ENGLISH HINDI Sunday, June 16, 2024
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
विधानसभा चुनावों में जोर पकड़ेगी हरियाणा के लिए नई राजधानी और अलग उच्च न्यायालय की मांग : रणधीर सिंह बधरानधर्मांतरण के खिलाफ आवाज उठाने का खामियाजा भुगत रहीं हैं वनीत कौर : जेल जाने से लेकर पति से अलगाव भी सहन कियाशिमला, चंबा, सिरमौर, मंडी और कुल्लू में स्थापित होंगी एनडीआरएफ की छोटी टुकड़ियांज्योतिष सम्मेलन में कुंडली दिखाने उमड़े लोग, प्रख्यात ज्योतिषाचार्य नवदीप मदान सम्मनितगुरुद्वारा नानकसर साहब में गुरु अर्जुन देव जी के शहीदी दिवस पर लगाई छबील अगर हम परमात्मा का नाम किसी भी बहाने से लेंगे तो हमारा कल्याण हो जाएगा : स्वामी राज दास जी महाराज चायल मेले में महकी स्वयं सहायता समूहों के उत्पादों की खुशबूसीआईएसएफ कांस्टेबल को सम्मानित करेगा दिशा वूमेन वेलफेयर ट्रस्ट
 
 
एस्ट्रोलॉजी
कैसे सुहाना और सुनहरा है सावन...बता रहे हैं जाने माने ज्योतिषी पंडित सुन्दर लाल भार्गव

भगवान शिव को सावन का महीना प्रिय होने का कारण यह भी है कि भगवान शिव सावन के महीने में पृथ्वी पर अवतरित होकर अपनी ससुराल गए थे और वहां उनका स्वागत अर्घ्य और जलाभिषेक से किया गया था। माना जाता है कि प्रत्येक वर्ष सावन माह में भगवान शिव अपनी ससुराल आते हैं। भू-लोक वासियों के लिए शिव कृपा पाने का यह उत्तम समय होता है। 14 जुलाई से 10 अगस्त तक सावन महीने का सुनहरी समय है।


पूर्णिमा: कैसे करें सुबह की शुरुआत गुरु के दिन

बुधवार को गुरुपूर्णिमा है। इस दिन सुबह बिस्तर पर प्रार्थना करना ‘‘हे महान पूर्णिमा ! हे गुरुपूर्णिमा! इस देह की सम्पूर्ण असली आवश्यकता की तरफ हम आज से कदम रख रहे हैं। उसी समय ध्यान करना। शरीर बिस्तर छोड़े उसके पहले अपने प्रियतम को मिलना। गुरुदेव का मानसिक पूजन करना। 

होली आई रे ....सत्ता सुख लाई रे!

सद्मिलन,मित्रता, एकता, द्वेष भाव त्याग कर गले मिलने का रंगारंग पर्व होली,शुक्रवार 18 मार्च, को आ रहा है। इस वर्ष होली से पूर्व चुनावी रंग भी खूब खिल रहा है। जिन्हें विजय प्राप्ति और सत्ता प्राप्ति हुई है, उनके लिए होली के अवसर पर दिवाली भी मन रही है। पंजाब में होली पर बैसाखी का माहौल है क्योंकि पूर्णरुपेण, सत्ता स्थानान्तरण है।

होली आई रे ....सत्ता सुख लाई रे! अस्त गुरु कर सकते हैं कई किले अस्त, व्यस्त और ध्वस्त 19 फरवरी से,गुरु के अस्त होने से मार्च में विवाह के मुहूर्त नहीं क्या है वसंत पर पीले रंग का महत्व? कैसा रहेगा 2022 देश और आपके लिए ? 14 दिसंबर 2021 से 14 जनवरी 2022 तक खरमास में नहीं होंगे मांगलिक कार्य किसान आन्दोलन और कोरोना 12 अप्रैल, 2022 तक रहेंगे प्रभावी 580 साल बाद लगेगा, कार्तिक पूर्णिमा पर सबसे लंबा व अंतिम लाल चंद्रग्रहण 20 नवंबर को गुरु का कुंभ राशि में प्रवेश, बदलेगी देश व मौसम की दिशा और दशा अब शादियां ही शादियां कार्तिक पूर्णिमा पर साल का सबसे लंबा व अंतिम लाल चंद्रग्रहण 28 अक्तूबर को विशेष शुभ योग में करें जमकर खरीदारी क्यों विशेष है इस बार 24 अक्तूबर का करवा चौथ का व्रत ? शरद नवरात्र के बाद 19 अक्तूबर को शरद पूर्णिमा पर चमत्कारिक खीर को औषधि बना कर खाएं पूरे देश से आए ज्योतिषी: जीवन की परेशानियों से छुटकारा तो नहीं पर उपायों से इन पर काफी हद तक नियंत्रण : बीना शर्मा 9 दिन के शरद नवरात्रि इस बार 8 दिन में समाप्त श्राद्ध 20 सितंबर से 6 अक्तूबर तक परंतु 26 सितंबर को पितृपक्ष की तिथि नहीं हरियाली तीज 11 और नाग पंचमी 13 अगस्त को गुप्त नवरात्रि 11 जुलाई, रविवार से आरंभ अब इस कारण धामी की राह नहीं आसान सितम्बर माह में कोरोना की तीसरी लहर आने की संभावना:-ज्योतिषचार्य डॉक्टर कुमार अमर 21 जून को निर्जला एकादशी ,योग दिवस और सबसे लंबा दिन एक साथ ? क्या मंगल 20 जुलाई तक कर्क राशि में रह कर करेंगे अमंगल? 10 जून को शनैश्चर जयंती, ज्येष्ठ अमावस औेर सूर्यगहण एक साथ: कोरोना की रफतार पड़ती जाएगी धीमी शनि ने बदली चाल ,कैसा रहेगा देश दुनिया और अपना हाल ? पूर्ण चंद्र ग्रहण बुधवार 26 मई को उत्तर भारत की बजाय पूर्वोत्तर भारत में बहुत कम समय दिखाई देगा 2021 का प्रथम खग्रास चंद्रग्रहण 26 मई बुधवार को 14 मई ,शुक्रवार की अक्षय तृतीया इस बार अत्याधिक शुभ क्या कोरोना काल में क्वारेंटीन, सूतक- पातक जैसी पौराणिक मान्यताओं का आधुनिक रुप है? नव संवत 2078, नवरात्र, वैसाखी,13अप्रैल को, कुम्भ महापर्व हरिद्वार में 14 अप्रैल से