ENGLISH HINDI Wednesday, August 21, 2019
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
कार्यशाला में मृदंगम वादक मननार काएल बालाजी ने दक्षिणी भारतीय ताल की बारीकियां बताईएनएच एम्प्लाइज यूनियन ने प्रशासन के खिलाफ स्वास्थ्य सेवायें बंदकर प्रदर्शन किया ट्राईसिटी में घर बैठे राशन पंहुचायेगा जीवाला डॉट.इन ग्रॉसरी स्टोरस्वास्थ्य और सौंदर्य प्रेमियों के लिए वेगनटिक सुपर फूड्स ने एल्मो-एल्मोंड बेवरेज लॉन्च कियाजीरकपुर के शिवालिक विहार में प्रधान के घर शॉर्ट सर्किट से लगी आग से लाखों का नुक्सानई फाइलिंग कभी भी कहीं भी, ई-रिटर्न भरने के दिए टिप्ससाइबर अपराध और कानूनी जागरूकता पर 3 दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरूडेराबस्सी के सभी एटीएम पड़े हैं काफी समय से बंद
हिमाचल प्रदेश

सत्ता को रास नहीं आये ज्वालामुखी के एसएचओ

July 29, 2019 08:15 PM

ज्वालामुखी, (विजयेन्दर शर्मा)

 आखिर सत्ता को रास नहीं आये ज्वालामुखी के एसएचओ पुरूषोत्तम धीमान और महज 130 दिन बाद ही तबादला। हालांकि पुलिस अधिकारी का तबादला तीन साल तक नहीं हो सकता। लेकिन यहां एक ईमानदार कर्तव्यनिष्ठ पुलिस अधिकारी को इस तरह से रूखस्त कर दिया गया। क्या उनका यही दोष है कि उन्होंने एनडीपीएस एक्ट के तहत कई मामले बनाये। खनन माफिया पर नकेल कसी और दरबारी संस्कृति से दूर अपने काम को ही अपना धर्म माना।

यही नहीं धीमान ने पहली बार ज्वालामुखी थाना में भगवती जागरण व विशाल भंडारे का आयोजन करवा कर नया इतिहास रचा। जो भी हो धीमान के जाने से शायद किसी को काई फर्क नहीं पड़ेगा। लेकिन ज्वालामुखी के एक तबके को धीमान हमेशा ही याद आयेंगे। जिनके रहते ज्वालामुखी में चरस शराब व चिट्टा बेचने वालों में एक दहशत का माहौल बना था। वह शायद अब नहीं बन पायेगा।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें