ENGLISH HINDI Wednesday, May 29, 2024
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
दुल्हन की तरह सजाए जिला के मतदान केन्द्रकांग्रेसी उम्मीदवार डॉक्टर धर्मवीर गांधी के समर्थन में जनसभा का आयोजनशार्पनर ने लॉंच किया नया गाना "इंजीनियरिंग एंथम - सीढ़ी है छोटी और ख्वाब है बड़े"राजस्थान हाई कोर्ट का जिला कलेक्टर पाली को साक्ष्य अधिनियम के तहत सूचना देने का आदेशआचार्यकुल चण्डीगढ़ ने सम्मान समारोह आयोजित कियाजय केदार व हर-हर महादेव के जयकारों के बीच श्री केदारनाथ धाम के लिए राशन लदे 4 ट्रक रवानारमनजीत कौर चहल की संसद में हुई बतौर हिंदी व अंग्रेजी से पंजाबी लाइव स्पीच ट्रांसलेटर सिलेक्शनविख्यात खानदानी वैद्य हरभजन सिंह योगी की 80वीं वर्षगांठ पर आइस क्रीम का लंगर लगाया
पंजाब

वरिष्ठ पत्रकार जगीर सिंह जगतार का निधन

March 26, 2024 09:37 PM

बेटी डॉक्टर संकेत कौर ने दी मुखाग्नि, सैंकड़ों की संख्या में पहुंचे विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधियों ने किए श्रद्धासुमन भेंट

अखिलेश बंसल, बरनाला 

वरिष्ठ पत्रकार तथा साहित्यकारों एवम लेखकों की जन्मभूमि बरनाला की मां कहे जाते जगीर सिंह जगतार का मंगलवार की सुबह निधन हो गया। वह पिछले लंबे समय से शारीरिक तौर पर अस्वस्थ चल रहे थे। उनका संस्कार बरनाला के रामबाग शमशानघाट में साएं 5 बजे किया गया। मुखाग्नि बेटी डॉक्टर संकेत कौर ने दी और सैंकड़ों की संख्या में पहुंचे विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधियों ने श्रद्धासुमन भेंट किए।

लेखकों को दिया प्लेटफार्म

गौरतलब है कि वरिष्ठ पत्रकार जगीर सिंह जगतार ने लेख, स्टोरीज और पत्रकारिता का सफर स्कूली शिक्षा ग्रहण करते समय ही शुरू कर दिया था। लोकतांत्रिक विचारधारा के मद्देनजर उन्होंने नवां ज़माना, अकाली पत्रिका, पंजाबी ट्रिब्यून में अपनी सेवाएं अर्पित की। बरनाला के लेखकों साहित्यकारों कवियों के लिए बेहतरीन प्लेटफॉम त्यार करके दिया। इसी कारण पत्रकार जगीर सिंह जगतार को लेखकों साहित्यकारों कवियों की मां के नाम से संबोधन किया जाने लगा। उसी प्लेटफार्म पर बैठ सैंकड़ों लेखकों और पत्रकारों को उज्जवल भविष्य मिल सका।

राजनेता थे कलम के मुरीद

स्वर्गवासी भूतपूर्व राज्यपाल सुरजीत सिंह बरनाला, पूर्व मंत्री गोबिंद सिंह कांझला, पूर्व मंत्री पंडित सोम दत्त समेत अनेक राजनीतिक लोग पत्रकार जगीर सिंह जगतार की कलम के मुरीद रहे हैं।

भगत सिंह का स्टेच्यू किया था स्थापित

वरिष्ठ पत्रकार जगीर सिंह जगतार   संस्कार के वक्त रामबाग कमेटी के मुख्य प्रतिनिधि भारत मोदी, बरनाला के विभिन्न प्रेस क्लब प्रतिनिधी, नगर परिषद के पूर्व अध्यक्ष संजीव शोरी, लेखिका डॉक्टर तरसपाल कौर, आईटीओ अमरजीत खिप्पल, गौशाला के प्रतिनिधि एडवोकेट प्रदीप गोयल समेत बड़ी संख्या में लोगों ने श्रद्धासुमन भेंट किए।

 बरनाला के मुख्यबाजार में साल 2023 के आखिरी महीने तक कायम रहे शहीद भगत सिंह जी का स्टेच्यू लोकतांत्रिक विचारधारक जगीर सिंह जगतार ने अपने साथी प्रोफेसर प्रीतम सिंह राही के साथ मिलकर स्थापित किया था। जो इस साल की शुरुआत होते ही नवीनीकरण की भेंट चढ़ गया।

नम आंखों से विदाई

उनके संस्कार के वक्त रामबाग कमेटी के मुख्य प्रतिनिधि भारत मोदी, बरनाला के विभिन्न प्रेस क्लब प्रतिनिधी, नगर परिषद के पूर्व अध्यक्ष संजीव शोरी, लेखिका डॉक्टर तरसपाल कौर, आईटीओ अमरजीत खिप्पल, गौशाला के प्रतिनिधि एडवोकेट प्रदीप गोयल समेत बड़ी संख्या में लोगों ने श्रद्धासुमन भेंट किए।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
दुल्हन की तरह सजाए जिला के मतदान केन्द्र कांग्रेसी उम्मीदवार डॉक्टर धर्मवीर गांधी के समर्थन में जनसभा का आयोजन डेयरी की आड़ में गोवंश को बूचड़खाना भेजने के आरोपित के खिलाफ एफआईआर फिजियोथैरेपी एवं होम्योपैथी चिकित्सा परामर्श कैंप आयोजित दीपक चनारथल पंजाब के 50 शक्तिशाली व्यक्तियों में शामिल किसानों ने रुकवाई संगरूर के पत्रकार के घर की कुर्की जेल में भिड़े कैदी, दो की मौत-दो घायल, 10 के खिलाफ मामला दर्ज भारतीय सेना में तैनात अग्निवीर जवान सुखविंदर सिंह ड्यूटी के दौरान शहीद भारत-पाक बॅार्डर पर बैसाखी उत्सव की धूम : पाकिस्तानी भी भांगड़े व गिद्दे पर थिरके बरनाला के बहुचर्चित सन्नी हत्याकांड में आरोपित हुए बा-इज्जत बरी