ENGLISH HINDI Sunday, October 17, 2021
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
भारतीय जनता के दिलों में क्षेत्रवाद मिटा कर राष्ट्रवाद की भावना को बढ़ावा देगी यूआरबी पार्टी : वेंकटेशभगवान वाल्मीकि के प्रकटोत्सव अवसर पर हर्षोल्लास और धूमधाम से निकाली शोभायात्राकरोड़ों रूपए का विकास बजट पास करने वाली निगम को नहीं अपने सफाई सेवकों का ख्याल: विधायक नारंगवेतन जारी न होने पर निगम कर्मचारियों ने की हडताल, नारेबाजी की, लौटांगें प्रशंसा पत्रहोम्योपैथिक में है डेंगू का कारगर इलाज :डॉ अनु कांत गोयलमिसेज ट्राइसिटी एवं मिसेज चंडीगढ़ शालू गुप्ता ने किया स्पॉटलाइट एंटरटेनमेंट का उद्घाटनदिल्ली विकास प्राधिकरण के निदेशक एवं उपनिदेशक के खिलाफ वारंट, सरकारी वाहन समेत सरकारी दफ्तर का फर्नीचर एवं अन्य उपकरण कुर्क करने के आदेश राजभाषा पुरस्कार वितरण समारोह-2021 का आयोजन
हिमाचल प्रदेश

कांगड़ा के शक्तिपीठोें में दर्शन के लिए अब आनलाइन पंजीकरण की सुविधा

August 09, 2021 07:20 PM

कोविड प्रोटोकॉल की अनुपालना सुनिश्चित करने के लिए व्यापक प्रबंध: डीसी

धर्मशाला (विजयेन्दर शर्मा)

कांगड़ा जिला में प्रमुख शक्तिपीठ मंदिरों ज्वालामुखी, ब्रजेश्वरी धाम तथा चामुंडा में दर्शन के लिए आनलाइन पंजीकरण भी करवा सकते हैं, इस के लिए जिला प्रशासन द्वारा templevisit.hp.gov.in लिंक तैयार किया गया है। इस लिंक पर निर्धारित प्रपत्र पर श्रद्वालु अपना विस्तृत ब्यौरा भरकर भेजेंगे जिसके बाद जिला प्रशासन द्वारा आनलाइन ही मैसेज के माध्यम से संबंधित श्रद्वालु को दर्शनों के समय इत्यादि के बारे में सूचित कर दिया जाएगा।

उपायुक्त डा निपुण जिंदल ने कहा कि श्रद्वालुओं की सुविधा को ध्यान में रखते हुए यह निर्णय लिया गया है ताकि उनके समय की भी बचत हो और कोविड के चलते मंदिरों में भी अत्यधिक भीड़ जमा न हो। उन्होंने कहा कि निर्धारित आनलाइन प्रपत्र में कोविड नेगेटिव रिपोर्ट तथा वैक्सीनेशन के बारे में भी जानकारी देना जरूरी होगा।

उपायुक्त डा निपुण जिंदल ने कहा कि मंदिर स्थल से एक से दो किलोमीटर की दूरी के भीतर ही खुली जगह पर श्रद्वालुओं की सुविधा के लिए र्पािर्कंग, हेल्प डेस्क तथा पर्ची बनाने के लिए स्थान निर्धारित किए गए। उन्होंने कहा कि मास्क का उपयोग जरूरी है इसके साथ ही सामाजिक दूरी की अनुपालना सुनिश्चित करना भी जरूरी है। उपायुक्त डा निपुण जिंदल ने कहा कि श्रावण अष्टमी नवरात्रों के दौरान लंगरों पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा इसके साथ ही आरती के समय भी मंदिरों में प्रवेश पूर्णतय वर्जित है।

उपायुक्त डा निपुण जिंदल ने कहा कि श्रद्वालुओं को मंदिर में मूतियों को छूने तथा घंटियां इत्यादि बजाने पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया है इसके साथ ही प्रवेश तथा निकासी द्वार भी अलग अलग निर्धारित किए गए हैं। उन्होंने कहा कि मंदिरों में स्वच्छता के साथ साथ सुरक्षा के भी व्यापक प्रबंध किए गए हैं।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
रमेश धवाला मगरमच्छ के आंसू बहा रहे: संजय रतन नरेंद्र मोदी स्टेडियम एवं दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम का नाम भी बदला जाना चाहिए : संजय रतन ज्वालामुखी में एक अधिकारी ने दफ्तर में रखी आराम फरमाने को चारपाई पर भड़की ज्वाला, धवाला ने सुनाई खरी खोटी सैनिक नंद किशोर राजकीय सम्मान के साथ पंचतत्व में विलीन तकनीकी विश्वविद्यालय में महाघोटाला की सीबीआई जांच हो: कांग्रेस भाजपा ने हमेशा इस जनजातीय क्षेत्र के साथ सौतेला व्यवहार किया: कांग्रेस लापरवाही छोड़ प्रदेश की फिक्र करे सरकार: कांग्रेस 10वी से 12वीं कक्षाओं के लिए 2 अगस्त से खुलेंगे स्कूल 24 घंटे में भारी बारिश से 33 लाख रुपये का नुक्सान कारगिल के शहीदों को किया नमन, इतिहास की रक्षा की शपथ भी दिलाई