ENGLISH HINDI Monday, April 12, 2021
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
कर्नाटक: मई प्रथम सप्ताह तक हो सकते है कोविड-19 के मामले चरम पर: स्वास्थ्य मंत्रीजीवन रक्षक दवाओं पर अनिवार्य-लाइसेंस की मांग जिससे कि जेनेरिक उत्पादन होमहात्मा ज्योतिबा फुले: एक प्रासंगिक चिंतनजश्न मनाने बंद करो, कोटकपूरा केस अभी ख़त्म नहीं हुआ: कैप्टन का सुखबीर को जवाबबठिंडा-बरनाला मार्ग पर बंद पड़े राइस शैलर के अंदर से मिले बाहरी प्रांत की गेंहूं के डंप किए 5 हजार गट्टेअपराध साबित हो जाने पर भी सिर्फ अपराधी को सजा, पीड़ित को मुआवजा क्यों नही?पंजाब, दिल्ली, महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक, राजस्थान और उत्तर प्रदेश से आने वाले लोगों को 72 घण्टे पहले की आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट लानी जरूरीचंडीगढ़ में तीसरे इंडियन टैरो सम्मेलन का आयोजन
पंजाब

बरनाला स्थित ट्राइडेंट मैदान में अंर्तराष्ट्रीय क्रिकेट महिला अकादमी और प्रशिक्षण हेतु क्रिकेट एसोसिएशन को दी 20 लाख रुपए की तीन बॉलिंग मशीनें

February 23, 2021 07:51 PM

बरनाला, अखिलेश बंसल/करन अवतार:

उद्योग क्षेत्र में विश्व में अपनी पहचान कायम करने वाले ट्राइडेंट संस्थापक एवं पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन (पीएसी) अध्यक्ष राजिंदर गुप्ता ने अधिक लोकप्रिय खेल क्रिकेट से जुड़े पंजाब की महिला खिलाडिय़ों को भी अंर्तराष्ट्रिय स्तर पर पहुंचाने की ठान ली है। जिसके चलते उन्होंने पंजाब के जिला बरनाला में स्थित अपने ट्राइडेंट मैदान के अंदर ही अंर्तराष्ट्रीय क्रिकेट महिला अकादमी स्थापित कर दी है। वहां खिलाडिय़ों को प्रशिक्षण देने के लिए डिस्ट्रिक क्रिकेट एसोसिएशन (डीसीए) को 20 लाख रुपए की तीन बॉलिंग मशीनें उपलब्ध करवाई हैं। जिसको लेकर क्रिकेट के अलावा राष्ट्रिय नेटबॉल खेल संस्था भारतीय नेटबॉल संघ (एनएफआई) तथा अन्य खेल अकादमियों व संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने ट्राइडेंट के मालिक राजिंदर गुप्ता की प्रशंसा की है।
लंबे अर्से से की जा रही थी मांग:
महिलाओं का स्तर ऊपर उठाने के लिए क्रिकेट खेल से जुड़े खिलाडिय़ों द्वारा बरनाला की धरती पर क्रिकेट अकादमी की मांग लंबे अर्से से की जा रही थी। जिला खेल विभाग के पास केवल एक ही स्टेडियम है जहां एक-दो खेलों का ही प्रशिक्षण हो सकता है। अंर्तराष्ट्रिय स्तर तो दूर प्रदेश स्तर की चेंपियनशिपें असंभव हैं।

गौरतलब हो कि बरनाला में स्थापित बाबा काला महर मल्टीपर्पस स्पोर्टस स्टेडीयम इलाका की समाजसेवी एवी धार्मिक संस्थाओं के सहयोग से निर्माणित हुआ था। उसकी विधिवत रूप से देखरेख करने का जिम्मा जिला खेल विभाग को दिया था। लेकिन वहां कोई भी खिलाड़ी सही ढंग से अभ्यास नहीं कर पा रहा। क्रिकेट प्रशिक्षण के लिए खिलाडिय़ों को कभी अनाजमंडी का सहारा लेना पड़ता था तो कभी किसी स्कूल या कालेज के मैदान का। उल्लेखनीय है कि इन मैदानों में सबसे ज्यादा दिक्कतों का सामना महिला वर्ग को करना पड़ता था। जिसको लेकर क्रिकेट खिलाड़ी लड़कियों द्वारा ट्राइडेंट संस्थापक राजिंदर गुप्ता का पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन (पीएसी) अध्यक्ष बनने के बाद से ही खेल अकादमी बनाने का आग्रह किया जा रहा था। जिसे श्री गुप्ता ने गत कुछ दिन पहले स्वीकृति दी और ऐलान के साथ ही ट्राइडेंट मैदान में जिलास्तरीय नहीं बल्कि अंर्तराष्ट्रिय स्तर की महिला क्रिकेट अकादमी स्थापित कर भी दी। वहां लड़कियों के प्रशिक्षण के लिए माहर प्रशिक्षकों को आमंत्रित किया गया है और प्रशिक्षण के लिए तीन बॉलिंग मशीनों का प्रबंध भी कर दिया है। यह पुष्टि डीसीए सचिव रुपिंदर गुप्ता ने की है।
खिलाडिय़ों को मिलेगी हर किस्म की सुविधा: पद्मश्री गुप्ता
ट्राइडेंट संस्थापक एवं पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन (पीएसी) अध्यक्ष राजिंदर गुप्ता का कहना है कि बरनाला में स्थापित की जा रही अंर्तराष्ट्रिय महिला क्रिकेट अकादमी में हर किस्म की सुविधा उपलब्ध होगी। मकसद है कि पंजाब की महिला खिलाड़ीयों का नाम भी भारतीय टीम की सूचि में दर्ज हो और वे विश्वस्तर पर खेल का प्रदर्शन करें।
गुप्ता ने निभाई पदभार की जिम्मेदारी: एनएफआई
राष्ट्रिय नेटबॉल खेल संस्था भारतीय नेटबॉल संघ (एनएफआई) के एग्जीक्यूटिव मैंबर हरपाल सिंह का कहना है कि ट्राइडेंट संस्थापक एवं पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन (पीएसी) अध्यक्ष राजिंदर गुप्ता ने बरनाला जैसे स्टेशन पर महिलाओं के लिए जो अंर्तराष्ट्रीय क्रिकेट महिला अकादमी स्थापित की है और प्रशिक्षण के लिए जिला क्रिकेट एसोसिएशन (डीसीए) को 20 लाख रुपए की तीन बॉलिंग मशीनें उपलब्ध करवाई हैं ऐसा साहस, दूरअंदेशी विचारधारा एवं दरियादिली रखना हर किसी के बस की बात नहीं। हालांकि पंजाब में नेटबॉल खेल को दाखिल हुए करीब 25 वर्ष हो चुके हैं, लेकिन करीब चार साल पहले आस्तित्व में आयी प्रदेश की संस्था नेटबॉल प्रोमोशन एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने श्री राजिंदर गुप्ता को फॉलोअप किया और उनके पदचिन्हों पर चलते हुए अपने कार्यकालकाल के पहले अढ़ाई साल के अंदर ही जिला बठिंडा के माईसरखाना में नेटबॉल ऐकेडमी तैयार कर दी थी, जहां से प्रशिक्षण लेकर कनार्टका के बेंगलुरु में हुई राष्ट्रीय नेटबॉल चेंपियनशिप में स्वर्ण पदक हासिल कर पंजाब लौटी टीम को प्रदेश के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और प्रदेश के खेलमंत्री राना गुरमीत सिंह सोढ़ी ने सम्मानित किया था।
हर खेल की एकेडमी बनाने में सक्षम हैं श्री गुप्ता: अशोक शर्मा
पंजाब फुटबॉल एसोसिएशन के कोषाध्यक्ष, फुटबॉल सिलेक्शन कमेटी एवं रैफरी बोर्ड के चेयरमैन तथा डिस्ट्रिक फुटबॉल एसोसिएशन के महासचिव अशोक कुमार शर्मा का कहना है कि ट्राइडेंट संस्थापक एवं पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन (पीएसी) अध्यक्ष राजिंदर गुप्ता ने क्रिकेट जगत में बरनाला का नाम आगे लाने का जो कदम उठाया है वह प्रभावशाली एवं सर्वाधिक प्रशंसनीय है। श्री गुप्ता जो कि एक दो खेलों को ही नहीं बल्कि दर्जनों खेलों को प्रोमोट करने में सक्षम हैं जिसके तहत वे खेलों को माल्वा की हब बनाएं। क्रिकेट व फुटबॉल सहित हर खेल की अकादमी स्थापित करने की पहलकदमी करें। देश के महानगरों में होती आ रही सभी खेल चेंपियनशिपों का आयोजन यहां बरनाला में भी हो।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
जश्न मनाने बंद करो, कोटकपूरा केस अभी ख़त्म नहीं हुआ: कैप्टन का सुखबीर को जवाब बठिंडा-बरनाला मार्ग पर बंद पड़े राइस शैलर के अंदर से मिले बाहरी प्रांत की गेंहूं के डंप किए 5 हजार गट्टे अन्य राज्यों से गेहूँ लाकर बेचने की कोशिश कर रही तीन फर्मों के विरुद्ध पर्चे दर्ज पंजाब सरकार द्वारा कोविड-19 के चलते गेहूं की सुरक्षित खरीद और मंडीकरण संबंधी एडवाइज़री जारी ध्वनी प्रदूषण: साइलेंसरों पर कहीं चलाए बुलडोजर, कहीं चलाए जा रहे कटर नवनीत कौर दीक्षित सर्वधर्म समभाव राष्ट्रीय मंच (महिला मोर्चा) की पंजाब इकाई की अध्यक्ष नियुक्त 23 किलो हेरोइन और हथियार बरामद जिला पुलिस के टैक्नीकल विंग ने ढूंढे 400 मोबाइल फोन बरनाला क्रिकेट ऐसोसिएशन को दो बॉलिंग मशीनें और प्रशिक्षण के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट प्रशिक्षक की नियुक्ति शिक्षा विभाग में लाइब्रेरियन के 750 पदों की भर्ती सम्बन्धी विज्ञापन जारी