ENGLISH HINDI Friday, August 14, 2020
Follow us on
 
पंजाब

पंजाबी गायक सिद्धु मूसेवाला समेत आठ के खिलाफ केस, पांच पुलिस मुलाजिमों के साथ ही डीएसपी मुख्यालय विर्क सस्पेंड

May 04, 2020 07:33 PM

कफ्र्यू की धज्जियां उड़ा गांव बडबर में की गई शूटिंग में मूसेवाला ने की थी ऐके 47 राईफल से फायरिंग,डीजीपी पंजाब पुलिस ने लिया संज्ञान : मूसावाला के साथ शूटिंग में शामिल पांच पुलिस मुलाजिमों के साथ ही डीएसपी संगरूर को भी कर दिया सस्पेंड

बरनाला, अखिलेश बंसल/करन अवतार।

जिला के धनौला थाना में पंजाबी गायक सिद्धु मूसेवाला के खिलाफ आम्र्स एक्ट, 188 आईपीसी, 51 डिजास्टर मैनेजमैंट एक्ट-2005 के तहत के तहत केस दर्ज हुआ है। आरोप यह है कि मूसेवाला ने गांव बडबर में एक गीत की शूटिंग करने के लिए ऐके-47 राइफल का इस्तेमाल किया था, जिससे बडबर एरीया में फायरिंग की गई थी और कफ्र्यू की उल्लंघना की थी। आरोपितों में 2 साथी और संगरूर पुलिस के 5 मुलाजिम भी शामिल हैं।

सभी आरोपित अभी पुलिस गिरफ्त से बाहर हैं। उधर, पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता ने डीएसपी मुख्यालय दलजीत सिंह विर्क को सस्पेंड कर विभागीय जांच के आदेश दे दिए हैं

वीडियो वायरल होने के बाद हुआ केस-
प्राप्त जानकारी के अनुसार गायक सिद्धु मूसेवाला द्वारा गांव बडबर में की गई शूटिंग की वीडियो वायरल हुई थी। जिसमें उसने ऐके-47 राइफल का इस्तेमाल किया था। शूटिंग के वक्त मुख्यारोपी सिद्धु मूसेवाला के साथ उसके दो साथी कर्म सिंह लहल व जंग शेरसिंह पटियाला, संगरूर पुलिस मुलाजिमों में थानेदार बलकार सिंह, हवलदार गुरजिंदर सिंह व गगनदीप सिंह, सिपाही जसवीर सिंह व हरविंदर सिंह शामिल थे। जिसकी सूचना पंजाब पुलिस के निदेशक दिनकर गुप्ता तक भी पहुंची थी। जिनके आदेश पर पूरे राज्य की पुलिस हरकत में आयी। पूरी वीडियो देखने के बाद ही पुष्टि हो सकी थी कि उक्त वीडियो जिला बरनाला के गांव बडबर से वायरल हुई और शूटिंग भी यहीं पर हुई थी।

मशहूर होने के लिए करता ही विपरीत गतिविधियां-

पिछले समय में देखा गया है कि ज्यादातर व्यक्तियों का नाम सुर्खियों में आया है तो वह समाजिकता से उल्ट गतिविधियां करने में ही आया है। जिसका फायदा उठाते सिद्धु मूसे वाला लंबे समय से ऐसी विपरीत गतिविधियों को अंजाम देता आ रहा है। पिछले समय में इसके बाउंसर पत्रकारों से भी उलझ चुके हैं।

जिला पुलिस मुखी ने तुरंत लिया एक्शन-

जिला पुलिस मुखी संदीप गोयल का कहना है कि पुलिस द्वारा किसी को भी कानून की उल्लघंना करने की इजाजत नहीं दी जा सकती। सिद्धु मूसे वाला हो या कोई और। उन्होंने कहा है कि कानून की नजर में जो भी सजा है उसके तहत ही मूसेवाला के खिलाफ कार्रवाई की गई है। जिला पुलिस मुखी ने कहा है कि आरोपितों को  गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
मुख्यमंत्री द्वारा नकली शराब मामले में डी.जी.पी. को भद्दे ढंग से निशाना बनाने के लिए मजीठिया की कड़ी आलोचना माईक्रो और सीमित ज़ोनों में 100 प्रतिशत टेस्टिंग के निर्देश पटियाला में लगने वाले धरने लोगों की जान के लिए बने खतरा: सिंगला स्कूल के ऑनलाइन पेंटिंग और निबंध प्रतियोगिता 13 अगस्त को जन्माष्टमी की रात कफ्र्यू में ढील सरकारी स्कूलों में दाखि़ले के लिए ट्रांसफर सर्टिफिकेट की बन्दिश ख़त्म करने की हिदायत कोविड के मद्देनजऱ 4000 तक और कैदी रिहा किये जाएंगे: रंधावा ‘ऐजूकेशन हब्ब’ के तौर पर विकसित होगा मोहाली, यूनिवर्सिटी की स्थापना के लिए ‘लैटर ऑफ इनटैंट’ जारी सेना के गुम हुए जवान सतविंदर कुतबा के परिवार को अभी भी वापस आने की उम्मीद शहीदों को याद करना मतलब युवा पीढ़ी को जागरूक करना