ENGLISH HINDI Friday, August 19, 2022
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
पीएमसी में धूमधाम से मनाया गया जन्माष्टमी पर्वअग्निपथ योजना में फर्जी प्रवेश के 14 मामले पकड़ेपुलिस ने खरड़ के विद्यार्थी अपहरण कांड की गुत्थी सुलझायीवाहन फिटनेस सर्टिफिकेट घोटाले का पर्दाफाश, तीन गिरफ़्तार, 40,000 रुपए रिश्वत की रकम और दस्तावेज़ बरामद12,000 रुपए रिश्वत लेता सेवादार विजीलैंस ब्यूरो द्वारा रंगे हाथों काबू, एसडीओ की तलाश जारीविजीलैंस ने किया आरटीए दफ़्तर संगरूर में वाहनों के फिटनेस सर्टिफिकेट घोटाले का पर्दाफाश, आरटीए, एम. वी. आई., क्लर्कों, मध्यस्थों और एजेंटों के विरुद्ध केस दर्ज1000 रुपए रिश्वत लेने के आरोप में हवलदार गिरफ़्तार87 कंडम कारें धोखे से बेचने के लिए कबाड़ीए समेत 3 व्यक्ति गिरफ्तार, 40 कारें बरामद
हिमाचल प्रदेश

सुक्खू पहली जुलाई को धर्मशाला में अग्निपथ योजना के विरोध में रोष मार्च निकालेंगे

June 24, 2022 07:11 PM

धर्मशाला (विजयेन्दर शर्मा ) 

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस चुनाव प्रचार समिति के अध्यक्ष व स्क्रीनिंग कमेटी के सदस्य सुखविंदर सिंह सुक्खू पहली जुलाई को धर्मशाला में अग्निपथ योजना के विरोध में रोष मार्च निकालेंगे। वह योजना का पहले से विरोध कर रहे युवाओं को कांग्रेस पार्टी व अपना समर्थन देंगे। यह जानकारी प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव राजेंद्र शर्मा ने दी।

उन्होंने बताया कि सुखविंदर सुक्खू ने युवाओं के समर्थन में योजना के खिलाफ हल्ला बोलने का निर्णय लिया है, साथ ही केंद्र सरकार से अग्निपथ को तुरंत वापस लेने की मांग की है। सुक्खू ने कहा है कि भाजपा सरकार सिर्फ खोखली बातें करना जानती है। देश के जवानों का मजाक उड़ाया जा रहा है। देश यह कतई बर्दाश्त नहीं कर सकता है।

सुखविंदर सुक्खू ने युवाओं के समर्थन में योजना के खिलाफ हल्ला बोलने का निर्णय लिया है, साथ ही केंद्र सरकार से अग्निपथ को तुरंत वापस लेने की मांग की है। सुक्खू ने कहा है कि भाजपा सरकार सिर्फ खोखली बातें करना जानती है। देश के जवानों का मजाक उड़ाया जा रहा है। देश यह कतई बर्दाश्त नहीं कर सकता है।

सुक्खू के अनुसार हर वर्ष प्रदेश के हजारों युवा सेना भर्ती की तैयारी करते हैं। युवाओं का सपना होता है कि वह सेना में जाकर देश की सेवा करें। भारत माता के लिए मर मिटने को तैयार नौजवानों को अनुबंध मजदूर की संज्ञा देकर सरकार ने अपनी युवा विरोधी मानसिकता का प्रदर्शन किया है। तीनों सेनाओं में 2,55,000 से अधिक पद खाली पड़े हैं। भाजपा सरकार ने 2 वर्षों से सेनाओं की भर्ती रोक रखी है, जिससे युवाओं में भारी बेचैनी है। कृषि विरोधी काले कानूनों की तरह ही सरकार को इस योजना को भी वापस लेना पड़ेगा।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
आबकारी अधिकारियों को दी ट्रैक एंड ट्रेस सिस्टम की जानकारी डॉ. संजय ठाकुर ने हिमाचल प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग के अध्यक्ष के रूप में शपथ ग्रहण की बाबा भलकू और समस्त कामगारों की स्मृति में समर्पित की रेल और झाझा यात्रा में 30 लेखक हुए शामिल मंडी में होगा परिवहन ट्रिब्यूनल का मुख्यालय, अधिसूचना जारी आजादी अमृत महोत्सव पर प्रतिज्ञा, नशा प्रचलन रोकने हेतु सामूहिक भूमिका निभानी है मुख्यमंत्री ने जिला सिरमौर के सराहां में राष्ट्रीय ध्वज फहराया डाडासीबा में खुलेगा नया विकास खंड कार्यालय, दुर्गम क्षेत्रों के लिए बहुत बड़ी सौगात: बिक्रम ठाकुर भुखमरी के कगार पर रहने वालों को मुफ्त सहायता दी जानी चाहिये छात्रवृत्ति के लिए ऑनलाइन पंजीकरण 31 अक्तूबर तक लारेट कॉलेज के आधुनिक ऑडिटोरियम का लोकार्पण