ENGLISH HINDI Saturday, October 31, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
उच्च गुणवत्ता वाला मलमल का मास्क लांचफसलों के अवशेष किसानों के लिए एक प्रकार से सोना, जलाने की बजाय उचित प्रबंधन चाहिएनिजी सुरक्षा एजेंसी लाइसेंसिंग प्रक्रिया 1 नवंबर से होगी ऑनलाइनबिजनेस रिफॉर्म एक्शन प्लान 31 दिसंबर तक शत-प्रतिशत कार्यान्वयन के निर्देश1 नवंबर को हरियाणा दिवस के अवसर पर करनाल में होगा राज्य स्तरीय समारोहशराब तस्करी पर शिकंजा, 1080 अंग्रेजी शराब की बोतलें से लदे ट्रक सहित एक गिरफ्तारहवाई अड्डों के विस्तार से हिमाचल में पर्यटन क्षेत्र को मिलेगा नया आयामः मुख्यमंत्री जेईई मेन्स पेपर में फर्जीवाड़े का पर्दाफाश: टॉपर, उसके पिता और तीन अन्य आरोपियों को गिरफ्तार किया
पंजाब

एटीएम नहीं बदला न ही किसी ने ओटीपी मांगा, फिर भी बैंक खाते से हवा हुए 24,500

September 17, 2020 08:14 PM

  डेरा बस्सी, पिंकी सैनी
लोगों के बैंक खातों से पैसे निकालने के लिए नए तरीकों का इस्तेमाल कर धोखाधड़ी करने के कई मामले सामने आए हैं। कई मामलों में ठग बड़ी चालाकी से एक व्यक्ति का एटीएम बदल देते हैं और कई मामलों में चालाकी से भोले भाले लोगों केसे एटीएम चुरा लेते हैं। ओटीपी नंबर प्राप्त करने के बाद, उनके खाते खाली कर दिए जाते हैं। लेकिन अब ठगों ने लोगों के खातों से पैसे चुराने का नया तरीका आयाद कर लिया है, जिसे न तो खाताधारक समझ रहे हैं और न ही बैंक वाले।                                                    इस तरह के एक मामले में वीरवार सुबह गांव भांखरपुर के एक डॉक्टर के खाते से 24,500 रुपये निकाले गए। डॉ कृष्ण कुमार ने बताया कि 2 दिन पहले उनके खाते में 25000 रुपये आए थे और आज सुबह उनके खाते से 24500 रुपये निकलने का संदेश उनके मोबाइल पर आया है। डॉक्टर ने आश्चर्य व्यक्त किया कि उसके पास एक एटीएम है और उसने किसी को भी ऑनलाइन बैंकिंग या कोई अन्य ओटीपी नंबर नहीं दिया था, लेकिन उसके खाते से पैसा कैसे निकल गए।                                                                                                                                                   जब उन्होंने बैंक अधिकारियों से संपर्क किया, तो उन्होंने कोई मदद नहीं की। बैंक वालों का कहना है कि हमेंं इसके कुछ नहीं पता, हम आपकी कोई मदद नहीं कर सकते। डॉक्टर कृष्ण कुमार ने कहा, अगर बैंक भी उनके पैसे की हिफाजत नहीं कर सकता तो बैंक मेंं पैसा क्या मतलब क्या है। अगर बैंक मैनेजर को कुछ नहीं पता और वह मदद से इनकार कर रहा है तो वह अन्य लोगों के पैसे की क्या गारंटी देंगे। उन्होंने आरबीआई से अनुरोध किया ऐसे अधिकारियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए, जो लोगों को गुमराह कर रहे हैं।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें