ENGLISH HINDI Saturday, May 21, 2022
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
हरियाणा सरकार ने तुरंत प्रभाव से 2 आईएएस और 2 एचसीएस अधिकारियों के स्थानांतरण एवं नियुक्ति आदेश जारी किएआगामी नगर निगम चुनाव हेतु आम आदमी पार्टी ने कसी कमरबलटाना: मेन मार्केट में रेहड़ी-फड़ियों से रोज लगता है जामगांव में चीता देखे जाने के बाद क्षेत्र में दहशत, लगाया पिंजरा, टीम तैनातजीबीपी खिलाफ दर्ज धोखाधड़ी मामलों की एसपी रूरल करेंगे जांचप्राचीन गुग्गा माडी मंदिर में लखदाता पीर का वार्षिक उत्सव का आयोजनसोमवति आमवस्या पर शनि जयंती 30 मई को शनि मन्दिर बहादराबाद हरिद्वार मेंवाकनाघाट उत्कृष्टता केन्द्र में परामर्श सेवाएं प्रदान करने के लिए अनुबन्ध हस्ताक्षरित
पंजाब

पंजाब में राजनीतिक सरगर्मी तेज, विकास को सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे नेता

January 22, 2022 09:44 AM

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:

पंजाब विधानसभा चुनाव की तारीख अब बेहद नजदीक आ चुकी है। फिलहाल सियासी गलियारे में काफी हलचल नजर आ रही है। भारत निर्वाचन आयोग ने इस बार कोरोना के चलते नई गाइडलाइन तय की है। नए नियमों के तहत राजनीतिक दलों को सार्वजनिक सभाएं और रैलियां न कर मतदाताओं से वर्चुअल संपर्क साधने को कहा गया है। ऐसे में विधानसभा चुनाव में अपनी जीत तय करने के लिए राजनैतिक दलों और नेताओं की सोशल मीडिया पर निर्भरता बढ़ गई है।

रैली-जनसभा और रोड शो पर रोक की वजह से सभी को डिजिटल वार की तैयारी करनी पड़ रही है। राजनीतिक दल वर्चुअल माध्यम से ही अपने-अपने उम्मीदवारों के नाम की घोषणा भी कर रहे हैं। इसके साथ ही पंजाब में आम आदमी पार्टी, कांग्रेस, शिरोमणि अकाली दल, पंजाब लोक कांग्रेस, भाजपा सहित सभी दलों ने सत्ता हासिल करने के लिए कोशिशें शुरु कर दी हैं। चुनाव में एक तरफ जहां आरोप-प्रत्यारोप का दौर चल रहा है, वहीं सभी राजनीतिक पार्टियां वोटरों के हित में किए गए कार्यों का ब्योरा दे रही हैं और लुभावने वादे भी कर रही हैं।

इन सब के बीच पांच साल तक सत्ता में रही कांग्रेस अब विकास के मुद्दे पर एक बार फिर सत्ता हासिल करना चाहती है। पांच साल के दौरान तमाम उठापटक व राजनीतिक खींचतान के बीच कांग्रेस नेता अपने-अपने क्षेत्र में कराए गए विकास कार्यों को जनता के सामने ला रहे है। पंजाब सरकार के पूर्व मंत्री भारत भूषण आंशु, विधायक कुलजीत सिंह नागरा व विधायक परमिंदर सिंह ढिंढसा (शिअद) ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म Koo App पर अपने क्षेत्र में हुए विकास कार्यों को बताते हुए पोस्ट शेयर किए हैं।

पंजाब में किसके बीच टक्कर:

पंजाब में इस बार कांग्रेस, आम आदमी पार्टी, अकाली दल के अलावा एक चौथा मोर्चा भी मैदान में है। कांग्रेस से विदाई के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पंजाब लोक कांग्रेस के नाम से पार्टी बनाई है। जहां अभी तक किसी भी पार्टी ने पंजाब में मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित नहीं किया है, आम आदमी पार्टी ने सांसद भगवंत मान को सीएम पद के लिए प्रत्याशी घोषित कर दिया है। भगवंत मान संगरूर जिले की धुरी विधानसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे। वह पिछली दो बार से संगरूर लोकसभा सीट से आप के सांसद हैं।

पंजाब में 20 फरवरी को मतदान:

चुनाव आयोग ने अब 14 फरवरी की जगह 20 फरवरी मतदान की तारीख तय की है। 16 फरवरी को रविदास जयंती को देखते हुए आयोग ने चुनाव की तारीख आगे बढ़ा दी है। सभी 117 सीटों पर एक चरण में 20 फरवरी को मतदान होगा। वहीं, वोटों की गिनती 10 मार्च को की जाएगी।

2017 विधानसभा चुनाव का हाल:

पंजाब में विधानसभा की कुल 117 सीटें हैं। 2017 के विधानसभा चुनाव में कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में कांग्रेस ने पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता हासिल की थी। कांग्रेस ने राज्य की 77 सीटों पर जीत दर्ज की थी। वहीं, आम आदमी पार्टी ने पहली बार राज्य में विधानसभा चुनाव लड़ते हुए 20 सीटों पर जीत हासिल की थी। जबकि अकाली दल को 15 सीटों पर जीत मिली थी। बीजेपी ने 3 जबकि अन्य को दो सीटों पर सफलता हासिल हुई थी।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें