ENGLISH HINDI Monday, April 12, 2021
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
कर्नाटक: मई प्रथम सप्ताह तक हो सकते है कोविड-19 के मामले चरम पर: स्वास्थ्य मंत्रीजीवन रक्षक दवाओं पर अनिवार्य-लाइसेंस की मांग जिससे कि जेनेरिक उत्पादन होमहात्मा ज्योतिबा फुले: एक प्रासंगिक चिंतनजश्न मनाने बंद करो, कोटकपूरा केस अभी ख़त्म नहीं हुआ: कैप्टन का सुखबीर को जवाबबठिंडा-बरनाला मार्ग पर बंद पड़े राइस शैलर के अंदर से मिले बाहरी प्रांत की गेंहूं के डंप किए 5 हजार गट्टेअपराध साबित हो जाने पर भी सिर्फ अपराधी को सजा, पीड़ित को मुआवजा क्यों नही?पंजाब, दिल्ली, महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक, राजस्थान और उत्तर प्रदेश से आने वाले लोगों को 72 घण्टे पहले की आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट लानी जरूरीचंडीगढ़ में तीसरे इंडियन टैरो सम्मेलन का आयोजन
हिमाचल प्रदेश

ऐसी निकम्मी लीडरशिप भाजपा को मुबारक: कांग्रेस

February 21, 2021 01:53 PM

धर्मशाला, (विजयेन्दर शर्मा) मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर कांग्रेस को नेताविहीन कह रहे हैं और कांग्रेस में नेतृत्व की तलाश में परेशान हैं। कांग्रेस पार्टी में एक से बढ़ कर एक दूरदर्शी, अनुभवी नेता मौजूद है। बर्तमान में प्रदेश कांग्रेस को कुलदीप सिंह राठौर का कुशल एवम प्रखर नेतृत्व प्राप्त है। छः बार के मुख्यमंत्री एवम आधुनिक हिमाचल के निर्माता वीरभद्र सिंह के मार्गदर्शन में कांग्रेस मजबूती के साथ आगे बढ़ रही है लेकिन मुख्यमंत्री आखिर कांग्रेस के लिए इतने चिंतित क्यों हैं?
यह सवाल प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता दीपक शर्मा ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर द्वारा दिए गए ब्यान पर पलटवार करते हुए किया। उन्होंने कहा कि नेतृत्वविहीन तो भाजपा है। अगर भाजपा बर्तमान अनुभवहीन, दिशाहीन,अदूरदर्शी, निकम्मी सरकार के नेतृत्व को सबसे बढ़िया मानती है तो ऐसा नेतृत्व भाजपा को मुबारक। जिस सरकार के नेतृत्व ने प्रदेश को गर्त में धकेल दिया। जिस सरकार ने करोना संकटकाल में भी भ्र्ष्टाचार करके पूरे देश में हिमाचल का सर झुका दिया,जिस नेतृत्व ने करोना संकटकाल में प्रदेश वासियों को अपने हाल पर छोड़ दिया,जिस नेतृत्व ने प्रदेश को सबसे ज़्यादा बेरोज़गारी और आर्थिक तौर पर लगभग 60 हज़ार करोड़ के कर्ज में डुबो दिया है, ऐसा निकम्मा नेतृत्व भाजपा को ही मुबारक। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि कांग्रेस को बदनाम करने का भाजपा षड्यन्त्र रचती रहती है। इसी षड्यंत्र के तहत भाजपा ने खुद ही बिना किसी के हस्ताक्षर के एक झूठा पत्र कांग्रेस के नाम का जारी किया जिसमें 12 करोड़ का ज़िक्र है।कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने ऐसा कोई पत्र जारी नहीं किया।यह झूठा पत्र भाजपा ने ही कांग्रेस को बदनाम करने के लिए जारी किया है।कांग्रेस प्रवक्ता ने मुख्यमंत्री को चुनौती देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री इस पत्र में अगर प्रदेश अध्यक्ष के हस्ताक्षर हैं तो बताएं वरना प्रदेश की जनता से मुआफी मांगें।दीपक शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री कांग्रेस को कोसने की जगह प्रदेश में मुंह फैलाये खड़ी जनसमस्याओं के प्रति ध्यान दें।कांग्रेस नेता ने कहा कि मुख्यमंत्री के पद पर बैठे व्यक्ति को इस तरह झूठी, मनघडंत बातें करना शोभा नहीं देता।उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री बढ़ती महंगाई,पेट्रोल-डीजल के दामों और रसोई गैस के बढ़ते दामों बारे अपना दृष्टिकोण दें।इन सब जनसमस्याओं बारे मुख्यमंत्री कन्नी काट रहे हैं और ऊलजलूल बातें करके जनता का ध्यान बांटने की नाकाम कोशिश कर रहे हैं।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
पंजाब, दिल्ली, महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक, राजस्थान और उत्तर प्रदेश से आने वाले लोगों को 72 घण्टे पहले की आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट लानी जरूरी कोविड-19: हिमाचल में 21 अप्रैल तक सभी शिक्षण संस्थानों को शिक्षण और गैर-शिक्षण कर्मचारियों सहित बंद का निर्णय उपायुक्त ने जूस पिला कर समाप्त करवाया सीयू के विद्यार्थियों का अनशन 13 अप्रैल को निर्वाचित पार्षदों लेंगे शपथ 7 अप्रैल को मध्य रात्रि तक नहीं होगी शराब की बिक्री: प्रजापति रिश्वत लेते लोक निर्माण विभाग का जेई गिरफ्तार हिमाचल में किए गए 3 नए नगर निगम सृजित युद्ध संग्रहालय, सेल्फी प्वाइंट को भाजपा ने क्यों बनाया खंडहर: कांग्रेस हिमाचल में 15 अप्रैल तक बंद रहेंगे शिक्षण संस्थान जल जीवन मिशन के तहत हिमाचल को मिली सर्वाधिक प्रोत्साहन निधिः ठाकुर