ENGLISH HINDI Tuesday, November 30, 2021
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
कार निर्माताओं को बायो-एथेनॉल से चलने वाले इंजन बनाने के होंगे निर्देशतकनीकी शिक्षा और औद्योगिक प्रशिक्षण विभाग के 25 अधिकारियों को मिली तरक्कीज़ायका प्रोजेक्ट में भ्रष्टाचार पर भाजपा सरकार चुप क्यों: कांग्रेसडिजिटल इंडिया की दिशा में तत्परता से कार्य कर रही बिहार सरकारआजादी अमृत महोत्सव मनाने हेतु युवाओं का, युवाओं द्वारा और युवाओं के लिए शो का आयोजनपंजाब सरकार के मुख्य सचिव द्वारा नाबार्ड वित्तीय सहायता प्राप्त परियोजनाओं की समीक्षादिव्यांगजनों के कौशल प्रशिक्षण हेतु एचपीकेवीएन की पहलकर संबंधी मामलों पर जिला स्तरीय प्रशनोत्तरी प्रतियोगिता आयोजित
राष्ट्रीय

सीबीआई ने जम्मू एवं कश्मीर में शस्त्र लाइसेंस रेकैट मामले की जॉच में ली 41 स्थानों पर तलाशी

October 12, 2021 08:29 PM

नई दिल्ली, फेस2न्यूज:
सी बी आई ने शस्त्र लाइसेंस रैकेट से सम्बन्धित मामले की जारी जॉच में श्रीनगर, अनन्तनाग, बनिहाल, बारामूला, जम्मू, डोडा, राजौरी, किश्तवार (जम्मू एवं कश्मीर), लेह, दिल्ली एवं भिण्ड (मध्य प्रदेश) सहित लगभग 41 स्थानों पर स्थित तत्कालीन जिला अधिकारी (आई ए एस/के ए एस), डी आई ओ, लिपिक आदि सहित लगभग 14 तत्कालीन लोक सेवको; लगभग 05 निजी व्यक्तियों (मध्यस्थ व्यक्ति/एजेन्ट), लगभग 10 गन हाऊस/डीलरों के कार्यालयी एवं आवासीय परिसरों में आज तलाशी की। तलाशी के दौरान, जारी शस्त्र लाइसेन्स के दस्तावेज, लाभार्थियों की सूची, सावधि जमा में निवेश से सम्बन्धित दस्तावेज एवं अन्य बिक्री प्राप्तियॉ, सम्पत्ति के दस्तावेज, बैंक खाता विवरण, लॉकर की चाबियाँ, आपत्तिजनक विवरणों से भरी डायरी, शस्त्र लाइसेन्स पंजी, इलेक्ट्रानिक यंत्र/मोबाइल फोन तथा पुरानी मुद्रा सहित कुछ नकद, आपत्तिजनक दस्तावेज आदि बरामद हुए।
सीबीआई ने जम्मू एवं कश्मीर सरकार के निवेदन और इसके अतिरिक्त भारत सरकार की अधिसूचना पर दो मामलें दर्ज किए तथा वर्ष 2012 से 2016 की अवधि के दौरान पूर्व के जम्मू एवं कश्मीर राज्य में बड़े पैमाने पर शस्त्र लाइसेंस जारी करने के आरोप पर पूर्व में दर्ज दो प्राथमिक सूचना रिपोर्ट यथा पुलिस स्टेशन विजिलेंस ऑर्गनाइजेशन कश्मीर (वी ओ के) में 17 मई 2018 की प्राथमिक सूचना रिपोर्ट संख्या 18/2018 तथा पुलिस स्टेशन विजिलेंस ऑर्गनाइजेशन जम्मू (वी ओ जे) में 17.05.2018 की प्राथमिक सूचना रिपोर्ट संख्या 11/2018 की जाँच को अपने हाथों में लिया। यह आरोप है कि 2.78 लाख से अधिक शस्त्र लाइसेंस अयोग्य व्यक्तियो को जारी किये गये। सीबीआई ने, कथित रुप से जम्मू एवं कश्मीर के 22 जिलों में फैले, उक्त शस्त्र लाइसेंसों को जारी करने से सम्बंधित दस्तावेजों को भी एकत्र किया।
दस्तावेजों की जाँच एवं छानबीन के दौरान, कुछ गन डीलरों की भूमिका पाई गई जिसमें लोक सेवकों यथा सम्बंधित जिले के तत्कालीन डी एम और तत्कालीन ए डी एम आदि के साथ मिलीभगत करके कथित रुप से अयोग्य व्यक्तियों को अवैध शस्त्र लाइसेंस जारी किए गए। यह भी आरोप है कि जिन व्यक्तियों को इस तरह के लाइसेंस जारी किए गए थे वो उस जगह के निवासी नही थे जहाँ से उक्त शस्त्र लाइसेंस जारी किए गए थे। मामलें में जाँच जारी है।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
कार निर्माताओं को बायो-एथेनॉल से चलने वाले इंजन बनाने के होंगे निर्देश डिजिटल इंडिया की दिशा में तत्परता से कार्य कर रही बिहार सरकार आजादी अमृत महोत्सव मनाने हेतु युवाओं का, युवाओं द्वारा और युवाओं के लिए शो का आयोजन पंजाब सरकार के मुख्य सचिव द्वारा नाबार्ड वित्तीय सहायता प्राप्त परियोजनाओं की समीक्षा सीबीआई ने 20,000 रु. की रिश्वत लेने पर जम्मू पुलिस कर्मी को किया गिरफ़्तार बैंक धोखाधड़ी आरोप में निजी कंपनी, इसके निदेशकों/साझीदारों सहित अन्यों के विरूद्ध मामला दर्ज केजरीवाल ने दिल्ली के एक लाख जीरो बिल दिखाते हुए चन्नी को सिर्फ 1 हजार जीरो बिल पेश करने की दी चुनौती समिति ने सोशल मीडिया पर कथित घृणित पोस्ट को लेकर अभिनेत्री कंगना रनौत को किया तलब पनडुब्बी 'आईएनएस वेला' नौसेना डॉकयार्ड, मुंबई में नौसेना में शामिल निजी व्यक्तियों एवं बैंक कर्मियों सहित चार आरोपियों को एक से छः वर्ष की कठोर कारावास के साथ कुल 10.24 करोड़ रु. का जुर्माना