ENGLISH HINDI Thursday, January 21, 2021
Follow us on
 
पंजाब

बठिंडा में एक ही परिवार के तीन लोगों का कत्ल, क्षेत्र में सनसनी, जांच में जुटी पुलिस

November 23, 2020 01:51 PM

बठिंडा, फेस2न्यूज ब्यूरो:
बठिंडा में एक मकान में तीन लोगों के शव मिलने से हड़कंप मच गया‍। परिवार प्रमुख, उसकी पत्‍नी और बेटी के शव घर में मिले। ये शव शहर की कमला नेहरू कॉलोनी में कोठी नंबर 387 में मिले हैं। मृतकों की पहचान 45 साल के चरणजीत सिंह खोखर, उनकी पत्‍नी 43 वर्षीया जसविंदर कौर और 20 साल की बेटी सिमरन कौर के तौर पर हुई है। तीनों के सिर में गोली लगी है।
घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और कोठी को अपने कब्‍जे में ले लिया और मामले की जांच शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार, चरणजीत सिंह खोखर अपने परिवार के साथ कोठी में रह रहे थे। सोमवार की सुबह दूधवाले ने चरणजीत सिंह खोखर, उनकी पत्‍नी जसविंदर कौर और बेटी सिमरन कौर को कमरे में मृत हालत में देखा। इससे बाद उसने लोगों को बताया और तुरंत पुलिस को सूचना दी गई।
पुलिस ने तुरंत मकान को अपने कब्‍जे में लेकर जांच शुरू कर दी। अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि चरणजीत सिंह, उनकी पत्‍नी और बेटी की हत्‍या की गई है या उन्‍होंने आत्‍महत्‍या की है। पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। गौरतलब है कि शहर की पाश कालोनी में सामूहिक मौत करीब एक माह बाद की यह दूसरी घटना। इससे पहले जहां ग्रीन सिटी में आर्थिक तंगी व प्रताड़ना से परेशान एक व्यापारी ने परिवार के तीन सदस्यों की हत्या कर स्वयं आत्महत्या कर ली थी। चरणजीत सिंह खोखर की उम्र 45 थी और वह साल बीबी वाला कोआपरेटिव सोसायटी में सचिव के पद पर तैनात थे। जसविंदर कौर उम्र 43 साल और बेटी सिमरन कौर की उम्र 20 साल थी। मामला आरंभिक जांच में आत्महत्या का लगता है, लेकिन पुलिस इस मामले में हत्या की आशंका से भी जांच में जुटी है।
हत्या या आत्महत्या, पुलिस जांच में जुटी:
कमला नेहरू कालोनी की कोठी में सुबह तीनों के शव कमरे में पड़े मिले तो पूरे क्षेत्र में हड़कंप मच गया। सुबह मामले का उस समय खुलासा हुआ जब प्रतिदिन की तरह दूधवाला घर में दूध देने के लिए पहुंचा। रुटीन में पहली घंटी में दरवाजा खुल जाता था लेकिन आज दूधवाले ने कई बार घंटियां बजाई पर दरवाजा नहीं खुला। इस पर अनहोनी की आशंका केे चलते उसने किसी तरह घर में अंदर प्रवेश किया। वहां उसने चरणजीत सिंह खोखर, जसविंदर कौर व सिमरन कौर के खून से लथपथ शव देखे। इसके बाद उसने मामले की जानकारी आसपास के लोगों को दी व पुलिस को सूचित किया गया। पुलिस के आला अधिकारी पूरे मामले की तह तक जाने के लिए एक्सपर्ट टीम को मौके पर बुलाकर जांच कर रही है। खोखर का एक बेटा मनप्रीत सिंह अभी इंग्लैंड में रह रहा है।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
गणतंत्रता दिवस पर सुरक्षा को लेकर महिला पुलिस फ्रंटलाईन पर ‘आप’ ने 26 जनवरी के ‘किसान ट्रैक्टर परेड’ के समर्थन का किया ऐलान आप प्रतिनिधिमंडल निकाय चुनाव को लेकर राज्य चुनाव आयुक्त से मिला 200 जरूरतमंद परिवारों को बांटे जूते और दवाईया तीन अलग-अलग गिरोहों के पांच सदस्य हथियार,जाली भारतीय करंसी और चोरी के वाहनों सहित काबू आंदोलनकारी किसानों को धमकाना मोदी सरकार का बेहद शर्मनाक कार्य: मान पंजाब के विश्वविद्यालय और महाविद्यालय 21 जनवरी से पूर्ण रूप में खोले जाएंगे एडीजीपी राय ने मुनीष जिन्दल द्वारा सामयिक घटनाओं बारे लिखी किताब ‘द पंजाब रिव्यू’ की रीलीज़ क्या ये किसान अलगाववादी व आतंकवादी लगते हैं? कैप्टन का केंद्र सरकार से सवाल भारत रत्न गुलजारी लाल नन्दा फ़ाउंडेशन की पंजाब इकाई के प्रबंध संयोजक होंगे बरनाला के एडवोकेट कपिल