ENGLISH HINDI Saturday, November 28, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
क्या विकलांगता केवल शारीरिक ही होती है?बीएमसी ने बदले की भावना से तोड़ा था कंगना का ऑफिस, करनी होगी नुकसान की भरपाई: बॉम्बे हाईकोर्टविंटेज वाहन पंजीकरण हेतु प्रस्तावित नियमों पर जनता से मांगी गईं टिप्पणियांयातायात भीड़ और प्रदूषण कम करने के लिए मोटर वाहन एग्रीगेटर दिशानिर्देश जारीकोविड—19: 70 प्रतिशत सक्रिय मामले महाराष्ट्र, केरल, दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, पश्चिम बंगाल और छत्तीसगढ़ मेंसड़क दुर्घटना में प्रदर्शनकारी की गई जान, मामला दर्जनगर परिषद अध्यक्ष हेतु चुनाव खर्च सीमा 15 लाख और नगरपालिका अध्यक्ष के लिए 10 लाख रुपये निर्धारितपंजाब गऊ सेवा आयोग द्वारा राज्य के सभी उपायुक्तों को दिशा-निर्देश जारी
राष्ट्रीय

जेईई मेन्स पेपर में फर्जीवाड़े का पर्दाफाश: टॉपर, उसके पिता और तीन अन्य आरोपियों को गिरफ्तार किया

October 31, 2020 11:13 AM

गुवाहाटी, फेस2न्यूज: 
पुलिस ने जेईई मेन्स पेपर में फर्जीवाड़े का पर्दाफाश करते हुए एक टॉपर, उसके पिता और तीन अन्य आरोपियों को गिरफ्तार किया है। टॉपर ने परीक्षा में 99.8 प्रतिशत अंक हासिल किए थे। आरोपियों के नाम डॉक्टर ज्योतिर्मय दास (कैंडिडेट नील नक्षत्र दास के पिता), महेंद्र नाथ सरमा, प्रांजल कलिता और एग्जामिनेशन सेंटर के कर्मचारी हीरालाल पाठक हैं। पुलिस कमिश्नर एमपी गुप्ता ने कहा कि असम में जेईई मेन्स के टॉपर के खिलाफ परीक्षा में कथित तौर प्रॉक्सी बिठाने के लिए अजरा पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज की गई है। कमिश्नर ने कहा कि मामले की जांच के दौरान पता चला कि कैंडिडेट ने एक अन्य एजेंसी की मदद से प्रॉक्सी का इस्तेमाल किया था। इस मामले में टेस्टिंग सेंटर के कर्मचारी भी शामिल हैं।  

- टॉपर ने परीक्षा में 99.8 प्रतिशत अंक हासिल किए थे, असम में जेईई मेन्स के टॉपर के खिलाफ परीक्षा में कथित तौर प्रॉक्सी बिठाने के लिए अजरा पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज


पुलिस आयुक्त ने कहा कि हम और लोगों की तलाश कर रहे हैं। यह एक मामला नहीं हो सकता है।  यह एक बड़े घोटाले का हिस्सा हो सकता है जिसमें देश भर के लोग शामिल हो सकते हैं. हम सभी पहलुओं को देख रहे हैं। पुलिस सूत्रों का कहना है कि 23 अक्टूबर को मित्रदेव शर्मा ने एफआईआर दर्ज कराई थी जिसके बाद अजरा पुलिस ने अपनी जांच शुरू कर दी है। एक कथित फोन कॉल रिकॉर्डिंग और सोशल मीडिया चैट के कुछ स्क्रीनशॉट वायरल होने के बाद यह घटना सामने आई। असम पुलिस ने नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) को भी सूचित किया है और जेईई मेन्स से संबंधित डेटा की जांच में उनकी मदद करने के लिए कहा है।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
क्या विकलांगता केवल शारीरिक ही होती है? बीएमसी ने बदले की भावना से तोड़ा था कंगना का ऑफिस, करनी होगी नुकसान की भरपाई: बॉम्बे हाईकोर्ट विंटेज वाहन पंजीकरण हेतु प्रस्तावित नियमों पर जनता से मांगी गईं टिप्पणियां यातायात भीड़ और प्रदूषण कम करने के लिए मोटर वाहन एग्रीगेटर दिशानिर्देश जारी कोविड—19: 70 प्रतिशत सक्रिय मामले महाराष्ट्र, केरल, दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, पश्चिम बंगाल और छत्तीसगढ़ में टू व्‍हीलर हेलमेट के लिए बीआईएस मानकों में संशोधन राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों से स्वतंत्र राज्य आयुक्तों की नियुक्ति और राज्य सलाहकार मंडलों का शीघ्र गठन करने का आग्रह सम्मिलित भू-वैज्ञानिक (मुख्य) परीक्षा, 2020 के परिणाम हरियाणा से भगोड़ा घोषित 50,000 का ईनामी बदमाश मध्यप्रदेश से काबू लक्ष्‍मी विलास बैंक के डीबीएस बैंक इंडिया लिमिटेड में विलय योजना को मंजूरी