ENGLISH HINDI Sunday, April 21, 2024
Follow us on
 
संपादकीय

अगर रोटी नहीं पलटोगे तो जल जाएगी और सत्ता नहीं बदलोगे तो तानाशाह हो जाएगी...

September 24, 2023 10:21 AM

संजय कुमार मिश्रा

अगर रोटी नहीं पलटोगे तो जल जाएगी और सत्ता नहीं बदलोगे तो तानाशाह हो जाएगी ! - डॉ. राम मनोहर लोहिया का ये कथन आज मुझे बहुत याद आ रहा है क्योंकि संसद के विशेष सत्र के अंतिम दिन बीजेपी सांसद रमेश विधुरी के कृत्य ने मुझे ऐसा सोचने पर मजबूर कर दिया।

जो हेट स्पीच अबतक सड़क पर हो रही थी, उसे रमेश विधूरी ने संसद भवन के अंदर तक ला दिया, और ये नेक काम उस राजनीतिक पार्टी के सांसद का है जो अपने आपको एक मर्यादित पार्टी बताती है और पूरे विश्व में घूम घूम कर भारतीय संसद को मदर ऑफ डेमोक्रेसी कहती है। बात यहीं तक नहीं है, बीजेपी अपने ऐसे कई सांसद और विधायक के दम पर हिन्दुस्तान को विश्व गुरु तक का दर्जा दिलवाने जा रही है।

बीजेपी के 9 साल के शासन में उनके नेताओं के ऐसे बोल है आगे आगे पता नही और क्या क्या बोल सुनने को मिलेंगे। अभी बीते कुछ दिनों की ही बात है संसद में अशोभनीय आचरण के लिए विपक्ष के कई सांसद को निलंबित किया जा चुका है जैसे कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी, आप के संजय सिंह और राघव चड्ढा सहित एक टीएमसी के सांसद हैं। देखना दिलचस्प होगा की बीजेपी अपने सांसद रमेश विधुरी के खिलाफ कोई कार्रवाई करती है या वो नियम कानून को ताक पर रख देती है जिसका हवाला देकर विपक्ष के उपरोक्त सांसद को निलंबित किया गया था।

बीजेपी के 9 साल के शासन में उनके नेताओं के ऐसे बोल है आगे आगे पता नही और क्या क्या बोल सुनने को मिलेंगे। अभी बीते कुछ दिनों की ही बात है संसद में अशोभनीय आचरण के लिए विपक्ष के कई सांसद को निलंबित किया जा चुका है जैसे कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी, आप के संजय सिंह और राघव चड्ढा सहित एक टीएमसी के सांसद हैं। देखना दिलचस्प होगा की बीजेपी अपने सांसद रमेश विधुरी के खिलाफ कोई कार्रवाई करती है या वो नियम कानून को ताक पर रख देती है जिसका हवाला देकर विपक्ष के उपरोक्त सांसद को निलंबित किया गया था।

ज्ञात हो की बीजेपी सांसद रमेश विधुरी ने संसद के भीतर बहुजन समाज पार्टी के मुस्लिम सांसद दानिश अली को भड़वे और आतंकवादी तक बोला, यही नहीं विधुरि ने कहा, इस मुल्ले को तो बाहर में देख लूंगा। अपने सांसद रमेश विधुरी के सांसद में ऐसे गाली गलौज पर बीजेपी के दूसरे वरिष्ट नेता जैसे डॉक्टर हर्षवर्धन, रविशंकर प्रसाद खिलखिलाते दिखे, जो दर्शाता है की 9 साल के सत्ता सुख में ये बीजेपी नेता कितने निरंकुश और घमंडी हो चुके हैं।

बीजेपी नेता रमेश विधुरी के इस अनैतिक कृत्य के बारे में गोदी मीडिया खामोश एवं चुप है कही कोई खबर या डिबेट नहीं है। यही कृत्य अगर किसी विपक्षी नेता द्वारा किया गया होता तो समूचा गोदी मिडिया प्राईम टाईम पर ख़बर दिखा रहा होता और डिबेट चल रही होती ।

अब बीजेपी सांसद रमेश विधुरी के इस कृत्य के समर्थन में बीजेपी का पूरा आईटी सेल उतर गया है उसने विधूरि को सच्चा सनातनी और राष्ट्रवादी बताना शुरू कर दिया है और जो भी नेता, या पत्रकार इसके उलट बोलेगा उसे राष्ट्रद्रोही बोलना शुरू कर दिया जाएगा।

वैसे शुरूआती दौर में यानी 1990 के दशक में बीजेपी राम मंदिर, धारा 370 के मुद्दे पर चुनाव लड़ती थी अब शायद सारे मुद्दे समाप्त हो चुके हैं बचा है तो सिर्फ हिंदू मुस्लिम का मुद्दा। ये हिंदू मुस्लिम का मुद्दा, हिंदू राष्ट्र का मुद्दा उठाकर बीजेपी अंदरूनी राजनिति में चाहे जो लाभ उठाने का प्रयास कर रही हो, लेकिन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हिन्दुस्तान के साख को चोट पहुंचा रही है जिसे अब तक सेकुलर राष्ट्र के रूप में हमने बनाकर रखा था।

हिंदू राष्ट्र हिंदू राष्ट्र चिल्लाने का ही असर है की अब खालिस्तानी भी अपना अलग खालिस्तान की मांग को उठाने लगा है, और ये सिलसिला 2014 के बाद से शुरू हुआ, उसके पहले तक तो अलग खालिस्तान राष्ट्र की मांग कहीं दफन हो चुकी थी। भारत के किसान आंदोलन के समय सिक्ख समाज द्वारा किसानों को मदद एवं उनके लंगर को जिस तरह बीजेपी वालों ने खालिस्तानी एवं पाकिस्तानी मदद का शोर मचाया, उसका परिणाम है की खालिस्तान अब अपना नाम हवा में उड़ते सुनकर खुद को फिर से संगठित करने लगा है।

ये बीजेपी नेताओं के घमंड एवं अकड़ का ही नतीजा है की खालिस्तान के मुद्दे पर कनाडा सौहार्द्रपूर्ण बातचीत ना करके उसके साथ साथ उसके मित्र देश अमेरिका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया एवं न्यूजीलैंड से भी रिश्ते बिगड़ने की नौबत आ गई है जिसने बीजेपी का लेटेस्ट स्लोगन , वसुधैव कुटुंबकम् की भी धज्जियां उड़ा कर रख दी।

तभी तो डॉक्टर राम मनोहर लोहिया की ये बात ज्यादा याद आ रही है कि, अगर रोटी नहीं पलटोगे तो जल जाएगी और सत्ता नहीं बदलोगे तो वो तानाशाह और घमंडी हो जाएगी !

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें