ENGLISH HINDI Friday, May 29, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
लाॅकडाउन में विभिन्न हेल्पलाइन नम्बरों से लोगों को मिली राहतशिक्षा विभाग में ठेके पर काम करते 496 कर्मियों के कार्यकाल में साल की वृद्धि को मंज़ूरीअध्यापक के 12 वर्षीय गुमशुदा लड़के की वापसी के लिए उपायुक्त ने लखनऊ भेजी कार, दो महीने बाद परिवार से मिला बच्चाबैंक उपभोक्ताओं को अगस्त माह तक दी राहत जुर्माने में भारी वृद्धि: अब सार्वजनिक स्थानों पर मास्क न पहनने पर होगा 500 रुपए का जुर्मानाव्यापरियों को बिना परेशानी ऋण दिलाने हेतु प्रतिनिधि मंडल मिला एसबीआई के उपमहाप्रबंधक सेबीज घोटाला: सीबीआई से जांच के डर से राज्यभर के सीइएओ ने बीज की दुकानों पर दौड़ाई टीमेंइंटरनेशनल हयूमन राइट्स काउंसिल चंडीगढ़ ने समाजसेवियों को किया सम्मानित
एस्ट्रोलॉजी

जीरकपुर में ज्योतिष कैम्प आयोजित: लोगों ने जानी समस्या, ज्योतिषों ने सुझाया उपाय

March 02, 2020 10:25 AM

चंडीगढ़: जीरकपुर के सावित्री टावर में आज ज्योतिष कैम्प का आयोजन गया। जिसका आयोजन रिद्धि सिद्धि ज्योतिष संस्थान-की ओर से किया गया था। जिसका उद्देश्य लोगों को जीवन मे आ रही परेशानियों, भविष्य, स्वास्थ्य और पारिवारिक सुख इत्यादि को लेकर उनकी जिज्ञासा और उससे बचने के लिए उपाय जानते भी देखा गया। ज्योतिष शिविर में ट्राईसिटी के सुप्रसिद्ध ज्योतिष विशेषज्ञों ने हिस्सा लिया। ये जानकारी वैदिक ज्योतिष आचार्य बाला दत्त पुजारी ने दी।

इस अवसर पर नाड़ी ज्योतिष एस के शर्मा, वैदिक व् टैरो कार्ड विशेषज्ञ रुपिंदर कौर, हस्त रेखा विशेषज्ञ नवदीप मदान, टैरो रीडर अंजलि शर्मा और वैदिक ज्योतिष अंजना देवी ने अपनी ज्योतिष विद्या से लोगों की समस्या जानी और उपाय सुझाये।
बाला दत्त पुजारी ने बताया कि इस ज्योतिष कैम्प में लोगों की दैनिक जीवन से संबंधित सभी तरह की परेशानियों को ज्योतिष विद्या अनुसार न केवल जानकारी दी गयी, बल्कि उसका उपाय भी बताया गया। इस शिविर में वैदिक, टैरो कार्ड रीडर और नाड़ी विशेषज्ञों ने अपनी ज्योतिष विद्या से लोगों की समस्या सुन उनका उपाय बताया। उन्होंने बताया कि ज्योतिष शिविर लगाने का उद्देश्य लोगों को अपनी परंपरागत ज्योतिष विद्या से न केवल पुनः जोड़ना है , बल्कि इसकी सटीकता से भी अवगत करवाना है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और एस्ट्रोलॉजी ख़बरें
कोरोना तुम कब जाओगे ? भारत तीसरी स्टेज में नहीं जाएगा, कोरोना की विदाई जुलाई से, परंतु अंतिम यात्रा नवंबर में वास्तु में आक के पौधे का महत्व 26 अप्रैल, रविवार की अक्षय तृतीया इस बार अत्याधिक शुभ 14 अप्रैल से सूर्य के राशि परिवर्तन से कोरोना का धीरे धीरे प्रभाव कम होगा घर पर ही मनाएं 7 व 8 अप्रैल, मंगल व बुधवार को हनुमान जयंती ओैर करें आराधना व उपाय पहली अप्रैल अष्टमी या 2 अप्रैल नवमी पर वीडियो कान्फ्रैंसिंग से करें कन्या पूजन नवरात्र में 4 ग्रहों की विशेष चौकड़ी कारोना का संहार करेगी कोरोना से राहत 21 अप्रैल से , पूरा छुटकारा 1 जुलाई के बाद होलिका दहन व होली पर प्रचलित सामान्य प्रचलित एवं आंचलिक उपाय कैसा रहेगा लीप का साल ? कैसा रहेगा 29 फरवरी को जन्मे लोगों का हाल ?