ENGLISH HINDI Wednesday, April 08, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
डेराबस्सी में कोरोना पॉजिटिव के चार और मामले, ढिल्लों की रिपोर्ट नेगेटिव14 अप्रैल के बाद कफ्र्यू को और आगे बढ़ाने की रिपोर्टों को रद्द कियाप्रधानमंत्री श्री मोदी ने राजनीतिक दलों के नेताओं के साथ किया विचार-विमर्शकोविड-19 के मद्देनजर जरूरतमंदों में वितरण हेतु केंद्रीय भंडार द्वारा निर्मित 2200 से ज्‍यादा आवश्‍यक किट्स सौंपीमदद करने वाले व्यापारियों को धारा 80-सी के तहत इनकम टैक्स में छूट दे सरकार: चीमालॉकडाउन से धीरे-धीरे बाहर निकलने के लिए उपाय ढूँढने हेतु टास्क फोर्सतबलीगी जमात के कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के नजदीकी लोगों का पता लगाने निर्देशकिसानों और दानी सज्जनों को गौशालाओं में चारा पहुँचाने की अपील
एस्ट्रोलॉजी

कैसा रहेगा 2020 आप और देश के लिए ?

December 26, 2019 09:00 PM

चंडीगढ़, मदन गुप्ता सपाटू, ज्योतिर्विद्, 098156 19620

  यह संयोग ही होगा कि पहली जनवरी को अंग्रेजी नव वर्ष 2020 और 25 मार्च को विक्रमी नव संवत 2077 का आरंभ इस बार बुधवार के शुभ दिन ही हो रहा है। कमल योग में नव वर्ष का प्रवेश अत्यंत शुभ माना गया है। और देखिये- 2020 का आगाज भी रवि और सिद्धि योग में हो रहा है।

इसके अलावा अंक शास्त्र के अनुसार, 21वीं सदी का यह साल दो शून्य और दो शून्य का हेै अर्थात 2020 का योग 4 है जो राहु ग्रह का प्रतिनिधित्व करता है। राहुु एवं बुध दोनों ही मिलकर ,इस बार देश व विश्व को एक नई दृष्टि, नए विचार, परिवर्तन, कंप्यूटर क्षेत्र में क्रांति , जीवन में तेजी, एक देश से दूसरे देश के मध्य त्वरित संचार प्रदान करेंगे।

2020 में बुध का आधिपत्य रहेगा क्योंकि नव संवत में इस बार राजा बुध और मंत्री चंद्रमा हैं। यही नहीं, अ्रग्रेजी नए साल का आरंभ भी कन्या लग्न में ही होगा जिसका स्वामी भी बुध ही हैे। कन्या राशि का संबंध 6 अंक से है और 1-1- 2020 का योग भी 6 ही है। जिनका जन्म 5,14, 23, या बुधवार, या कन्या लग्न,कन्या राशि या कुंडली में उच्च बुध में हुआ है, या जिनकी जन्म तिथि में 2, 3 ,4 ,5 के अंक हैं या तिथि का योग इनमें से कोई एक है, उनके लिए नया साल बहुत कुछ नया लेकर आया है।

मेरी 2020 की कुछ महत्वपूर्ण भविष्यवाणियां: * प्रधान मंत्री मोदी का स्वास्थ्य वर्षांत में बिगड़ सकता है। वे प्रधानमंत्री पद की दूसरी पारी सफलतापूर्वक पूरी करेंगे, तीसरी बार प्रधान मंत्री नहीं बनेंगे। 2022 से 2024 तक का समय ठीक नहीं है।* 2020 में ही भाजपा का एक नेता, मोदी जी के समकक्ष सहयोगी के रुप में खड़ा हो सकता हैे जो भविष्य में भारत की बागडोर संभालेगा।, *नागरिकता नियम के विरुद्ध जनाक्रोश मार्च से थमना आरंभ हो जाएगा। इसमें कुछ संशोधन किए जा सकते हैं।

भारत की 15 अगस्त, 1947 की मध्य रात्रि की कुंडली में बृष लग्न में राहु विराजमान है और कालसर्प योग भी है, जिसके कारण भारत हमेशा संघर्षमय रहा । आजादी के एक दम बाद हमले होने आरंभ हो गए और आजतक चल रहे हैं। इस बार का राहु भी छोटे बड़े हमलों के संकेत दे रहा है परंतु सारी विषमताओं एवं अंतर्विरोधों के बावजूद, हमारा देश विश्वपटल पर अपना तिरंगा लहराएगा और 2020 में विश्वगुरु अर्थात निर्णायक की भूमिका में आ जाएगा।

देश के लिए 24 जनवरी,2020 को शनि का मकर राशि में प्रवेश करना प्रगति की ओर एक कदम ओैर आगे बढ़ाने का बहुत शुभ संकेत है । हालांकि शनि भारत को भीतरी समस्याओं तथा विरोधी परिस्थ्तियों से जूझने का साहस भी देगा।

मेरी 2020 की कुछ महत्वपूर्ण भविष्यवाणियां

* प्रधान मंत्री मोदी का स्वास्थ्य वर्षांत में बिगड़ सकता है। वे प्रधानमंत्री पद की दूसरी पारी सफलतापूर्वक पूरी करेंगे, तीसरी बार प्रधान मंत्री नहीं बनेंगे। । 2022 से 2024 तक का समय ठीक नहीं है।

* 2020 में ही भाजपा का एक नेता, मोदी जी के समकक्ष सहयोगी के रुप में खड़ा हो सकता हैे जो भविष्य में भारत की बागडोर संभालेगा।

*नागरिकता नियम के विरुद्ध जनाक्रोश मार्च से थमना आरंभ हो जाएगा। इसमें कुछ संशोधन किए जा सकते हैं।

*राहु व बुध के आधिपत्य के कारण दूर संचार के क्षेत्र में सुखद क्रांतिकारी परिवर्तन आएंगे जिससे आम आदमी लाभान्वित होगा।

*टैक्सों में आम आदमी और जकड़ा जाएगा।

*राजनीतिक क्षेत्र में 4 व्योवृद्ध नेताओं और फिल्म जगत से 5 विश्वविख्यात कलाकारों का वियोग सहना पड़ सकता है।

*विश्व के अनेक देश भारत से संवाद और मैत्री के लिए हाथ बढ़ाएंगे और हम उन पर हावी रहेंगे और भारत विश्व गुरु बनने में एक कदम और आगे बढ़ा लेगा।

*2020 में 6 ग्रहण एक बार फिर भूकंप तथा प्राकृतिक आपदाओं को निमंत्रण देंगे।

भारत

भारत एक मजबूत अर्थव्यवस्था बनकर उभरेगा। इसमें सार्वजनिक क्षेत्र के सभी बैंकों का पूंजी आधार बढ़ाने पर भी अनेक नीतियां बनाई जाएंगी। अराजकता, अंतर्विरोध बढ़ने की स्थितियां बनेंगी। सत्ताधीशों और जनता के बीच भयंकर मतभेद उभरेंगे। प्रजा में अराजकता फैलेगी, सरकार के निर्णयों का भारी मात्रा में विरोध होगा। सरकार के खिलाफ प्रदर्शन, रैलियां होंगी, लेकिन अंतत: कोई ऐसी बड़ी घटना घटित होगी जो समस्त देशवासियों को तमाम अंतर्विरोधों के बावजूद एकसूत्र में पिरोने का काम करेगी।

शनि के राशि परिवर्तन से देश में राजनीतिक समीकरण तेजी से बदलेंगे। सत्तापक्ष के साथ कई नए दल आ सकते हैं, वहीं कुछ दल सत्तापक्ष की पार्टी से अलग भी हो सकते हैं। राजनीतिक महत्वाकांक्षाओं के चलते सत्ताधीशों को अपनों से ही विरोध का सामना करना पड़ेगा। विपक्षी दलों का मजबूत गठबंधन सरकार के निर्णयों के खिलाफ आवाज बुलंद करेगा।

नए साल 2020 में कुल 6 ग्रहण लगने जा रहे हैं। 10 जनवरी को साल का पहला चंद्र ग्रहण लगेगा। 14 दिसंबर को साल 2020 का आखिरी सूर्य ग्रहण लगेगा। 

प्रधान मंत्री मोदी

जन्म 17 सितंबर 1950 समय: सुबह 11 बजे जन्म स्थान: वडनगर गुजरात

शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव 24 जनवरी 2020 को आपकी राशि से समाप्त हो रहा है, समय अनुकूल आ रहा है। वर्तमान में चंद्र की महादशा चल रही है जो 29 नवंबर 2021 तक चलेगी। नवंबर 2021 के बाद कुछ राज्यों में बीजेपी सत्ता गंवा भी सकती है। अंतरराष्ट्रीय संदर्भ में वर्ष 2020 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत मजबूत राष्ट्र के तौर पर दुनिया में अपनी धाक जमाने में कामयाब होगा। एशियाई देशों में धाक बढ़ेगी। पाकिस्तान से अघोषित युद्ध जैसे हालात अगस्त तक बनेंगे और भारत उनका मुंहतोड़ जवाब भी देगा। शारीरिक स्वास्थ्य में कुछ गिरावट आ सकती है। परिवार में माता के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी। खासतौर पर अगस्त के महीने में माता को कष्ट के संकेत है। आपके देश और जनता के हित में कई महत्वपूर्ण फैसले लेने में कामयाब होंगे, हालांकि भारी विरोध का सामना भी करना पड़ेगा और कुछ अराजक तत्व देश में अस्थिरता फैलाने का प्रयास भी करेंगे। विरोधी दल के लोग आपको सत्ता से हटाने का पूरा प्रयास करेंगे, लेकिन आपके लिए यह सुकून वाली बात रहेगी कि कोई अस्थिर नहीं कर पाएगा। वर्ष 2020 में प्रधानमंत्री के निकट सहयोगी, बड़े राजनेता की क्षति हो सकती है। मार्च में हो सकता है बड़ा उलटफेर प्रधानमंत्री के सितारे कहते हैं कि मार्च 2020 में सत्तापक्ष या मंत्रिपरिषद में कोई बड़ा उलटफेर हो सकता है। मंत्रियों के प्रभार बदले जा सकते हैं। पार्टी के भीतर ही कोई आपके विरोध में खड़ा होगा और आपकी छवि को नुकसान पहुंचाने का प्रयास कर सकता है।

प्रधानमंत्री मोदी काफी मजबूत आत्मविश्वास के साथ आक्रामक और अप्रत्याशित फैसले लेंगे जो देश में ऐतिहासिक बदलाव लाएगा। आने वाले दो साल तक यानी सितंबर 2022 तक प्रधानमंत्री जी जनहित के फैसलों के साथ कठोर निर्णय लेंगे, जिससे मूलभूत परिवर्तन देश के नियम-कानून में भी होगा। हालांकि मोदी का यह साहसिक और बोल्ड निर्णय का समय 2022 तक ही चल पाएगा।2022 से 2024 के बीच का समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए शुभ नहीं कहा जाएगा। यह समय उनके लिए काफी चुनौतीपूर्ण और तनावपूर्ण होगा।  

2020 में ग्रह गोचर

गुरु ग्रह 20 नवबंर तक धनु राशि में रहेंगे ओैर फिर मकर में नीच हो जाएंगे। शनि 24 जनवरी से अपनी मकर राशि में आ जाएंगे। राहु 23 सितंबर से बृष राशि में चले जाएंगे। धनु, मकर एवं कुंभ राशि वाले साढ़ेसाती के प्रभाव में रहेंगे। मिथ्ुान और तुला राशि वालों को शनि की ढैय्या रहेगी।

च्ंाद्र राशि के अनुसार आपका भविष्य फल

मेष

राहू आपके यश, मान सम्मान और पराक्रम में वृद्धि के संकेत कर रहे हैं। सफलता प्राप्त करने के लिए आपको कड़ी मेहनत और संघर्ष करना होगा। किसी नए काम की शुरुआत की सोच रहे हैं तो 11 मई से पहले कर लें, । स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से यह साल आपके लिए मध्यम परिणाम वाला साबित होगा। त्वचा संबंधी किसी रोग से परेशानी हो सकती है।माता-पिता के साथ किसी तीर्थयात्रा पर जा सकते हैं।नया घर लेने का सपना साकार हो सकता है।

वृषभ

शनि की ढैया का असर बिलकुल खत्म हो जाएगा।30 मार्च को भाग्य स्थान में गुरु और शनि की युति आपके लिए बहुत कुछ अच्छा होने के संकेत दे रहा है।नई नौकरी की तलाश में हैं तो यह काम साल की शुरुआत में ही पूर्ण कर लें।पिता के साथ वाद-विवाद की स्थिति उत्पन्न हो सकती है। वाणी पर संयम रखें और किसी के साथ भी गलत व्यवहार न करें।आलस्य का त्याग करें अन्यथा सभी महत्वपूर्ण कार्य हाथ से निकल जाएंगे।

मिथुन

नीचभंग राजयोग बनेगा जिसका लाभ कार्यक्षेत्र में मिल सकता है।अचानक ही किसी काम में रुकावट और मुसीबत का सामना करना पड़ सकता है।पैसों के लेन-देन के मामलों में सतर्कता बरतें।विदेश यात्रा के लिए जाना हो सकता है।लंबे वक्त से चले आ रहे जमीन-जायदाद के मामलों का निपटारा होगा।

कर्क

2020 मिला-जुला रहने वाला होगा। आलस्य को खुद से दूर करें, क्योंकि यह आपके हित में नहीं होगा।व्यापार से जुड़े लोग साल की शुरुआत में कुछ महत्वपूर्ण निर्णय ले सकते हैं।काम के सिलसिले में किसी विदेशी स्रोत से जुड़ सकते हैं।संतान के स्वास्थ्य का ध्यान रखें।वाहन चलाते वक्त सावधानी बरतें।साज-सज्जा की वस्तुओं पर पैसे खर्च करने से बचें।अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखें, किसी पुरानी बीमारी से परेशान हो सकते हैं।व्यर्थ के वाद विवाद में न उलझें, धन हानि की संभावना हो सकती है।

सिंह

2019 की तुलना में सिंह राशि वालों के लिए यह साल शुभफलदायक रहेगा। इस साल आपको अपनी मेहनत का भरपूर लाभ मिलेगा यानी कि सफलता प्राप्त करने के लिए भरपूर मेहनत की आवश्यकता होगी।जमीन-जायदाद के क्षेत्र में निवेश करने से पहले अच्छी तरह सोच-विचार कर लें।स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याएं सामने आ सकती हैं। किसी पुरानी बीमारी की वजह से मानसिक तनाव से घिर सकते हैं।साल के मध्य में अपनी नौकरी में परिवर्तन की कदापि न सोचें।किसी वर्षों पुराने मित्र से इस दौरान मुलाकात हो सकती है। नये घर, नए वाहन या मकान की खरीददारी के योग हैं।

कन्या

इस राशि पर से शनि की ढैय्या समाप्त होने वाली है। आप किसी रुकी हुई शिक्षा को पूरा कर सकते हैं।कोई महत्वपूर्ण निर्णय ले सकते हैं।किसी नए बिजनेस की शुरुआत करने जा रहे हैं तो अच्छी तरह से विचार-विमर्श जरूर कर लें।कार्यक्षेत्र में किसी करीबी सहयोगी के साथ मतभेद की स्थिति उत्पन्न हो सकती है।माता-पिता का सहयोग मिलेगा।आभूषण या कोई महंगी चीज खरीद सकते हैं।साल के मध्य में घर या गाड़ी खरीद सकते हैं।

तुला

इन राशि के जातकों पर चतुर्थ की ढैया प्रारंभ हो जाएगी। ऐसे लोग जो किसी प्रकार के बिजनेस से जुड़े हैं, उन्हें इस साल अच्छे अवसर मिल सकते हैं।किसी भी प्रकार के अहंकार से खुद को बचाकर रखें।धन निवेश के मामलों में विशेष रूप से सोच-विचार कर लें, किसी के बहकावे में न आएं। सितंबर माह के बाद विदेश यात्रा के योग बन सकते हैं।वाद-विवाद की स्थिति उत्पन्न होने पर दूर ही रहें।

वृश्चिक

·शनि की साढ़ेसाती भी खत्म हो जाएगी।2020 में उन्हें कई सुखद समाचार मिलेगा। यह समय आपके लिए किसी नए कार्य या बिजनेस की शुरुआत करने के लिए सबसे अच्छा रहेगा।आर्थिक स्थिति में वृद्धि होगी।किसी रुकी हुई पढ़ाई को इस साल पूरा कर सकते हैं। कार्यक्षेत्र में उन्नति के योग वाहन का सुख प्राप्त होता है। नौकरी में परिवर्तन होने की भी संभावना है।

धनु

साढ़ेसाती का आखिरी चरण होने से यह शनि जाते-जाते आपको सोने की तरह तपाकर उजला बना देगा आर्थिक मामलों से जुड़ी कुछ परेशानी आ सकती है लेकिन आपका कोई कार्य इस दौरान रुकेगा नहीं।जमीन-जायदाद से जुड़े मामलों में लाभ प्राप्त होगा। आर्थिक क्षेत्र में पिता का सहयोग मिलेगा।विदेश जाने की सोच रहे हैं, तो इस साल आपको रुकावटों का सामना करना पड़ सकता है। साल 2020 में आपके अंदर नई ऊर्जा का संचार होगा।कार्यक्षेत्र में नई-नई योजनाओं का विकास होगा जिसका लाभ आपको मिलेगा।प्रॉपर्टी में निवेश के लिहाज से इस वर्ष अच्छा फायदा हो सकता है।प्रेम जीवन के लिए अच्छा है।

मकर

शनि की साढ़ेसाती का दूसरा चरण प्रारंभ होगा । इस दौरान आत्मविश्वास में वृद्धि होगी और अपनी मंजिल की तरफ बढ़ने में मदद मिलेगी।बिजनेस की दिशा में आय के नए मार्ग बनेंगे और आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा। विदेश यात्रा का लाभ भी उठा सकते हैं।नया घर लेने का सपना भी इस साल पूरा हो सकता है।जीवनसाथी के साथ मतभेद की स्थिति उत्पन्न हो सकती है, सूझ-बूझ के साथ काम लें।अपनी सेहत का खास ख्याल रखें और वाहन चलाते वक्त सावधानी बरतें। प्रतियोगी परीक्षाओं में अच्छे अंकों से आपको विजय दिलाएगा। पारिवारिक जीवन के सामान्य रहने की संभावना है।दांपत्य जीवन में उतार चढ़ाव रह सकता है।

कुंभ

इस दौरान इस राशि के जातकों के लिए शनि के साढ़ेसाती का पहला चरण प्रारंभ होगा।हर क्षेत्र में सफलता प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत की आवश्यकता पड़ेगी। घर के साजो-सामान की वस्तुएं और नई गाड़ी को खरीदने में धन का खर्च हो सकता है।नए कार्य की शुरुआत करने से पहले एक बार दूसरों से सलाह-मशविरा जरूर कर लें। इस वर्ष आपकी आमदनी में वृद्धि होगी।आपके मान-सम्मान में भी वृद्धि होगी। इस वर्ष आपको अपने कार्यस्थल पर निराशा हाथ लग सकती है। सेहत से जुड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

मीन

इस साल समाज में नई पहचान मिलेगी और कार्यक्षेत्र में नए अवसर प्राप्त होंगे। वैवाहिक जीवन खुशहाल बीतेगा, जीवनसाथी के साथ अच्छा वक्त गुजारने का अवसर प्राप्त होगा। स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से शनि गोचर आपके लिए काफी लाभदायक साबित होगा।हर कार्य में माता-पिता का भरपूर साथ मिलेगा। अच्छी सौगातें मिलेंगी ,पारिवारिक जीवन में चली आ रही समस्याओं का समाधान हो जाएगा व्यापार अथवा कार्य के सिलसिले में फायदेमंद यात्रा करेंगे अगर आपका धन कहीं रुका हुआ है तो इस वर्ष वह आपके पास आ सकता है।संतान सुख प्राप्त होगा।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और एस्ट्रोलॉजी ख़बरें
14 अप्रैल से सूर्य के राशि परिवर्तन से कोरोना का धीरे धीरे प्रभाव कम होगा घर पर ही मनाएं 7 व 8 अप्रैल, मंगल व बुधवार को हनुमान जयंती ओैर करें आराधना व उपाय पहली अप्रैल अष्टमी या 2 अप्रैल नवमी पर वीडियो कान्फ्रैंसिंग से करें कन्या पूजन नवरात्र में 4 ग्रहों की विशेष चौकड़ी कारोना का संहार करेगी कोरोना से राहत 21 अप्रैल से , पूरा छुटकारा 1 जुलाई के बाद होलिका दहन व होली पर प्रचलित सामान्य प्रचलित एवं आंचलिक उपाय जीरकपुर में ज्योतिष कैम्प आयोजित: लोगों ने जानी समस्या, ज्योतिषों ने सुझाया उपाय कैसा रहेगा लीप का साल ? कैसा रहेगा 29 फरवरी को जन्मे लोगों का हाल ? होलाष्टक रहेगा 3 मार्च से 9 मार्च तक, जानिए क्यों नहीं करते इसमें शुभ कार्य ? लक्ष्य ज्योतिष संस्थान ने मनाया स्थापना दिवस