ENGLISH HINDI Saturday, November 28, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
क्या विकलांगता केवल शारीरिक ही होती है?बीएमसी ने बदले की भावना से तोड़ा था कंगना का ऑफिस, करनी होगी नुकसान की भरपाई: बॉम्बे हाईकोर्टविंटेज वाहन पंजीकरण हेतु प्रस्तावित नियमों पर जनता से मांगी गईं टिप्पणियांयातायात भीड़ और प्रदूषण कम करने के लिए मोटर वाहन एग्रीगेटर दिशानिर्देश जारीकोविड—19: 70 प्रतिशत सक्रिय मामले महाराष्ट्र, केरल, दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, पश्चिम बंगाल और छत्तीसगढ़ मेंसड़क दुर्घटना में प्रदर्शनकारी की गई जान, मामला दर्जनगर परिषद अध्यक्ष हेतु चुनाव खर्च सीमा 15 लाख और नगरपालिका अध्यक्ष के लिए 10 लाख रुपये निर्धारितपंजाब गऊ सेवा आयोग द्वारा राज्य के सभी उपायुक्तों को दिशा-निर्देश जारी
पंजाब

आवारा कुत्तों से दुखी है गुलमोहर सिटी अपार्टमेंट के लोग

October 26, 2020 08:01 PM

डेराबस्सी, पिंकी सैनी

हैबदपुरा रोड स्थित गुलमोहर सिटी अपार्टमेंट में आवारा कुत्ते लोगों पर अक्सर झपटते हैं। कल कुत्ते ने जब आदमी के पैर पर काटे जाने के बाद अपार्टमेंट में हंगामा हो गया। मौके पर मौजूद पुलिस पार्टी ने दोनों पक्षों को शांत करने की कोशिश की, लेकिन कोई हल नहीं निकल पाया। एक शख्स के कहने पर महिलाओं ने उसके कपड़े फाड़ दिए, जो उसे गाली दे रहा था, जिसके बाद हालात बिगड़ गए और पुलिस को मौके पर बुलाना पड़ा।

 अपार्टमेंट के निवासियों का कहना है कि गुलमोहर शहर में आवारा कुत्तों की संख्या बढ़ रही है, जो अक्सर लोगों को काटते हैं। जब वे आवारा कुत्तों को अपार्टमेंट से बाहर निकालने की कोशिश करते हैं, तो यहां रहने वाले कुछ लोग जो खुद को पशु प्रेमी बता कर जानवरों के लिए बनाए गए कानून का सहारा लेकर उनके खिलाफ कार्रवाई करने की धमकी देते हैं। 

  अपार्टमेंट के निवासियों का कहना है कि गुलमोहर शहर में आवारा कुत्तों की संख्या बढ़ रही है, जो अक्सर लोगों को काटते हैं। जब वे आवारा कुत्तों को अपार्टमेंट से बाहर निकालने की कोशिश करते हैं, तो यहां रहने वाले कुछ लोग जो खुद को पशु प्रेमी बता कर जानवरों के लिए बनाए गए कानून का सहारा लेकर उनके खिलाफ कार्रवाई करने की धमकी देते हैं। अपार्टमेंट के निवासियों ने आरोप लगाया कि उन्होंने डेरा बस्सी प्रशासन और एसडीएम के साथ आवारा कुत्तों से छुटकारा पाने के लिए लिखित शिकायत दर्ज कराई थी, लेकिन किसी ने भी इस मामले को हल नहीं किया।

दूसरी ओर, एक महिला जिसने इन आवारा कुत्तों और उनके छोटे बच्चों को भोजन दिया, उन्होंने कहा कि कुछ लोग कुत्तों को मारते हैं और हाल ही में एक व्यक्ति ने एक छोटे से पिल्ला को मार दिया और उसे मार डाला था आज भी वह भूखे कुत्तों को खाना खिला रही थी जिस दौरान महिलाओं ने उसके साथ दुर्व्यवहार किया और उसके कपड़े फाड़ दिए। महिला ने कहा कि वह किसी भी जानवर को भूखा नहीं देख सकती थी और वह जहां भी जाती थी अपने साथ आवारा जानवरों के लिए खाना रखती थी और अगर कोई जानवर अपार्टमेंट के बाहर देखा गया तो वह उसे दे देगी। लेकिन जिस अपार्टमेंट में वह रहती है, कुछ लोग अपनी सुविधा के लिए कुत्तों को बाहर निकालना चाहते हैं।

महिला ने कहा कि वह भी उसी अपार्टमेंट में रहती है और उसे आज तक किसी कुत्ते ने नुकसान नहीं पहुंचाया है। एएसआई मेवा सिंह ने कहा कि जानवरों की सुरक्षा के लिए बनाए गए कानून के अनुसार कोई भी व्यक्ति किसी भी आवारा जानवर को नुकसान नहीं पहुंचा सकता है। गुलमोहर सिटी में हंगामे की शिकायत मिलने के बाद वह मौके पर पहुंचे और दोनों पक्षों को शांत करने की कोशिश की। उन्होंने कहा कि उक्त अपार्टमेंट में रहने वाली एक महिला ने कपड़े फाड़ने की शिकायत दर्ज कराई थी, जिसकी जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
पंजाब गऊ सेवा आयोग द्वारा राज्य के सभी उपायुक्तों को दिशा-निर्देश जारी प्रशासन की लापरवाही से डेरा बस्सी शहर बना नरक: रंधावा दिल्ली कूच कर रहे किसानों को रोकने के लिए हरियाणा सरकार की जबरन कोशिशों की कड़ी आलोचना पंजाबी यूनिवर्सिटी के उप कुलपति डॉ. बी.एस. घूम्मन का इस्तीफ़ा मंजूर शिकवे सार्वजनिक तौर पर ज़ाहिर करने है तो कह सकते हो कांग्रेस को अलविदा, लीडरशिप बदलाव की ज़रूरत नहीं: कैप्टन पंजाब राज्य के पर्यावरण को हरा-भरा और शुद्ध बनाने के लिए यत्नशील सच्चे कर्मयोगी स्वर्गीय नौहर चंद गुप्ता को अर्पित कीं भावभीनी श्रद्धांलियां पंजाब के समूह शहरों और कस्बों में लगेगा रात का कर्फ़्यू राइट टू बिजनेस ऐक्ट के अंतर्गत दो महीने चलने वाली रजिस्ट्रेशन मुहिम की शुरुआत वार्ड अटेंडेंट की परीक्षा स्थगित