ENGLISH HINDI Saturday, October 31, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
उच्च गुणवत्ता वाला मलमल का मास्क लांचफसलों के अवशेष किसानों के लिए एक प्रकार से सोना, जलाने की बजाय उचित प्रबंधन चाहिएनिजी सुरक्षा एजेंसी लाइसेंसिंग प्रक्रिया 1 नवंबर से होगी ऑनलाइनबिजनेस रिफॉर्म एक्शन प्लान 31 दिसंबर तक शत-प्रतिशत कार्यान्वयन के निर्देश1 नवंबर को हरियाणा दिवस के अवसर पर करनाल में होगा राज्य स्तरीय समारोहशराब तस्करी पर शिकंजा, 1080 अंग्रेजी शराब की बोतलें से लदे ट्रक सहित एक गिरफ्तारहवाई अड्डों के विस्तार से हिमाचल में पर्यटन क्षेत्र को मिलेगा नया आयामः मुख्यमंत्री जेईई मेन्स पेपर में फर्जीवाड़े का पर्दाफाश: टॉपर, उसके पिता और तीन अन्य आरोपियों को गिरफ्तार किया
हिमाचल प्रदेश

ग्रामीण विकास कार्यों की रफतार बढ़ाने पर दें जोर: एडीसी

September 22, 2020 08:10 PM

धर्मशाला, (विजयेन्दर शर्मा) अतिरिक्त उपायुक्त राहुल कुमार ने सभी विकास खंड अधिकारियों को ग्रामीण विकास से जुड़े कामों में तेजी लाने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा कि सरकारी योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन के लिए खंड विकास अधिकारियों की भूमिका सबसे महत्वपूर्ण होती है। सभी बीडीओ फील्ड में जाकर विकास कार्यों का निरंतर निरीक्षण करें और मासिक आधार पर इनकी प्रगति की समीक्षा कर कार्यवाही से अवगत करवाएं।
एडीसी आज मंगलवार को डीआरडीए के सभागार में जिला के समस्त विकास खंडों में चल रहे विभिन्न विकास कार्यों की प्रगति की समीक्षा को लेकर आयोजित बैठक के दौरान बोल रहे थे। उन्होंने सभी खंड विकास अधिकारियों को विकास के तय लक्ष्यों को समय पर पूरा करने को कहा। बैठक में जिला के सभी खंड विकास अधिकारियों, डीआरडीए, पंचायती राज के अधिकारियों ने भाग लिया
एडीसी ने इस दौरान अधिकारियों से विभिन्न लम्बित कार्यों का ब्यौरा लिया, इसके कारण जाने और समाधान के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।
एडीसी ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत जिले में महिलाओं को स्वरोजगार अपनाने के लिए प्रोत्साहित करने एवं आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य के साथ स्वयं सहायता समूहों के गठन पर बल दिया। ग्रामीण विकास विभाग के अधिकारियों को पंचायत स्तर पर समग्र मनरेगा पर विशेष फोक्स करने को कहा ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग लाभान्वित हो सकें।
एडीसी ने कहा कि प्रत्येक विकास खंड में पार्क बनाने के लिए भूमि का चयन कर पंचवटी पार्क निर्मित करने के लिए कारगर कदम उठाए जाएं। लोक भवन के निर्माण को लेकर हुई प्रगति की समीक्षा करते हुए एडीसी ने कहा कि लोक भवनों के निर्माण कार्यों में तेजी लाई जाए। ग्रामीण क्षेत्रों में खेल मैदान विकसित करने के लिए कारगर कदम उठाने के निर्देश दिये ताकि युवाओं को खेलकूद के लिए बेहतर सुविधाएं मिल सकें।
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री एक बीघा योजना, मुख्यमंत्री ग्राम कौशल योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, मुख्यमंत्री आवास योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका योजना, स्वच्छ भारत अभियान(ग्रामीण), मुख्यमंत्री लोक भवन योजना, मोक्ष धाम, पशुधन पुरस्कार योजना, वॉटर शैड योजना, पंचायत घरों/सामुदाियक भवनों के निर्माण तथा सफलता की कहानियों का भी सुचारू कार्यान्वयन सुनिश्चित किया जाए। पंचायत स्तर पर ठोस कूड़ा कचरा निष्पादन के लिए भी उचित कार्ययोजना तैयार करें ताकि पंचायतों को स्वच्छ तथा सुंदर बनाया जा सके।
परियोजना अधिकारी डीआरडीए सोनू गोयल ने बैठक का संचालन किया तथा जिला के सभी विकास खंडों में चल रहे विकास कार्यो बारे विस्तार से जानकारी दी। इस दौरान खंड विकास अधिकारियों द्वारा अपने क्षेत्र में किये जा रहे विकास कार्यों को लेकर ब्रीफ प्रेजेंटेशन दी गई।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
हवाई अड्डों के विस्तार से हिमाचल में पर्यटन क्षेत्र को मिलेगा नया आयामः मुख्यमंत्री बल्क ड्रग पार्क स्थापित करने के लिए सभी सुविधाएं उपलब्धः मुख्यमंत्री घर पर आइसोलेशन में रह रहे सभी लोगों की स्वास्थ्य जांच के मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए 30 अक्तूबर से पूर्व जमा करवायें बिजली बिल 300 कस्टमर केयर एक्ज़ीक्यूटिव के लिये साक्षात्कार 24 अक्तूबर को भूगर्भ जल उपयोगकर्ताओं को 31 दिसम्बर तक पंजीकरण प्रमाण पत्र अनिवार्य कोविड संकट दौरान सरकार व्यवस्थाओं को संभालने में हुई पूरी तरह से नाकाम साबित निजी वाहनों को टैक्सी के रूप में प्रयोग करने पर होगी सख्त कार्रवाई: डीसी 14 से अंतरराज्यीय बस सेवाओं का परिचालन आरम्भ फ़सल विविधीकरण ने बदली किसानों की तक़दीर