ENGLISH HINDI Wednesday, November 30, 2022
Follow us on
 
मनोरंजन

हिमाचल के सुदूर गांव में ‘असुरक्षित यौन संबंध से गर्भपात’ का मुद्दा उठाया है हिंदी वेब सीरीज‘आखिरी गांव’ ने

July 15, 2022 08:02 AM

युवा कलाकारों और क्रू ने हिंदी वेब सीरीज ‘आखिरी गांव’ के पोस्टर को किया जारी 

चंडीगढ़, आर के शर्मा

दर्शकों को संवेदनशील बनाने के लिए और सिनेमा को एक सामाजिक शक्ति के रूप में उपयोग करते हुए, मेघाशू फिल्म्स अपनी एक नई हिंदी वेब सीरीज ‘आखिरी गांव’ लेकर आएगी है। जो कि, संवेदनशील मुद्दों पर केन्द्रित है, तथा जिनका सामना महिलाएं अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में करती हैं साथ ही इन मुद्दों पर किसी भी चर्चा को आमतौर पर महिलाओं के लिए वर्जित माना जाता हैं।

सीरीज़ की कहानी असुरक्षित यौन संबंध से गर्भपात, मासिक धर्म की स्वच्छता और अन्य कई सामाजिक मुद्दों और समस्याओं को सामने लाने के इर्द-गिर्द घूमती है, जिनका सामना दूर-दराज के क्षेत्रों की ग्रामीण महिलाएं अपने दैनिक जीवन में करती हैं।

आगामी हिंदी वेब सीरीज ‘आखिरी गांव’ के पोस्टर को वीरवार यहां चंडीगढ़ प्रेस क्लब, सेक्टर 27 में इसके निर्माता-गायक अशोक कुमार, डायरेक्टर राही कृत हंस, अभिनेत्री कंचन राय, लेखक गगन सिंह और संगीत निर्देशक, द-सांज की उपस्थिति में रिलीज़ किया गया। इस मौके पर वेब सीरीज की स्टार कास्ट के मेंबर दलेर मेहता, शंकर गुप्ता और बब्बी मान भी मौजूद थे।

वेब सीरीज के प्रोड्यूसर अशोक कुमार ने बताया कि वेब सीरीज की शूटिंग चंडीगढ़ और हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के गांव मटरू सुजा में हुई है। उन्होंने कहा कि ‘‘आखिरी गांव’ भारतीय महिलाओं की दृढ़ता को दर्शाती है। ये कहानी एक युवा डॉक्टर डॉ. उमंग सिंह पर केंद्रित है, जो हिमाचल प्रदेश के सुदूर गांव मटरू सुजा में अपनी पहली पोस्टिंग से परेशान हो जाती है। गांव काफी दुर्गम है और इसलिए इसका नाम ‘आखरी गांव’ पड़ा। चंडीगढ़ जैसे शहर में पली-बढ़ी और अपनी पढ़ाई पूरी करने वाली शहर की युवा लडक़ी ऐसे गांव में जाने से हिचकिचाती है।’’

वेब सीरीज के प्रोड्यूसर अशोक कुमार ने बताया कि वेब सीरीज की शूटिंग चंडीगढ़ और हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के गांव मटरू सुजा में हुई है। उन्होंने कहा कि ‘‘आखिरी गांव’ भारतीय महिलाओं की दृढ़ता को दर्शाती है। ये कहानी एक युवा डॉक्टर डॉ. उमंग सिंह पर केंद्रित है, जो हिमाचल प्रदेश के सुदूर गांव मटरू सुजा में अपनी पहली पोस्टिंग से परेशान हो जाती है। गांव काफी दुर्गम है और इसलिए इसका नाम ‘आखरी गांव’ पड़ा। चंडीगढ़ जैसे शहर में पली-बढ़ी और अपनी पढ़ाई पूरी करने वाली शहर की युवा लडक़ी ऐसे गांव में जाने से हिचकिचाती है।’’

इस मौके पर मेघाशू फिल्म्स के संस्थापक अशोक कुमार ने कहा कि ‘‘लेकिन जब डॉ.उमंग गांव में अपने जीवन का नया अध्याय शुरू करती हैं, तो उन्हें जल्दी ही स्थानीय लोगों, उनकी संस्कृति और परंपराओं से प्यार हो जाता है और वह अपने आप को समुदाय का हिस्सा महसूस करती हैं। वह स्थानीय महिलाओं की समस्याओं को कम करने के लिए काफी हद तक उनके साथ प्रयासों में शामिल हो जाती है और सफल भी रहती है।’’

डायरेक्टर राही कृत हंस ने कहा कि ‘‘आखिरी गांव’ वास्तविक अर्थों में नारी शक्ति को दर्शाती है। वेब सीरीज़ में, युवा डॉक्टर असुरक्षित यौन संबंध, मासिक धर्म स्वच्छता, पुरुष प्रधानता आदि गांव में महिलाओं के सामने आने वाली कई सामाजिक समस्याओं को उजागर करके रूढिय़ों को तोड़ती हैं और स्थानीय महिलाओं के अधिकारों के लिए लड़ती हैं। ‘आखिरी गांव’ के पहले सीजन में 6 एपिसोड होंगे, जिसकी शूटिंग 20 दिनों में पूरी हो चुकी है और अब पोस्ट प्रोडक्शन का काम चल रहा है।’’

वेब सीरीज में ‘डॉ. उमंग’ की भूमिका निभा रही एक प्रसिद्ध ज़ी पंजाबी अभिनेत्री कंचन राय ने बताया कि ‘‘आखिरी गांव‘ हर गांव और हर महिला की कहानी है। राय ने कहा कि ‘एक महिला के रूप में, उन्हें खुद को एक नए वातावरण में समायोजित होने के लिए बहुत संघर्ष करना पड़ता है, लेकिन वे ऐसा आंतरिक शक्ति के आधार पर कर पाती हैं जो भारतीय महिलाओं में अच्छी खासी मात्रा में होता है।’’

सीरीज के लेखक गगन सिंह ने कहा कि ‘‘राही ने लोगों को जागरूक करने के लिए मुझे इस संवेदनशील मुद्दे के इर्द-गिर्द एक कहानी बनाने के लिए कहा। वेब सीरीज मूल रूप से एक छोटे और पिछड़े गांव की कहानी है जहां लोग इन बातों पर चर्चा नहीं करते हैं और संवेदनशील मुद्दों को भी वर्जित मानते हैं। जिससे इन गांवों की महिलाओं को काफी परेशानी होती है।’’

आखिरी गांव सीरीज के निर्माण पर खुशी व्यक्त करते हुए अशोक कुमार ने कहा कि ‘‘जब राही मेरे पास इस आइडिया के साथ आए तो मैं काफी प्रभावित हुआ क्योंकि इसमें आम लोगों को जागरूक करने के लिए बहुत कुछ है। लोगों को महिलाओं के दर्द और समस्याओं के बारे में जानने की जरूरत है, खासकर जो ग्रामीण इलाकों में रहती हैं, हम 2 महीने के बाद ओटीटी प्लेटफॉर्म पर सीरीज को प्रसारित करने के लिए वास्तव में उत्साहित हैं।

कार्यक्रम के दौरान, निर्माता, अशोक कुमार ने यह भी घोषणा की कि उनका अगला रोमांटिक ट्रैक ‘रूबरू’ जल्द ही मेघाशू म्यूजिक के बैनर तले रिलीज़ किया जाएगा। जबकि मेघाशू फिल्म्स नियमित रूप से वीडियो कंटेंट बना रहा है। मेघाशू म्यूजिक कंपनी का नया वर्टिकल होगा जो सभी म्यूजिक रिलीज का काम देखेगा।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और मनोरंजन ख़बरें
सामाजिक बुराइयों को उजागर करती हिंदी सस्पेंस थ्रिलर फिल्म ‘गेस्ट अनवांटेड’ ओटीटी प्लेटफार्म पर रिलीज को तैयार पंजाबी धार्मिक फिल्म दास्तान-ए-सरहिंद 2 दिसंबर को होगी रिलीज 2022 की सबसे बड़ी रोमांटिक कॉमेडी स्मैश "तेरी मेरी गल्ल बण गई" 9 सितंबर 2022 को दुनिया भर में हो रही है रिलीज़ प्रमोशन की गलियों से होते हुए अब सैर करने चंडीगढ़ पहुँची लाइगर टीम उड़न पटोलास ने अमेज़ॉन मिनी टीवी पर अपने शो का प्रीमियर होने से पहले 'द सिटी ब्यूटीफुल' - चंडीगढ़ का दौरा किया राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता फिल्म निर्देशक राजीव कुमार ने अपनी अगली परियोजना की घोषणा की कार्तिक आर्यन अचानक पहुंचे एलांते मॉल, डांस भी किया पंजाबियों के दिल बड़े होते हैं लेकिन जब वो टूट जाते हैं तो दगा हो जाता है 'सागा म्यूजिक' ने पेश किया 'लाहौर', एक अभिनेता के रूप में दीप सिद्धू का आखिरी म्यूजिक वीडियो, सिद्धू के को-स्टार रहे दिलराज ग्रेवाल अरमान सिने कॉर्पोरेशन देगा उभरती संगीत प्रतिभाओं को अवसर