ENGLISH HINDI Wednesday, January 20, 2021
Follow us on
 
राष्ट्रीय

भारतीय सेना ने 20 प्रशिक्षित सैन्य घोड़े और 10 बारूदी सुरंग का पता लगाने वाले कुत्ते बांग्लादेश सेना को सौंपे

November 11, 2020 07:54 AM

नई दिल्ली, फेस2न्यूज:
आम तौर पर दोनों देशों के बीच और खासतौर पर दोनों सेनाओं के बीच द्विपक्षीय संबंधों को और अधिक मजबूत करने के प्रयासों के तहत, भारतीय सेना ने बांग्लादेश सेना को उपहार में पूरी तरह से प्रशिक्षित 20 सैन्य घोड़े और 10 बारूदी सुरंग का पता लगाने वाले कुत्ते दिए। इन घोड़ों और कुत्तों को भारतीय सेना के रेमाउंट और वेटरनरी कोर द्वारा प्रशिक्षित किया गया था। भारतीय सेना ने इन विशेषज्ञ कुत्तों और घोड़ों को प्रशिक्षित करने और उन्हें संभालने के लिए बांग्लादेश सेना के जवानों को प्रशिक्षित भी किया है।
भारतीय सेना के प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व ब्रह्मास्त्र कोर के चीफ ऑफ स्टाफ मेजर जनरल नरेंद्र सिंह खरौद ने किया, जबकि बांग्लादेश सेना के प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व मेजर जनरल मोहम्मद हुमायूं कबीर ने किया, जो जेसोर स्थित डिवीजन की कमान संभाल रहे हैं। सौंपने का यह समारोह भारत-बांग्लादेश सीमा पर पेट्रापोल- बेनापोल एकीकृत चेक पोस्ट (आईसीपी) पर आयोजित किया गया। ढाका में भारतीय उच्चायोग के ब्रिगेडियर जे. एस. चीमा भी इस कार्यक्रम में उपस्थित थे।
पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ बांग्लादेश के साथ भारत की साझेदारी इस क्षेत्र में अच्छे पड़ोसी संबंधों के एक आदर्श के रूप में सामने है। इस भावना के साथ दोनों देशों के बीच बने बंधन के और भी मजबूत होने की उम्मीद है।
ब्रह्मास्त्र कोर के चीफ ऑफ स्टाफ मेजर जनरल नरेंद्र सिंह ने कहा, “भारतीय सेना में सैन्य कुत्तों का प्रदर्शन सराहनीय रहा है। हम सुरक्षा जैसे मुद्दों पर बांग्लादेश जैसे मित्र देश की सहायता करने के लिए हमेशा तत्पर हैं। जहां तक सुरक्षा की बात है, कुत्तों ने अपनी क्षमता साबित की है। जिन कुत्तों को सौंपा गया है, वे बारूदी सुरंग एवं निषिद्ध पदार्थों का पता लगाने में बेहद कारगर हैं।”

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
यात्री और माल वाहनों की आवाजाही पर पड़ोसी देशों के साथ समझौता जेईई (मुख्य) परीक्षा ‘कक्षा 12 में 75 प्रतिशत अंक’ की पात्रता शर्त से दी गई छूट 23 जनवरी को हर साल “पराक्रम दिवस” के रूप में मनाने की घोषणा शेल इंडिया के तरलीकृत प्राकृतिक गैस एलएनजी की ट्रक लदान यूनिट का उद्घाटन भारत- फ्रांस वायुसैनिक अभ्यास डेजर्ट नाइट-21 दुर्घटनाओं में घायलों को मदद पहुॅचाने वालों को सम्मानित करने की अभिनव पहल शुरू रेलवे के माध्‍यम से उन इलाकों को जोड़ रहे हैं जो पीछे छूट गए: प्रधानमंत्री 'आत्मवत् सर्वभूतेषु' के दिव्य सूत्र के साथ कुम्भ में सहभागः स्वामी चिदानन्द सरस्वती लोकपरंपरा व संस्कृति के रंगों से सराबोर हुई कुंभनगरी ब्रिटेन प्रधानमंत्री व संयुक्त राष्ट्र संघ ने किया किसान आंदोलन का समर्थन, सरकार को भी किसानों की मान लेनी चाहिए: शुक्ला