ENGLISH HINDI Thursday, February 22, 2024
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
राष्ट्रीय

पर्ल ग्रुप के निदेशक हरचंद सिंह गिल गिरफ्तार

March 07, 2023 07:47 PM

 नई दिल्ली, फेस2न्यूज:

विदेश में रहने वाले भगोड़े लोगों को वापस लाने के लिए सीबीआई द्वारा शुरू किए गए ‘ऑपरेशन त्रिशूल’ के तहत गिल को फिजी से प्रत्यर्पित करके सोमवार देर रात देश लाया गया। सीबीआई का दावा है कि पिछले साल इस ऑपरेशन को शुरू किए जाने के बाद से लगभग 30 भगोड़ों को सफलतापूर्वक भारत लाया गया था।

केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने पर्ल ग्रुप के निदेशक हरचंद सिंह गिल को गिरफ्तार कर लिया है। गिल को पर्ल्स ग्रुप द्वारा कथित रूप से किए गए कई करोड़ रुपए के पोंजी घोटाले की जांच के तहत फिजी से भारत प्रत्यर्पित किया गया है।

एजेंसी ने आरोप लगाया है कि देशभर में निवेशकों को धोखा देकर कंपनी ने 60,000 करोड़ रुपये से अधिक धनराशि की ठगी की।

अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि विदेश में रहने वाले भगोड़े लोगों को वापस लाने के लिए सीबीआई द्वारा शुरू किए गए ‘ऑपरेशन त्रिशूल’ के तहत गिल को फिजी से प्रत्यर्पित करके सोमवार देर रात देश लाया गया। सीबीआई का दावा है कि पिछले साल इस ऑपरेशन को शुरू किए जाने के बाद से लगभग 30 भगोड़ों को सफलतापूर्वक भारत लाया गया था।

इस ऑपरेशन का उद्देश्य इंटरपोल की मदद से अपराधियों और भगोड़ों का पता लगाना और उन्हें वापस लाना है। एजेंसी ने 19 फरवरी, 2014 में करोड़ों निवेशकों को निवेश के बदले जमीन देकर ठगने के आरोप में पर्ल्स ग्रुप और उसके संस्थापक निर्मल सिंह भंगू के खिलाफ जांच शुरू की थी। एजेंसी ने आरोप लगाया है कि देशभर में निवेशकों को धोखा देकर कंपनी ने 60,000 करोड़ रुपये से अधिक धनराशि की ठगी की।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
झूठ व धोखेबाजी के कारण ही कांग्रेस को देश ने नकार दिया: प्रधानमंत्री आयकर विभाग द्वारा कांग्रेस पार्टी के बैंक खाते सीज, महज एक संयोग या दिल्ली का प्रयोग? महाराजा अग्रसेन पर आधारित धारावाहिक अग्रचरित्रम के पोस्टर का विमोचन सुप्रीम कोर्ट ने चुनावी बॉन्ड योजना को अवैध बताते हुए रद्द किया धूमधाम से मनाया गया महर्षि स्वामी दयानन्द का 200वां वर्ष जन्म दिवस महंतस्वामी जी महाराज ने भारत रत्न अडवानी जी को भेजी शुभकामनाएं जाँच से क्यों भाग रहे अरविंद केजरीवाल: अनुराग ठाकुर 8 एनसीसी ग्रुपों में चंडीगढ़ एनसीसी ग्रुप को पहले स्थान पर पुरस्कृत किया गया साक्ष्य अधीनियम के तहत सत्यापित प्रतिलिपि नहीं दिया, आयोग ने लगाया 25000 रूपये का जुर्माना राम लला की प्राण प्रतिष्ठा अवसर पर इंडियन मिलिट्री अकैडमी पहुंचे डिफेंस एकेडमी के छात्र