ENGLISH HINDI Monday, December 04, 2023
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
भारत-पाक बीच हुए 1971 के युद्ध की दास्तान, कंपकंपाती सर्दी में 3 दिसंबर 1971 को फाजिल्का शहर हो गया था खालीनिर्माणाधीन 2 मंजिला इमारत की शटरिंग और लैंटर गिरने से 2 मजदूर घायल, बिना इजाजत चल रहा था निर्माण कार्यचलती बस में लगी आग, 15 मिनट में जल कर सवाह, बठिंडा से लुधियाना जा रही थी बस, बस में सवार सभी 42 सवारियां सुरक्षित उतरे एलआईसी ने पेश की जीवन उत्सव योजनाझारखण्ड और दिल्ली से बच्चियों को अगवा करने वाला पंजाब मूल का आरोपी पंचकूला पुलिस ने किया काबूभारतीय जीवन बीमा निगम ने "जीवन उत्सव" नया प्लान लॉन्च किया प्रिंसिपल की बर्ख़ास्तगी को मंजूरीज़मीन तबादला और इंतकाल दर्ज करने के बदले 25,000 रुपए रिश्वत लेता पटवारी काबू
कविताएँ

’बालदिवस तुम्हारा’

November 13, 2022 06:15 PM

  

सदा सफल हो, लक्ष्य तुम्हारा

शुभ दिन ये आशीष हमारा
श्रम का पौधा, कभी न मरता
यदि विश्वास भरा हो, कदम तुम्हारा

सदाचारी सद्-विजयी रहो तुम
बिखराओ ज्ञान की, अविरल धारा
योग्य, नेक, निःस्वार्थ हृदय हो!
निष्ठावान हो, हर कर्म तुम्हारा

स्वप्नों में प्रत्यूष जगाकर
पाओ आलस से छुटकारा
अविचल-अविराम करो परिश्रम
बहुत क़ीमती, समय तुम्हारा

मात-पिता की आशा हो तुम
कृतज्ञ बनो, तुम बनो सहारा
स्नेह-ज्योति से रोशन होकर
बढ़ता रहे, विशुद्ध-विवेक तुम्हारा

श्रेष्ठ शिखर पर पहुँचों ऐसे
जैसे पहुँचे गगन सितारा
करो अंतरिक्ष पर, परचम अपना
मेहनत है, हथियार तुम्हारा

देश-प्रगति में ऊर्जा भर दो
गुणों से अपने ,जीतो जग सारा
धारण करो शौर्य का गहना
वसुधा भी जाने , नाम तुम्हारा

तुमसे रौनक़, विधाँगन की
हाँ ये, हम सबने स्वीकारा
सब न्योछावर तुम पर बच्चों
मंगलमय हो, बालदिवस तुम्हारा
मंगलमय हो बालदिवस तुम्हारा

 

                     -सीमा सिंह
कार्मल कॉन्वेंट स्कूल, सेक्टर 9बी, चंडीगढ़


 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें