ENGLISH HINDI Tuesday, September 22, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
विद्यार्थियों को अपने माता-पिता की लिखित सहमति के बाद ही कंटेनमैंट जोन से बाहर स्कूल जाने की आज्ञाबैंक ग्राहकों को ठगने वाले साईबर घोटालेबाजों के दो गिरोहों का पर्दाफाश, 6 गिरफ्तारलुधियाना जिला क्रिकेट एसो. चुनाव 17 वर्ष बाद 11 अक्तूबर कोप्रधानमंत्री फसल बीमा योजना आई, हो रही है अब फसली नुकसान की भरपाईखांसी, बुखार, जुकाम जैसे लक्षण वाले व्यक्ति हेल्पलाईन नम्बर 104 या 1077 पर करें सम्पर्क5 राज्यों का कुल सक्रिय मामले 60 फीसदी, नए मामले 52 फीसदी और रिकवरी दर 60 फीसदीजम्मू कश्मीर को फिर से धरती का स्वर्ग और भारत माता के मुकुट की मणि बनाएँ: राष्ट्रपति कोविन्दकांग्रेस ने जीरकपुर में ट्रेक्टर रैली आयोजित कर कृषि विधेयकों पर विरोध जताया
हरियाणा

स्क्रिप्ट कमेटी ने किया हरियाणवी और गैर-हरियाणवी 22 फिल्मों का मूल्यांकन,तानाजी फिल्म टैक्स फ्री

January 15, 2020 09:40 PM

पंचकुला,पानीपत, फेस2न्यूज

मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की हरियाणवी संस्कृति व हरियाणवी फिल्मों को बालीवुड में एक नई पहचान दिलवाने के लिए की गई पहल के सकारात्मक परिणाम आने लगे हैं। मंत्रिमण्डल बैठक में लिए गए एक महत्वपूर्ण निर्णय के तहत हरियाणा फिल्म प्रोत्साहन बोर्ड का गठन किया था और उसी कड़ी में गठित स्क्रिप्ट कमेटी ने पंचकूला के सैक्टर 1 स्थित लोक निर्माण विश्राम गृह के सभागार में 14 व 15 जनवरी,2020 को दो दिनों में हरियाणवी व गैर-हरियाणवी 22 फिल्मों का मूल्यांकन किया।

जिन फिल्मों को स्क्रिप्ट कमेटी ने देखा उनमें हरियाणवी फिल्मों में ‘दादा लख्मीचंद’ के अलावा, ‘हे राम’ ‘बनो तेरा हस्बैंड’, ‘बदला’, ‘बो मैं डरगी’, ‘कर्मक्षेत्र’ ,‘छोरियां छोरों से कम नहीं होती’, तथा ‘दरारें’ शामिल है, जबकि गैर-हरियाणवी तथा लघु फिल्मों की श्रेणी में ‘जब से मिली है वो’, ‘48 कोस’, ‘जंगम प्राईस्ट आफ लॉर्ड शिवा’, ‘आधी छुट्टी सारी’, ‘तुर्रम खां’, ‘वन्स अपॉन ए टाईम इन अम्बाला’, ‘तेरी मेरी गल बन गई’, ‘भिवानी-वल्र्ड आफ वेनसिंग वॉल पेटिंगस’, ‘गोल गप्पे’ तथा ‘ये बेचारा मर्द’ शामिल हैं। इसी प्रकार, पंजाबी फिल्मों में ‘जख्मी’ तथा ‘वियाह दे वाजे’ रहे।

  हरियाणवी फिल्मों के जाने-माने चेहरे श्री यशपाल शर्मा, बालीवुड अभिनेत्री मीता वशिष्ठ तथा हरियाणवी फिल्म पगड़ी के निदेशक श्री राजीव भाटिया इस स्क्रिप्ट कमेटी के सदस्य हैं। फिल्मों का मूल्यांकन करने के बाद संयुक्त रूप से एक पत्रकार सम्मेलन को सम्बोंधित करते हुए उन्होंने बताया कि वर्तमान हरियाणा सरकार ने हरियाणवी भाषा व हरियाणवी फिल्मों को बढ़ावा देने के लिए राज्य में पहली बार फिल्म नीति बनाई है।

उन्होंने कहा कि इस नीति के तहत हरियाणा की धरती पर बनाई जाने वाली अन्य भाषा की फिल्मों को हरियाणवी फिल्मों के समान आर्थिक प्रोत्साहन दिया जाएगा, जो एक सराहनीय कदम है। उन्होंने कहा कि सूचना, जनसम्पर्क एवं भाषा विभाग के निदेशक श्री पी.सी.मीणा ने स्वयं यहां कुछ फिल्मों को उनके साथ बैठकर देखा है, जो इस बात को दर्शाता है कि हरियाणा सरकार अपनी फिल्म नीति के प्रति कितनी गंभीर है

एक प्रश्न के उत्तर में श्री यशपाल शर्मा ने बताया कि उन्होंने अपनी फिल्म ‘दादा लख्मीचंद’ यहां दिखाई है, जिसकी शूटिंग सिरसा जिले के जमाल, गौसांईयां तथा बकरियांवाली गांव में की गई है। पंडित लख्मीचंद के पैतृक गांव में भी इस फिल्म के दृश्यों की शूटिंग की गई। उन्होंने बताया कि यह फिल्म दो भागों में है, जिसका शूटिंग का कार्य लगभग पूरा हो चुका है और ऐसी उम्मीद है कि आगामी जुलाई माह तक यह फिल्म रिलीज हो जाएगी। उन्होंने बताया कि हरियाणवी संस्कृति से जुड़ी यह फिल्म दर्शकों को काफी पसंद आएगी तथा हरियाणा की माटी को दर्शाती यह फिल्म आने वाले समय में निश्चत रूप से अपनी एक अलग पहचान बनाएगी।

स्क्रिप्ट कमेटी के सदस्यों ने विजेता दहिया की हरियाणवी फिल्म ‘दरारें’ की भी सराहना की। जिन फिल्मों को स्क्रिप्ट कमेटी ने देखा उनमें हरियाणवी फिल्मों में ‘दादा लख्मीचंद’ के अलावा, ‘हे राम’ ‘बनो तेरा हस्बैंड’, ‘बदला’, ‘बो मैं डरगी’, ‘कर्मक्षेत्र’ ,‘छोरियां छोरों से कम नहीं होती’, तथा ‘दरारें’ शामिल है, जबकि गैर-हरियाणवी तथा लघु फिल्मों की श्रेणी में ‘जब से मिली है वो’, ‘48 कोस’, ‘जंगम प्राईस्ट आफ लॉर्ड शिवा’, ‘आधी छुट्टी सारी’, ‘तुर्रम खां’, ‘वन्स अपॉन ए टाईम इन अम्बाला’, ‘तेरी मेरी गल बन गई’, ‘भिवानी-वल्र्ड आफ वेनसिंग वॉल पेटिंगस’, ‘गोल गप्पे’ तथा ‘ये बेचारा मर्द’ शामिल हैं। इसी प्रकार, पंजाबी फिल्मों में ‘जख्मी’ तथा ‘वियाह दे वाजे’ रहे।

इस अवसर पर सूचना, जनसम्पर्क एवं भाषा विभाग के निदेशक श्री पी.सी.मीणा, हरियाणा फिल्म नीति के प्रावधान के तहत गठित शासी परिषद के सदस्य श्री हरीश कटारिया तथा इन दर्शायी गई फिल्मों के प्रोडयुसर, निदेशक व कलाकार भी उपस्थित थे।
तानाजी फिल्म टैक्स फ्री
मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने प्रदेश में तानाजी फिल्म को टैक्स फ्री करने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने यह घोषणा आज पानीपत में नागरिकता संशोधन अधिनियम के समर्थन में आयोजित कार्यक्रम के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए की। इससे पूर्व, मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने सर्कस ग्राउंण्ड से यात्रा शुरू की। उन्होंने बीच-बीच में भारत माता की जय और वन्दे मातरम के नारों से लोगों में जोश भरने का काम किया। इस यात्रा में जगह-जगह लोगों ने हाथों में तिरंगा झण्डा उठाकर इस अधिनियम का समर्थन किया। गढ़ी बेसक से आए रफाकत हसन के साथ सैकड़ों मुस्लिमों ने इस यात्रा में हाथों में तिरंगा ले अधिनियम का समर्थन किया। महिलाएं भी अपने बच्चों के साथ नागरिकता संशोधन अधिनियम के पक्ष में तिरंगा झण्डा लहराती नजर आई।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हरियाणा ख़बरें
सरकारी मंडियां बंद नहीं होंगी, प्रत्येक जिले में होगी विशेष ‘कृषि अदालत’ की स्थापना: मुख्यमंत्री होम आइसोलेशन दौरान चिकित्सा विभाग की टीमें नियमित करेंगी जांच बीएसएनएल का बेड़ा गर्क कर रहे अधिकारी, महीनों से सैकड़ों फोन-इंटरनेट बंद निजी सुरक्षा एजेंसियों की लाइसेंस वैधता को 31 दिसंबर तक बढ़ाया कठिन हालातों में भी हार न मानने का संदेश देती सुराही : चौटाला एक आईएएस अधिकारी और पांच एचसीएस अधिकारियों कोअतिरिक्त कार्यभार अवैध रूप से यमुना से रेत ले जाते चार डम्परों को पकड़ा कार से 90 किलोग्राम गांजा बरामद, दो व्यक्ति गिरफ्तार हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की कोरोना रिपोर्ट फिर पॉजिटिव आई पंचकूला: अब तक का सबसे बड़ा कोरोना ब्लास्ट, 236 नए कोरोना संक्रमित