ENGLISH HINDI Thursday, January 20, 2022
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
मतदाताओं को सशक्त बनाने के लिए Koo App ने नए फीचर्स के साथ शुरू किया जागरूकता अभियानकू एप ने अपनाई स्वैच्छिक आचार संहिता, बढ़ाएगा चुनावी कानूनों और कार्यप्रणाली के प्रति यूजर्स का भरोसासिरा एंटरटेनमेंट ने रिलीज किया पैवी विर्क का सिंगल ट्रैक सोलमेटपंजाब विधानसभा चुनाव: पंजाब बचाओ संयुक्त मोर्चा का गठनपार्षद जसबीर सिंह बंटी ने गांव अटावा डिस्पेंसरी मे लगाया वैक्सीनैशन कैम्पमकर संक्रांति और गुरुपर्व के उपलक्ष्य में लगाया मीठी सेवियों और मैक्रोनी का लंगरआने वाली फिल्म अखियां उडीक दीयां का पोस्टर रिलीजसीएएन द्वारा 'तमाशा हिंदुस्तान का ' नाटक का सफल मंचन
अंतर्राष्ट्रीय

श्रीसैनी विश्व सुंदरी प्रतियोगिता में भाग लेने पहुंची

November 28, 2021 10:51 AM

राज सदोष

अबोहर: प्रथम ऐशियाई मिस व्लर्ड अमेरिका श्रीसैनी प्योर्टो रिको बंदरगाह क्षेत्र में 16 दिसंबर तक चलने वाली विश्वसुंदरी प्रतियोगिता में अमेरिका का प्रतिनिधित्व करने पहुंच गई है।

श्रीसैनी ने वहां पहुंचने के बाद अपने संदेश में कहा कि भगवान ने मुझे विश्व सुंदरी प्रतियोगिता के मंच तक पहुंचाया है। इस आशीर्वाद के प्रति आभार व्यक्त करने के लिये मेरे पास शब्द नहीं है। न केवल मेरे परिवार बल्कि दुनियां भर में मौजूद प्रशंसकों विशेष रूप से पंजाब व भारत के अन्य प्रदेशों में बसे लोगों ने मेरे प्रति आपार स्नेह व प्रोत्साहन जताया है।

अबोहर मूल की श्रीसैनी ने कहा कि मैं यहां करोडों अमेरिकियों व भारतीय विरासत का प्रतिनिधित्व करने आई हूं। बीते दस वर्षों में अनेक स्वयंसेवी संस्थाओं के साथ मैंने ईमानदारी से सामुदायिक सेवा अभियानों में सम्मिलत होने का प्रयास किया है। मैं शत प्रतिशत अमेरिकी और साथ ही भारतीय भी हूं।

यह पहला अवसर है कि भारत से अमेरिका में जा बसी किसी युवती को विश्व स्तरीय प्रतियोगिता में अमेरिका का प्रतिनिधित्व करने का सम्मान मिला है। हमारी बहुसांस्कृतिक विरासत को शिखर तक पहुंचाने में मैं पूरी ईमानदारी से जुटी रही हूं। मेरे निजि जीवन के संघर्ष ने एक गहरी सहानुभूति का उपहार दिया ताकि मैं जरूरतमंद बच्चों व अन्य वर्गों की सेवा कर सकूं। कोविड काल में भी मेरा जनसेवा अभियान जारी रहा।

यह पहला अवसर है कि भारत से अमेरिका में जा बसी किसी युवती को विश्व स्तरीय प्रतियोगिता में अमेरिका का प्रतिनिधित्व करने का सम्मान मिला है। हमारी बहुसांस्कृतिक विरासत को शिखर तक पहुंचाने में मैं पूरी ईमानदारी से जुटी रही हूं। मेरे निजि जीवन के संघर्ष ने एक गहरी सहानुभूति का उपहार दिया ताकि मैं जरूरतमंद बच्चों व अन्य वर्गों की सेवा कर सकूं। कोविड काल में भी मेरा जनसेवा अभियान जारी रहा।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और अंतर्राष्ट्रीय ख़बरें
24 घंटों में ही अपने बयान से पलट गए पाकिस्तान के मंत्री फवाद हुसैन वियतनाम में 35 की मौत, 50 से अधिक लापता विदेशों में भारत का पर्याय है हिंदी भारतीय सशस्त्र बलों की टुकड़ी ने लिया मॉस्को, रूस में विजय दिवस परेड में हिस्सा 'आर्ट विद हार्ट' के साथ विश्वपटल पर फैलती मधुबनी पेंटिंग दिल्ली में जन्मी, पंजाब में खेली, अमलनेर-अमेरिका में ब्याही डॉ. रश्मि पर टिकी कोरोना वैक्सीन तैयार करने की उम्मीद ब्रिटेन के सांसद तनमनजीत ढेसी को ‘न्यूकमर एम.पी. आफ द ईयर’ पुरुस्कार लेबर पार्टी ने यूके संसद मैंबर ढेसी को बनाया शैडो रेल मंत्री, पंजाबी कल्चरल कौंसिल ने दी बधाई पाकिस्तानी पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ को राजद्रोह मामले में फांसी की सजा जर्मनी और भारत ने कृषि बाजार विकास सहयोग के संयुक्त घोषणा पत्र पर हस्ताक्षर किये