ENGLISH HINDI Monday, July 22, 2024
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
देश की अदालतों में महिलाओं के इंसाफ की लड़ाई लड़ेगी दिशा वूमैन वैलफेयर ट्रस्टडेरा बस्सी में गुंडागर्दी का नंगा नाच, अपोलो डायग्नोस्टिक सेंटर के बाहर हवाई फायर कर फरार हुए युवक, विदेशी व्हाट्सएप नंबर पर काल पर करें या चलेंगी गोलियां बुडो काई डू मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया के खिलाड़ियों ने गोपाल मूर्ति फाउंडेशन और विश्वास फाउंडेशन के साथ मिलकर पौधे लगाएसी.एल.अग्रवाल डीएवी मॉडल स्कूल, सेक्टर 7 बी में वन महोत्सव सप्ताह और आम मेला मनाया गयागठिया रोग: कारण, उपचार और मनोवैज्ञानिक समर्थनहार के डर से फर्जी घोषणाएं करने में लगी है भाजपा: पं.अजय गौतमलगभग आधी सदी पुराने बाबा बालक नाथ मंदिर को गिराने का नोटिस आने पर भड़के भक्तमानवता की सेवा हेतु बाबा बिहारी नेत्रालय का शुभारंभ 7 जुलाई को
पंजाब

धर्मांतरण के खिलाफ आवाज उठाने का खामियाजा भुगत रहीं हैं वनीत कौर : जेल जाने से लेकर पति से अलगाव भी सहन किया

June 14, 2024 11:19 AM

पास्टर अंकुर नरूला द्वारा वनीत कौर के खिलाफ पुलिस में की गईं शिकायतें आखिरकार झूठी साबित हुईं, सिख जत्थेबंदियों ने पंजाब सरकार से पास्टर अंकुर नरूला मिनिस्ट्री के क्रियाकलापों की गहन जांच की मांग उठाई


चंडीगढ़: पंजाब में हिंदुओं व सिखों का ब्रेनवाश करके धर्मांतरण कराए जाने का काम धड़ल्ले से चल रहा है परंतु राज्य सरकार से लेकर स्थानीय प्रशासन तक सब आंखे मूंदे बैठे हैं। इसके अलावा जो इसके खिलाफ आवाज उठा रहे हैं, उन्हें पुलिस द्वारा प्रताड़ित करवाया जाता है। ये कहना है जालंधर निवासी वनीत कौर का।

यहां चंडीगढ़ प्रेस क्लब में आयोजित एक प्रेस वार्ता में उन्होंने खुलासा किया कि कुछ वर्ष पूर्व उन्होंने पास्टर अंकुर निरूला के कुछ वीडिओ देखे जिनमें वह हिंदू और सिख धर्मों के खिलाफ बोल रहा है तथा जनता को ईसाई धर्म की खूबियां गिनाते हुए इसे अपनाने की सलाह दे रहा है। उन्हें ये बहुत ही नागवार गुजरा तथा उन्होंने उसके खिलाफ अभियान छेड़ दिया।

इससे परेशान होकर पास्टर अंकुर निरूला ने अपने प्रभाव का इस्तेमाल करते हुए वनीत कौर के खिलाफ पर्चा दर्ज करवा दिया। इस कारण वनीत कौर को 42 दिन जेल में काटने पड़े। बाहर आकर उन्होंने फिर से पास्टर अंकुर निरूला के खिलाफ अपना अभियान और भी जोर शोर से शुरू कर दिया तो पास्टर अंकुर निरूला ने फिर से उनके खिलाफ पुलिस को झूठी शिकायत से दी कि वनीत कौर तेज़ाब की बोतलें लेकर उनके कार्यालय में जबरन घुस गईं व हमला कर दिया।

पास्टर अंकुर निरूला ने अपने प्रभाव का इस्तेमाल करते हुए वनीत कौर के खिलाफ पर्चा दर्ज करवा दिया। इस कारण वनीत कौर को 42 दिन जेल में काटने पड़े। बाहर आकर उन्होंने फिर से पास्टर अंकुर निरूला के खिलाफ अपना अभियान और भी जोर शोर से शुरू कर दिया तो पास्टर अंकुर निरूला ने फिर से उनके खिलाफ पुलिस को झूठी शिकायत से दी कि वनीत कौर तेज़ाब की बोतलें लेकर उनके कार्यालय में जबरन घुस गईं व हमला कर दिया।

पुलिस ने शिकायत ले ली तो वनीत कौर ने आरटीआई डाल कर इस शिकायत का स्टेट्स मांग लिया, जिसमें पुलिस विभाग से जवाब मिला कि ये शिकायत झूठी है। उधर उनके पति ने भी उन पर दबाव डालना शुरू कर दिया कि वे इस अभियान को बंद कर दें। ऐसा न करने पर उनके पति ने भी उनका साथ छोड़ दिया।

अब वनीत कौर ने पंजाब सरकार को पत्र लिख कर मांग की है कि इस पूरे मामले की एसआईटी गठित करके जांच कराए और पास्टर अंकुर निरूला द्वारा कराए जा रहे धर्मांतरण को रोके व उस पर मामला दर्ज करवाया जाए। उनके समर्थन में आज कई सिख जत्थेबंदियों भी मौजूद रहीं जिनमें निहंग सिंह जत्थेदार गुरप्रीत सिंह कैलिफ़ोर्निया, मिशन शहीद बाबा बाघ सिंह अहलूवालिया के गद्दीनशीन इकबाल सिंह अहलूवालिया एवं बाबा प्रगट सिंह जी दी फौज, तरना दल, लुधियाना के राजा राज आदि के प्रतिनिधि शामिल रहे।

इन सभी से अंकुर नरूला मिनिस्ट्री के संचालक अंकुर नरूला, प्रेजिडेंट जितेंदर कुमार उर्फ़ गौरव मसीह, विक्लव गोल्ड, लुकस मसीह, राजदीप कौर, प्रवेश कुमारी व सोनिया आदि के क्रियाकलापों की गहन जांच की मांग उठाई।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
डेरा बस्सी में गुंडागर्दी का नंगा नाच, अपोलो डायग्नोस्टिक सेंटर के बाहर हवाई फायर कर फरार हुए युवक, विदेशी व्हाट्सएप नंबर पर काल पर करें या चलेंगी गोलियां चुन्नी कलां में बनेगा तीसरा अकाल ड्रग्स डी एडिक्शन सेंटर मामला शामलात जमीन की बोली का: जिला फतेहगढ़ के गाँव मुछरायी खुर्द गाँव का परिवार रसूखदारों के जबर का कर रहा सामना संगरूर लोक सभा सीट से मीत हेअर विजयी दुल्हन की तरह सजाए जिला के मतदान केन्द्र कांग्रेसी उम्मीदवार डॉक्टर धर्मवीर गांधी के समर्थन में जनसभा का आयोजन डेयरी की आड़ में गोवंश को बूचड़खाना भेजने के आरोपित के खिलाफ एफआईआर फिजियोथैरेपी एवं होम्योपैथी चिकित्सा परामर्श कैंप आयोजित दीपक चनारथल पंजाब के 50 शक्तिशाली व्यक्तियों में शामिल किसानों ने रुकवाई संगरूर के पत्रकार के घर की कुर्की