ENGLISH HINDI Friday, November 22, 2019
Follow us on
 
चंडीगढ़

आरोप प्रत्यारोपों के बीच मसीही समाज उतरा पास्टर के समर्थन में, निकाला प्रार्थना मार्च

October 09, 2019 09:16 PM

पवित्र बाइबिल ग्रंथ के वचनों के अपमान पर मसीह एकता संघर्ष कमेटी ने की आरोप लगाने वाली वाली महिला पर कड़ी कार्रवाई की मांग  

चंडीगढ़, फेस2न्यूज

पादरी बजिन्दर सिंह पर लंदन में एक महिला की ओर से उसकी 8 वर्षीय बच्ची के साथ दुष्कर्म के लगाए आरोपों के जवाब में बुधवार को मसीह एकता संघर्ष कमेटी  ने प्रार्थना मार्च निकाला.

इस संबंध में चंडीगढ़ प्रेस क्लब में आयोजित पत्रकारवार्ता में मसीह एकता संघर्ष कमेटी के चेयरमैन संजीव कुमार, अल इंडिया क्रिश्चियन समाज मोर्चा के प्रेसिडेंट जसपाल मसीह और कांग्रेस जिला प्रधान रोशन जोसेफ ने आरोप लगाने वाली महिला की निंदा करते हुए कहा कि यह वही महिला है, जिसने पवित्र ग्रंथ बाइबिल के पवित्र वचनों को लेकर अपशब्द इस्तेमाल किये हैं।

इन्होंने कहा, महिला ने  पास्टर के खिलाफ प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान हमारे आत्मिक शब्द का मजाक उड़ाया था। जिस कारण मसीही समाज की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची है।

उन्होंने कहा, पास्टर से महिला की निजी लड़ाई हो सकती है। जिसके बीच मे धर्म को लाने का कोई औचित्य नहीं है। मसीही समाज चंडीगढ़ प्रशासन से पुरजोर मांग करते है कि उक्त महिला के खिलाफ धारा 295-ए के तहत मामला दर्ज करके जल्द से जल्द महिला को गिरफ्तार किया जाए। उन्होंने चिंता जताते हुए कहा कि यदि उक्त महिला के खिलाफ कोई कार्रवाई नही हुई तो मसीही समाज की भावना आहत होंगी।

प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वालों ने कहा कि मामला जमीन और निजी महत्वाकांक्षा से जुड़ा है, जिसने आठ वर्षीय बालिका को मोहरा बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। जिसके चलते उसने सम्मानित पास्टर को लपेटे में ले लिया और बेहद ही गंदे और शर्मनाक इल्ज़ाम पास्टर पर लगा दिए। हम इन आरोपों की पहले ही कड़ी निंदा कर चुके है और मसीही समाज की तरफ से एकता भाईचारे का संदेश देते हुए उक्त महिला के लिए सद्बुद्धि की प्रार्थना करते है।
 

 क्या है मामला
पादरी  और महिला अपनी 8 वर्षीय बच्ची के साथ लंदन में एक कॉन्पफ्रेंस अटेंड करने गए थे, जहां वह कुछ दिन   में रहे. महिला ने वतन वापसी पर उसकी बच्ची से लंदन में दुष्कर्म करने के आरोप लगाए और जिस महिला निरमलीत कौर के साथ एक होटल में वहां रहे, उस पर  भी पदारी का देने का भी आरोप लगाया और पुलिस को लिखित में शिकायत दी, जो अभी पेंडिंग है, जिसके पीछे यह कारण बताया जा रहा है कि मामला विदेश का है. दूसरी ओर पादरी ने आरोपों से इनकार करते हुए कहा महिला वहां लंदन की एक चर्च की हैड बनना चाहती थी, उसकी इच्छापूर्ति न होने पर उसने उस पर घिनौने आरोप लगाए.
पादरी पर पहले भी दर्ज है जीरकपुर में मामला 

पीड़िता की मां के वकील केतन शर्मा, जो नेशनल ह्यूमन राइट्स एंड क्राइम कंट्रोल ब्यूरो के नेशनल जनरल सेके्रटरी हैं, ने चंडीगढ़ प्रेस क्लब में मीडिया के समक्ष पूरे मामले का खुलासा किया था। इससे पहले भी पास्टर बजिंदर सिंह के खिलाफ एक महिला के साथ रेप करने के आरोप लग चुके हैं। उक्त मामले में बजिंदर सिंह के खिलाफ जीरकपुर थाने में एफआईआर दर्ज हुई थी।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और चंडीगढ़ ख़बरें
योग व ध्यान शिविर का आयोजन चण्डीगढ़ भाजपा को जल्द मिलेगा नया अध्यक्ष पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमति इंदिरा गांधी की 102वी जयन्ती पर श्रद्धासुमन अर्पित प्रिंस बंदुला के प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र की शुरुआत, संजय टंडन ने किया उद्घाटन पंडित यशोदा नंदन ज्योतिष अनुसंधान केंद्र एवं चेरिटेबल ट्रस्ट (कोटकपूरा ) ने वार्षिक माता का लंगर लगाया गुणवत्तायुक्त शिक्षा के साथ संस्कारों का समावेश जरूरी : राजेंद्र राणा सन्यासी ही समाज को दिशा दे सकते हैं :आयुषी अयोध्या राम मंदिर फैसला: राष्ट्रीय हिन्दू शक्ति संगठन ने सुप्रीम कोर्ट फैसले का किया स्वागत चिल्ड्रेंस डे: एनजीओ द लास्ट बेंचर्स ने स्टूडेंट्स को किया सम्मानित अमृत कैंसर फाउंडेशन और एनजीओ-द लास्ट बेंचर्स और एजी ऑडिट पंजाब ने महिला स्टाफ़ के लिए लगाया कैंसर अवेयरनेस एंड डिटेक्शन कैम्प