ENGLISH HINDI Tuesday, April 23, 2024
Follow us on
 
जीवन शैली

फेस्टिव सीजन में खुद को रखें फिट: शहनाज़

October 19, 2023 02:41 PM

भाररत में त्यौहार लोगों के जीवन का अभिन्न हिस्सा हैं। त्‍योहारों का मौसम आनंद लेने, उत्‍सव मनाने और एकसाथ खुशनुमा पल बिताने का वक्‍त होता है। जब घर में तरह—तरह के लजीज पकवान भी बनते हैं। त्योहारों का सीजन चल रहा है नवरात्रि, धनतेरस, दीपावली और भाई दूज त्यौहारों के इस सीजन का सभी को पूरे साल इंतजार रहता है।
त्यौहार वे विशेष अवसर होते हैं जहां हम जीवन की सभी अच्छी चीजों का पूरे दिल से स्वाद लेते हैं। त्योहार आते ही मिठाइयां और तले हुए खाद्य पदार्थों को लेकर मन में लालच आना स्वाभाविक है। त्यौहार मतलब परिवार, दोस्तों के साथ मस्ती और बहुत सारी मिठाईया, बाहर का खाना और जंक फूड। ऐसे में अपने फिटनेस को ट्रैक पर रखना बहुत मुश्किल हो जाता है। ऊपर से जब आप वजन कम करने के लिए प्रयास कर रहें हैं
इन चीजों का अधिक मात्रा में सेवन करना न सिर्फ आपके वजन को बढ़ा सकता है, साथ ही इसके डायबटिक, रक्त चाप, दिल की बिमारियों पर कई प्रकार के अन्य दुष्प्रभाव होने का भी जोखिम रहता है। अगर आप अपने पसंदीदा मिठाई और ब्यंजनों से खुद को वंचित करना शुरू करते हैं तो ऐसा नहीं होना चाहिए।
अगर आप भी इस त्योहारी सीजन खुद को फिट रखने का प्लान बना रहे हैं कि कैसे मिठाईयों का स्वाद भी लिया जाए और सेहत पर भी कोई असर ना पड़ें तो आप कुछ तरीके अपना कर खुद को रख सकते हैं फिट—
1 संतुलित भोजन ग्रहण करें:
त्योहारी सीजन में घर में अनेक प्रकार के ब्यंजन, पकवान, मिठाइयां उपलब्ध होती हैं और ऐसे में अपने आप पर नियन्त्रण रख पाना मुश्किल हो जाता है। ऐसे में कोशिश करें कि ज्यादातर ग्लूटोन मुक्त पदार्थों का उपयोग करें। जहां तक सम्भव हो रागी, बाजरा, जौ आदि मोटे अनाज से बने बिस्किट, नमकीन और खाद्य पदार्थों का उपयोग करें। आजकल ग्लूटोन मुक्त और मोटे अनाज के खाद्य पदार्थों की मार्किट में भरमार है और यह स्वाद में भी अन्य पदार्थों से कतई कम नहीं हैं।
यदि आप मिठाई खाने के ज्यादा ही शौकीन हैं तो खजूर, शहद या किशमिश से बने पदार्थों को तरजीह दीजिये। इन पदार्थों को आप सीधे भी खा सकते हैं और ये चीनी या प्रोसेस्सेड खाद्य पदार्थों के मुकाबले कम नुकसान देंगे। इनसे मीठा खाने की ललक भी पूरी हो जाएगी और ये आपकी सेहत पर भारी भी नहीं पड़ेंगे। आप ऐसे पदार्थों का चयन कीजिये जिनमे प्रोटीन की मात्रा कम हो और ज्यादातर फलों ,हरी सब्ज़ियों का चयन कीजिये। इनसे त्योहारी सीजन में पर्याप्त पौषाहार मिलता है जो आपको दिन भर ऊर्जाबान बनाये रखता है। अगर आपको स्नैक्स खाने की ललक हो तो बादाम बीज, मेवे या दही को चुन सकते हैं। मुठीभर पिस्ता, मूंगफली और अखरोट आपकी भूख मिटाने के साथ ही आपकी डायबेटिक और दिल की धड़कन को भी नियन्त्रित रखेगी।
त्योहारी सीजन में बाजारी ब्यंजनों की लालसा को कम करने के लिए सब्ज़ियों और दही से बने ब्यंजनों पर फोकस करें।
प्रकृतिक आहार फाइबर, मिनरल और नुट्रिएंट से भरपूर होते हैं और इनके उपयोग से आपकी त्वचा में प्रकृतिक आभा बढ़ती है और आप त्योहारों में बिमारियों से दूर रहते हैं

2 हाइड्रेटेड रहें :
त्योहारों की भाग दौड़ में शरीर में पानी की कमी कतई न होने दें। शरीर में पर्याप्त पानी से शरीर से टॉक्सिन्स बाहर निकलेंगे। अपने शरीर में कैलोरी की मात्रा कम करने के लिए भी पर्याप्त मात्रा में पानी का सेवन अनिवार्य माना जाता है। पार्टियों के दौरान अल्कोहल और मिठाइयों के सेवन से शरीर में पानी की मात्रा कम हो जाती है। अगर आप अल्कोहल ले रहे हैं तो हर ड्रिंक के बीच में एक गिलास पानी जरूर लें। ड्रिंकिंग शुरू करने से एक घण्टा पहले कार्बोहायड्रेट का सेवन लाभदायक रहेगा। किसी भी पार्टी के शुरू होने से एक घण्टा पहले कुछ गिलास पानी पीने से आप को खाने की ललक कम होगी और आपका पाचन तन्त्र बेहतर तरीके से काम करेगा। पानी में कुछ निम्बू या पुदीने के पत्तियां इसे स्वादिष्ट बना देंगी।
उपयुक्त हाइड्रेशन से मेटाबोलिज्म, पाचन शक्ति सुदृड़ होती है और आपका एनर्जी स्तर उपर चला जाता है।
इस सीजन में चीनी से लदे ड्रिंक्स से परहेज बेहतर रहेगा तथा इसकी जगह आप हर्बल चाय, निम्बू, गर्म पानी जैसे स्वास्थ्य बर्धक पेय पर फोकस कर सकते है। शरीर को डेटॉक्स करने के लिए ग्रीन टी भी बेहतर बिकल्प माना जाता है।
3 योग और मैडिटेशन :
त्योहारी के इस सीजन में साल भर शरीर को दरुस्त रखने पर की गई मेहनत पर पानी फिर जाता है। देर रात तक जागने और सुबह देर से उठने पर ब्यायाम, कसरत, सुबह की सैर आदि सब भूल जाते हैं, जिससे मानसिक और शारीरिक थकान बढ़ जाती है और आदमी अपने आपको बीमार समझने लगता है। ऐसे में यह जरूरी है कि आप कम से कम तीस मिनट तक योग, ध्यान की दिनचर्या बनाये रखें और इससे आपका शरीर ऊर्जाबान बना रहेगा और त्योहारों का बेहतर तरीके से आनन्द उठा सकेंगे। तेज चाल से चलना, डांस और सक्रिय दिनचर्या आपकी सेहत के लिए बेहतर रहती है। शरीरिक श्रम से कैलोरीज कम होती हैं और आपका मूड भी बेहतर रहता है। यदि आप नज़दीकी स्टोर में शॉपिंग करने जा रहे हैं तो पैदल चलने को प्राथमिकता दे और गाड़ी, स्कूटर से परहेज करें। दिवाली की पार्टी में नाच, गान, डांडिया आदि में अपनी सक्रिय हिस्सेदारी रखें।
ज्यादातर त्योहारी पार्टियां रात के दौरान आयोजित होती हैं ऐसे में सुबह में आप अपना योग, ध्यान और एक्सरसाइज कर सकते हैं।
4 पर्याप्त नींद लें :
त्योहारी के इस मौसम में भाग दौड़ दौड़ समान्य बात है और ऐसे में ज्यादातर काम शाम के लिए ही रखे जाते हैं ताकि ऑफिस में कोई ब्यावधान न पड़े। इस सीजन में मार्किट पूरी तरह फुल रहती हैं जिससे अमूमन ज्यादा समय लगता है जिसकी बजह से आप घर लेट पहुंचते हैं। ऐसे में अगर आप पर्याप्त नींद नहीं ले पा रहे हैं तो आपका चेहरे पर थकान, तनाव साफ देखा जा सकता हैं। पर्याप्त नींद न लेने की बजह से बाल और त्वचा रूखी सुखी दिखने लगती है जिसका आपके ब्यक्तित्व पर सीधा असर पड़ता है।
त्यौहार के सीजन में हालाँकि पर्याप्त नींद लेना काफी मुश्किल होता है लेकिन यह बहुत जरूरी भी होती है / पर्याप्त नींद से शरीर तरो ताजा और उर्जाबान रहता है जोकि त्यौहार में बहुत जरूरी भी है। पर्याप्त नींद से पाचन प्रणाली मजबूत होती है और आपका दिल और दिमाग दोनों प्रसन्न रहते हैं जोकि त्यौहार को मनाने के लिए जरूरी हैं। पर्याप्त नींद आपके हार्मोन्स को रेगुलेट करके आपकी भूख को नियंत्रित रखती है जिससे आप ज्यादा खाने से बच सकते हैं।
5 अदब से न कहें :
त्योहारों में परम्परा के तौर एक दूसरे को खाना मिठाइयाँ खिलायी जाती हैं। लोक अक्सर ब्यंजन दूसरे की तरफ सरका देते हैं। अगर आप फुल हैं तो शालीनता के साथ ना कहने की हिम्मत रखें। आप को यह जानना चाहिए कि त्यौहार में परोसे गए हर ब्यंजन, पकवान और मिठाई का आप सेवन नहीं कर सकते। इसलिए केवल बही खाएं जिसे आपका दिल और दिमाग स्वीकार करे। यही आपको ना कहने में झिझक लगे तो आप यह कह दीजिये के थोड़ी देर बाद लेते हैं। इस तरह आप अपने मेजबान को नाराज़ भी नहीं करते और संभवतया वह आपको दुबारा मजबूर भी नहीं करेंगे।
— लेखिका अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त सौन्दर्य विशेष्ज्ञ है।

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और जीवन शैली ख़बरें