ENGLISH HINDI Sunday, October 17, 2021
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
भारतीय जनता के दिलों में क्षेत्रवाद मिटा कर राष्ट्रवाद की भावना को बढ़ावा देगी यूआरबी पार्टी : वेंकटेशभगवान वाल्मीकि के प्रकटोत्सव अवसर पर हर्षोल्लास और धूमधाम से निकाली शोभायात्राकरोड़ों रूपए का विकास बजट पास करने वाली निगम को नहीं अपने सफाई सेवकों का ख्याल: विधायक नारंगवेतन जारी न होने पर निगम कर्मचारियों ने की हडताल, नारेबाजी की, लौटांगें प्रशंसा पत्रहोम्योपैथिक में है डेंगू का कारगर इलाज :डॉ अनु कांत गोयलमिसेज ट्राइसिटी एवं मिसेज चंडीगढ़ शालू गुप्ता ने किया स्पॉटलाइट एंटरटेनमेंट का उद्घाटनदिल्ली विकास प्राधिकरण के निदेशक एवं उपनिदेशक के खिलाफ वारंट, सरकारी वाहन समेत सरकारी दफ्तर का फर्नीचर एवं अन्य उपकरण कुर्क करने के आदेश राजभाषा पुरस्कार वितरण समारोह-2021 का आयोजन
एस्ट्रोलॉजी

सितम्बर माह में कोरोना की तीसरी लहर आने की संभावना:-ज्योतिषचार्य डॉक्टर कुमार अमर

June 22, 2021 10:40 PM

  चंडीगढ़:-ज्योतिषीय गणना अनुसार सितम्बर माह में कोरोना की तीसरी लहर आने की संभावना है, संक्रमण का खतरा बरकरार रहेगा, जबकि इस बार मृत्यु दर जीरो बराबर होगी। यह बात वैदिक ज्योतिष सेवा संस्थान के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉक्टर कुमार अमर ने आज चंडीगढ़ प्रेस क्लब में आयोजित पत्रकार वार्ता में कही।

ज्योतिषचार्य डॉक्टर कुमार अमर ने आगे बताया कि देशभर में कोरोना की दूसरी लहर से जिस तरह से संक्रमित मरीजों की दिनप्रतिदिन बढ़ती संख्या और मृत्यु दर देखने को मिली, उस हिसाब से तीसरी लहर में ऐसा कुछ भी देखने को नही मिलेगा। ज्योतिषचार्य कुमार अमर ने देश मे राजनैतिक परिदृश्य पर भी अपने विचार रखते हुए कहा कि राज्य और केंद्र में किसी भी पार्टी की स्थिति का सही अनुमान लगाने के लिए राजनैतिक पार्टियो की कुंडली तैयार कर सही गणना से चुनाव में पार्टी का विश्लेषण किया जाता है। वहीं उन्होंने बताया कि ज्योतिषी के पास ज्यादातर लोग विभिन्न तरह की घरेलू समस्याओं के समाधान हेतु ज्योतिष परामर्श लेने आते हैं।
उनकी संस्था का उद्देश्य लोगों को ज्योतिष से सम्बंधित सेवाएं देने के अलावा समाज के साधन विहीन लोगों के लिए शिक्षा, भोजन, गरीब कन्याओं की शादी और आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को स्वास्थ्य सेवाएं भी उपलब्ध करवाना है। उन्होंने कहा कि समाज के प्रति अपने दायित्व को देखते हुए वेदाक्ष ज्योतिष सेवा संस्थान आने वाले समय में भी समाजसेवा के विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन करेगा।
डॉक्टर कुमार अमर ने बताया कि उनके संस्थान की तरफ से इससे पहले देश के अन्य हिस्सों में समाजसेवा के कार्यक्रम किये जाते रहे हैं। अपनी उसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए चंडीगढ़ व आसपास के क्षेत्र में भी समाज सेवा के विभिन्न तरह के कार्यक्रम आयोजित होंगे। उन्होंने आगे बताया कि उनके संस्थान द्वारा गरीब कन्यायों की शादी, विधवा व जरूरतमंद महिलाओं को राशन व घरेलू सामान मुहैया करवाना, रक्तदान शिविर सहित गरीब व जरूरतमंद की सहायता इत्यादि के कार्य किये जा रहे हैं। संस्थान की ओर से कोरोना लॉकडाउन पीरियड के दौरान भी समाजसेवा के कार्य किये गए हैं। यह संस्था निकट भविष्य में ज्योतिष के क्षेत्र में रुचि रखने वाले लोगों के लिए सही मार्गदर्शन और उनके जीवन मे उत्पन्न समस्याओं का समाधान और ज्योतिष से संबंधित कार्यशाला का आयोजन करती रहेगी।
इस अवसर पर उनके साथ संस्थान के अन्य पदाधिकारी अविशिका देसवाल, डॉक्टर रेशम लाल सहित राजेन्द्र अग्रवाल भी उपस्थित थे।

वैदिक ज्योतिष सेवा संस्थान के बारे में:-

वैदिक ज्योतिष सेवा संस्थान की स्थापना 2017 में हुई थी। इस संस्था का प्रमुख उद्देश्य लोगों को ज्योतिष से संबंधित सेवाएं देना है। इस संस्था का कार्य क्षेत्र उत्तर प्रदेश एवं इसके आसपास के क्षेत्रों तक था। अब इस संस्था का विस्तार किया जा रहा है, जो पूरे उत्तर भारत मे कार्य करेगा। चंडीगढ़, पंजाब और राजस्थान उसमे प्रमुख है। इस संस्था के साथ लगभग 500 सदस्य जुड़े हुए हैं। 

 

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और एस्ट्रोलॉजी ख़बरें
शरद नवरात्र के बाद 19 अक्तूबर को शरद पूर्णिमा पर चमत्कारिक खीर को औषधि बना कर खाएं पूरे देश से आए ज्योतिषी: जीवन की परेशानियों से छुटकारा तो नहीं पर उपायों से इन पर काफी हद तक नियंत्रण : बीना शर्मा 9 दिन के शरद नवरात्रि इस बार 8 दिन में समाप्त श्राद्ध 20 सितंबर से 6 अक्तूबर तक परंतु 26 सितंबर को पितृपक्ष की तिथि नहीं हरियाली तीज 11 और नाग पंचमी 13 अगस्त को गुप्त नवरात्रि 11 जुलाई, रविवार से आरंभ अब इस कारण धामी की राह नहीं आसान 21 जून को निर्जला एकादशी ,योग दिवस और सबसे लंबा दिन एक साथ ? क्या मंगल 20 जुलाई तक कर्क राशि में रह कर करेंगे अमंगल? 10 जून को शनैश्चर जयंती, ज्येष्ठ अमावस औेर सूर्यगहण एक साथ: कोरोना की रफतार पड़ती जाएगी धीमी