ साहिब और मोहाली जिलों के हवलदार मुंशी शामिल हैं।
उन्होंने बताया कि यह प्रशिक्षण प्रोग्राम राज्य में बाल सुरक्षा ढांचे को मज़बूत करने में अहम भूमिका निभाएगा और पुलिस अधिकारियों को बच्चों से जुड़े यौन शोषण मामलों की जांच करने और जुवेनाईल जस्टिस एक्ट, 2015 के अंतर्गत गठित जुवेनाईल जस्टिस और बाल कल्याण कमेटी और अन्य संस्थाओं के साथ मिलकर जांच करने के योग्य बनाऐगा।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
दस साल तीन खरीदारों को प्लाट नहीं देने पर प्रीत लैंड डेवलपर एंड प्रोमोटर मोहाली को भुगतना होगा खामियाजा इलेक्ट्रॉनिक्स गोदाम में चोरी की नाकाम कोशिश दुकानदारों में दहशत का माहौल कृषि कानूनों के मुद्दे पर बार-बार यू-टर्न लेने से सुखबीर का नैतिकता रहित चेहरा बेनकाब मिलावटी खाद्य पदार्थों की जांच के लिए विशेष मुहिम का आगाज़ पंजाब शहरी आवास योजना के लिए वैब पोर्टल की शुरूआत प्राचार्यों, मुख्य अध्यापकों और ब्लॉक प्राथमिक शिक्षा अधिकारियों के 585 पद भरने की प्रक्रिया शुरू खाद्य सुरक्षा से परे सोचना चाहिए और किसानों को आय सुरक्षा देनी चाहिए: बदनौर पंजाब: ‘‘ट्रांस-फैट फ्री दीवाली’’ मुहिम की शुरूआत पंजाब राज्य अनुसूचित जाति आयोग द्वारा गाँव जलालपुर मामले में एस.एस.पी. होशियारपुर से रिपोर्ट तलब अमन-शांति बहाली और साम्प्रदायिक सामांज्य स्थापित करने के लिए पुलिस भूमिका को याद किया