ENGLISH HINDI Friday, October 18, 2019
Follow us on
 
पंजाब

कानून को ताक पर रख सड़कों पर लगे ग़ैर कानूनी फ्लैक्स बोर्ड, कहां गया डिफेसमेंट एक्ट?

October 09, 2019 11:12 PM

ज़ीरकपुर, जेएस कलेर

प्रदेश सरकार ने ही नहीं बल्कि हाईकोर्ट ने भी सरकारी इमारतों पर एडवरटाइजिंग करने वालों के विरुद्ध सख़्त कारवाई के निर्देश जारी कर रखे हैं, परन्तु जीरकपुर में इस रोक का सरेआम उल्लंघन किया जा रहा है। दूसरी ओर सरकार की ओर से रोड सेफ्टी को लेकर बड़े-बड़े दावे किये जाते हैं और आम लोगों को सड़कों पर सुरक्षित चलने के लिए लाखों रुपए ख़र्च कर कई महिमें चलाई जातीं हैं। परन्तु ज़ीरकपुर में लगे अवैध होर्डिंग सरकार के इन रोड सेफ्टी एक्ट के दावों और कानून की धज्जियाँ उड़ाते नज़र आ रहे हैं।

 जिक्रयोग है कि इन कानूनों की धज्जियाँ कोई अन्य नहीं बल्कि सरकार के अपने ही नेता और अधिकारियों की ओर से उड़ाई जा रही हैं। ज़ीरकपुर की सड़कें जिसका कुछ हिस्सा स्टेट हाईवे और कुछ हिस्सा नेशनल हाईवे अंतर्गत पड़ता है और त्यौहारी सीजन के चलते सड़कें फ्लैक्स बोर्ड की एडवरटाइजमेंट से भरी पड़ी हैं। जिस कारण सड़क पर चलने वाले राहगीर किसी समय भी बड़े हादसो का शिकार हो सकते हैं। जिसका कारण सड़कों किनारे लगे बड़े -बड़े फ्लैक्स बोर्ड बन सकते हैं।

समय -समय पर सरकारें और अदालतों की ओर से सड़कों पर सफर कर रहे लोगों की सुरक्षा को देखते हुए स्टेट हाइवे और नेशनल हाइवे पर इश्तिहारबाज़ी पर रोक लगाई जाती है और यदि किसी सड़क पर होर्डिंग लगाए जा सकते हैं तो उनके लिए भी कुछ नियम और शर्तों रखी जाती हैं। परन्तु ज़ीरकपुर की सड़कों पर लगे नेताओं बड़े -बड़े फ्लैक्स बोर्ड जो एक तरफ़ सरकार की तरफ से बनाए कानून का उल्लंघन कर रहे हैं, वहीं प्रशासन के उच्च अधिकारियों को भी सवालों के घेरे में खड़ा कर कर रख दिया है।

यह फ्लैक्स बोर्ड ज़ीरकपुर की उन स्थानों पर लगाए गए हैं, जो पहले ही प्रशासन की तरफ से ब्लैक स्पॉट्स की सूची में शामिल किये हुए हैं, क्योंकि इन स्थानों पर सड़क हादसे अधिक होते हैं। इस सब के बावजूद भी सड़कों के किनारों पर बड़े -बड़े फ्लैक्स लगे हुए हैं, जिससे राहगीरों की सीधी नज़र इन फ्लैक्स बोर्डों पर पड़ सके और ध्यान भटकने से इन ब्लैक स्पॉट्स पर हादसा घटने की उम्मीद ज्यादा रहती है। ज़रूरत है कि प्रशासन इस ओर ध्यान दे, जिससे होने वाले हादसों पर कमी लाई जा सके, परंतु डिफेसमेंट एक्ट का कोई नहीं है जानकार.

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
ऑफिस में घुसकर सिक्योरिटी इंचार्ज से की मारपीट, मामला दर्ज स्टाफ की कमी से कौंसिल प्रशासन कर रहा है बिलडिंग बाईलाज़ की अनदेखी वन कर्मी 22 को करेंगे मोहाली में घेराव बिना मंजूरी इमीग्रेशन दफ्तर खोलने पर व्यक्ति ख़िलाफ़ मामला दर्ज मतदान समाप्ति से 48 घंटे पहले लागू होने वाली हिदायतें जारी पंजाब की फ़ैक्ट्रियों में कार्यरत हरियाणा के श्रमिकों के लिए छुट्टी का ऐलान मोटरसाइकिल सवार को कार ने मारी टक्कर, इलाज दौरान मौत ऑस्ट्रेलिया से पति का फोन ‘तुम्हारे यहाँ निकला क्या चांद’ पत्नी ने चांद को दिया अर्क डिफेंस इन्कलेव में करवा चौथ पर किट्टी पार्टी की धूम 302 टी.बी. मरीज़ों के मामले सामने आए