ENGLISH HINDI Saturday, March 06, 2021
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
वूमेन एंड चाइल्ड वेलफेयर सोसाइटी ने विधवा महिलाओं को हर महीने राशन देने का उठाया बीड़ाभारतीय संस्कृति में नारी के सम्मान को बहुत महत्व : सुमिता कोहलीन्यू मलौया कॉलोनी वासियों ने भाजपा सांसद के खिलाफ किया प्रदर्शन इस वर्ष भी सीधे भारतीय खाद्य निगम के माध्यम से होगी गेहूं की खरीदः राजेंद्र गर्गजन्मदोष का शीघ्र पता लगाने के लिए प्रसव पूर्व परीक्षण का महत्व अहम: डॉ.गुरजीत कौरवीरेंद्र कश्यप पुनः भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनेट्राइडेंट ग्रुप ने सिविल अस्पताल, रेडक्रॉस सोसायटी व जिला जेल को भेंट की साढ़े तीन लाख राशिगुरुद्वारा श्री नानकसर साहिब में 45वां सात दिवसीय सालाना समागम समारोह शुरू
पंजाब

एडीजीपी राय ने मुनीष जिन्दल द्वारा सामयिक घटनाओं बारे लिखी किताब ‘द पंजाब रिव्यू’ की रीलीज़

January 19, 2021 10:09 AM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
एडीशनल डायरैक्टर जनरल ऑफ पुलिस (ए.डी.जी.पी.) एन.आर.आई. मामले अमरदीप सिंह राय ने मुनीष जिन्दल द्वारा पंजाब की सामयिक घटनाओं बारे लिखी एक किताब ‘द पंजाब रिव्यू’ जारी की।
ए.डी.जी.पी. राय ने लेखक मुनीष जिन्दल को बधाई दी और उनकी किताबों के द्वारा पंजाब सिविल सर्विसिस (पी.सी.एस.) और पंजाब की अन्य प्रतियोगी परीक्षाएं देने के इच्छुक उम्मीदवारों की सहायता के लिए उनके निरंतर यत्नों की प्रशंसा की। एडीजीपी राय ने इस पुस्तक की भूमिका भी लिखी।
श्री जिन्दल ने इस अंक को लिखने के लिए एडीजीपी अमरदीप सिंह राय का उनको प्रेरित करने के लिए धन्यवाद भी किया।
इस किताब बारे विवरण साझा करते हुए श्री जिन्दल ने कहा कि पंजाब भर के हज़ारों विद्यार्थी पंजाब पीसीएस और अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं में भाग लेते हैं परन्तु बहुत से विद्यार्थी विषय संबंधी पूरी जानकारी न होने या परीक्षा की ज़रूरत अनुसार सही मार्ग दर्शन की कमी के कारण अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में असफल रहते हैं। उन्होंने कहा कि बहुत से विद्यार्थी कोचिंग लेने में असमर्थ होते हैं। इस तरह, किताबें सस्ता और तैयारी का सर्वोत्त्म स्रोत होती हैं यदि ये परीक्षा की माँगों को ध्यान में रखते हुए लिखी जाएँ। उन्होंने कहा कि ‘द पंजाब रिव्यू’ किताब इन पहलूओं को ध्यान में रखकर लिखी गई है।
उन्होंने कहा कि उनकी पिछली किताब में पंजाब के हिस्से जैसे कि इतिहास, सभ्याचार, प्रशासकीय ढांचे को काफ़ी सभ्यक ढंग के साथ पेश किया गया। उन्होंने आगे कहा कि मौजूदा समय में पंजाब की हर प्रतियोगी परीक्षा जैसे कि पीसीएस या नायब तहसीलदार या किसी अन्य परीक्षा में पंजाब की सामयिक घटनाओं बारे सवाल पूछे जाते हैं।
श्री जिन्दल ने कहा कि इस किताब में उन्होंने पंजाब के पिछले एक साल की सामयिक घटनाओं को कवर करने की कोशिश की है। इसके अलावा उन्होंने पंजाब के बजट, पंजाब के आर्थिक सर्वेक्षण और पिछले दो सालों में विभिन्न क्षेत्रों में पंजाब सरकार की तरफ से किये गए प्रयासों बारे प्रकाश डाला है।
उन्होंने कहा कि इस किताब में पंजाबी भाषा और राजनैतिक थ्यूरी बारे एक अध्याय भी है। इसके अलावा किताब के अंत में पिछले साल के पेपर और मॉडल टैस्ट पेपर भी दिए गए हैं जो विद्यार्थियों को उनकी तैयारियों के मुल्यांकन में सहायक होंगे।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
ट्राइडेंट ग्रुप ने सिविल अस्पताल, रेडक्रॉस सोसायटी व जिला जेल को भेंट की साढ़े तीन लाख राशि लुधियाना की प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्य प्रीत अरोड़ा सम्मानित ग्रामीण नौजवानों हेतु मिनी बस परमिट नीति का ऐलान, अप्लाई करने के लिए कोई समय -सीमा नहीं नई दिल्ली में आयोजित समारोह में जि़ला रूपनगर को अवार्ड रिश्वत लेते हुए ए.एस.आई और हवलदार को रंगे हाथों दबोचा जनाक्रोश ने हटवाया छत पर लग रहा मोबाइल टावर कोविड केस बढऩे पर 1 मार्च से अंदरूनी और बाहरी जमावड़ों पर पाबंदी के आदेश हरियाणा में आंतरिक आपातकाल की स्थिति, जेल नियमों की धज्जियां उड़ाई, नौदीप कौर से मिलने से रोका गया: चीमा बरनाला स्थित ट्राइडेंट मैदान में अंर्तराष्ट्रीय क्रिकेट महिला अकादमी और प्रशिक्षण हेतु क्रिकेट एसोसिएशन को दी 20 लाख रुपए की तीन बॉलिंग मशीनें राजपुरा में पहली बार आयोजित किया गया पतंगबाजी और एयरोनॉटिक्स ड्रोन उत्सव